• Hindi News
  • Local
  • Rajasthan
  • Jaipur
  • 2 Lakh Rupees Cheated From The Sister On The Pretext Of Marriage Of A Young Man By Telling The Marriage Bureau Operator In Jaipur

दूल्हा बारात लेकर पहुंचा, दुल्हन परिवार समेत लापता:नाचते-गाते बारात पहुंची तो होटल में पसरा था सन्नाटा, बिचौलियों ने युवक की बहन से 2 लाख ऐंठे

जयपुर5 महीने पहले

शादी के नाम पर 2.11 लाख रुपए की ठगी का मामला सामने आया है। खुद को जयपुर में मैरिज ब्यूरो संचालक बताकर दूल्हे की बहन से रकम ऐंठी गई है। दूल्हा बारात लेकर होटल पहुंचा तो वहां सन्नाटा मिला। लड़के वालों ने शिकायत की तो बारात एक होटल में लेकर आने को कहा गया।

नाचते-गाते बाराती पहुंचे। वहां भी कोई नहीं मिला। दुल्हन से लेकर उसके परिजन और बिचौलिए लापता थे। इसके बाद दूल्हे की बहन ने बिचौलिए से संपर्क करने की कोशिश की। उनका मोबाइल बंद मिला। यह घटना 20 जुलाई की है। सोमवार को कानोता थाने में दूल्हे की बहन ने 3 लोगों के खिलाफ FIR कराई है।

नहीं हो रही थी भाई की शादी
जमवारामगढ़ में रहने वाली गुड्‌डी देवी ने रिपोर्ट में बताया कि उसके भाई कजोड़ जांगिड़ की शादी नहीं हो रही थी। वे कई साल से लड़की तलाश कर रहे थे। इसी दौरान उसकी मुलाकात गांव के गंगाराम से हुई। उसने कानोता में कृष्णा होटल में सर्व समाज सामूहिक विवाह सम्मेलन में विवाह करवाए जाने की जानकारी दी। गुड्डी परिवार के सदस्यों के साथ होटल कृष्णा पहुंची। वहां पीड़ित परिवार की मुलाकात गायत्री देवी, श्रवण सिंह और राहुल जांगिड़ से हुई। उन्होंने बताया कि वे मैरिज ब्यूरो चलाते हैं।

ढाई लाख रुपए बताया खर्च
गायत्री देवी, श्रवण सिंह और राहुल जांगिड़ ने गुड्डी को बताया कि वे लोग कई अविवाहित लड़के व लड़कियों की शादी करवा चुके हैं। उन तीनों ने गुड्डी को भी उसके भाई की शादी करवाने का आश्वासन दिया। विवाह के लिए करीब ढाई लाख रुपए खर्च आना बताया। फिर रजिस्ट्रेशन शुल्क और अन्य खर्च बताकर एडवांस 2.11 लाख रुपए जमा कर लिए। उन्होंने गुड्डी देवी और उसके भाई कजोड़ को होटल में मौजूद कुछ लड़कियां दिखाई। उनमें से एक लड़की कजोड़ और उसके परिवार को पसंद आ गई।

20 जुलाई को बारात लेकर एक बगीची में बुलाया

गुड्‌डी ने बताया कि 20 जुलाई को लूनियावास स्थित हनुमान मंदिर बगीची में बारात लाने की बात कही गई थी। तय तारीख पर गुड्डी देवी अपने भाई कजोड़ की बारात लेकर बगीची पहुंची। वहां पर कोई मौजूद नहीं मिला। गेट पर ताला लगा था। वहां न कोई सजावट थी, न ही कोई व्यवस्था। यह देखकर परिवार हैरान रह गया।

गुड्डी देवी ने गायत्री देवी को फोन किया। गायत्री देवी ने बारात कानोता में ही कृष्णा होटल लेकर आने की बात कही। गुड्‌डी भाई की बारात लेकर कृष्णा होटल पहुंची। वहां भी कोई व्यक्ति नहीं मिला। जब गुड्डी देवी ने गायत्री देवी, श्रवण सिंह और राहुल जांगिड़ से फोन पर संपर्क करने का प्रयास किया तो उनका मोबाइल फोन बंद आने लगा। बिना शादी ही दूल्हा लौट गया।

रकम का चेक सौंपा, जो बाउंस हो गया
पीड़ित पक्ष ने श्रवण सिंह और राहुल जांगिड़ के घर पहुंचकर बातचीत की। उन्होंने दूसरी जगह शादी करवाने की बात कही। गुड्‌डी और उसके परिवार ने इनकार कर दिया। वे रकम लौटाने की बात पर अड़ गए। तब श्रवण और राहुल ने उनको 2.11 लाख रुपए की रकम के दो चेक दे दिए। चेक भी बाउंस हो गए। तब जाकर गुड्‌डी ने कानोता थाने में रिपोर्ट दर्ज करवाने की कोशिश की। पुलिस ने रिपोर्ट नहीं ली। आखिरकार कोर्ट की शरण लेनी पड़ी। इसके बाद रिपोर्ट दर्ज हो पाई।