29 अगस्त से 2 अक्टूबर तक होंगे ग्रामीण ओलंपिक:15 से 70 साल के 27 लाख खिलाड़ियों होंगे शामिल, 44 हजार गावों में होगा आयोजन

जयपुर3 महीने पहले
फाइल फोटो। - Dainik Bhaskar
फाइल फोटो।

दुनियाभर में पहली बार 29 अगस्त से 2 अक्टूबर तक राजस्थान में ग्रामीण ओलंपिक का आयोजन किया जाएगा। शनिवार रात राज्य सरकार ने ग्रामीण ओलपिंक की तारीख का ऐलान किया। 35 दिन तक चलने वाले ग्रामीण ओलंपिक में 15 साल से 70 साल के 27 लाख से ज्यादा खिलाड़ी शामिल होंगे। जिसमें कबड्डी, शूटिंग, बॉलीबॉल, टेनिस बॉल से क्रिकेट, खो-खो, वॉलीबॉल और हॉकी खेल प्रतियोगिताओं का आयोजन होगा। बता दें कि राजस्थान में होने वाले इस पूरे आयोजन में राज्य सरकार द्वारा 40 करोड़ रुपए खर्च किए जाएंगे।

44 हजार गावों में होगा आयोजन
ग्रामीण ओलंपिक खेलों का आयोजन गांव, ग्राम पंचायत और ब्लॉक स्तर पर किया जाएगा। जिसमें प्रदेश के 44 हजार 795 गांव और 11 हजार 341 ग्राम पंचायत और 352 ब्लॉक स्तर पर इन खेलों का आयोजन किया जाएगा। ग्रामीण ओलंपिक खेल दो फेज में आयोजित होगा। जिसमें पहले फेज में ग्राम पंचायत स्तरीय खेल प्रतियोगिताएं होंगी। जबकि दूसरे फेज में ब्लॉक स्तरीय खेल प्रतियोगिताओं का आयोजन किया जाएगा। ग्रामीण ओलंपिक में कबड्डी, वॉलीबॉल, हॉकी, शूटिंग वॉलीबॉल, खो-खो और टेनिस बॉल क्रिकेट प्रतियोगिता का आयोजन किया जाएगा। जिसमें पुरुष और महिला दोनों श्रेणियों में मुकाबले होंगे।

गांव की प्रतिभा को मिलेगा मंच
खेल मंत्री अशोक चांदना ने बताया कि प्रदेश के ग्रामीण इलाकों में छिपी खिलाड़ियों की प्रतिभा को तलाशने के लिए ग्रामीण ओलिंपिक का आयोजन किया जा रहा है। इसमें बिना किसी उम्र के बंधन के हर आयु वर्ग का व्यक्ति शामिल हो सकता है। इसमें श्रेष्ठ प्रदर्शन करने पर खिलाड़ियों को पुरस्कार और सर्टिफिकेट भी दिए जाएंगे। खेल मंत्री ने बताया की अब तक करीब 27 लाख से ज्यादा रजिस्ट्रेशन हो चुके हैं।

पहले ग्रामीण ओलिंपिक का आयोजन 14 नवम्बर से किया जाना था। लेकिन तब अधिकारी-कर्मचारी इस समय प्रशासन गांवों और शहरों के संग अभियान में जुटे हैं। वहीं इसके बाद कोरोना की वजह से ग्रामीण ओलिंपिक के आयोजन में देरी हो गई है। लेकिन अब अगस्त में दुनिया के इतिहास में पहली बार राजस्थान में अनूठे आयोजन की शुरुवात कर दी जाएगी। जिसकी तैयारियां शुरू कर दी गई है।