• Hindi News
  • Local
  • Rajasthan
  • Jaipur
  • 34 year old Thug Businessman By Doing Mimicry, Duping Politicians, Calls From Control Room With Officer's Numbers, Grabs Crores Of Rupees From More Than A Hundred People

मिमिक्री कर ठगने वाला 8वीं पास:राजनेताओं और अधिकारियों की आवाज निकालकर व्यापारियों से करोड़ों ठगे, 100 से ज्यादा लोगों को बना चुका शिकार

जयपुरएक महीने पहले
  • कॉपी लिंक
पुलिस गिरफ्त में आरोपी। - Dainik Bhaskar
पुलिस गिरफ्त में आरोपी।

राजस्थान में एक 8वीं पास बदमाश मिमिक्री कर ठगी कर रहा था। जयपुर पुलिस ने ठग को ब्यावर से गिरफ्तार किया है। जांच में सामने आया कि आरोपी ठग मजिस्ट्रेट, पुलिस अधिकारी तो कभी राजनेता की हूबहू आवाजें निकालकर लोगों से 10 से 35 लाख रुपए एक बार में ठग लेता है। आरोपी अब तक 100 से ज्यादा लोगों से करोड़ों रुपए की ठगी कर चुका है। माणक पुलिस ने उसे 5 दिन के पुलिस रिमांड पर लिया है।

माणक चौक थानाधिकारी सुरेंद्र यादव ने बताया कि सुरेश कुमार घांची उर्फ भैराराम (34) निवासी रजतसागर रामदेव रोड पाली को अजमेर जिले के ब्यावर से गिरफ्तार किया है। 7 सितंबर को सर्राफा ट्रेडर्स कमेटी के जयपुर अध्यक्ष व ज्वैलर्स कैलाश मित्तल के नंबर पर कॉल किया था। आरोपी ने कैलाश मित्तल को माणक चौक इंचार्ज सुरेंद्र यादव के नाम से फोन किया था। उनकी आवाज निकाल कर ज्वैलर्स से बहुत जरूरी काम बता कर 3.50 लाख रुपए मांगे। पहले तो कैलाश भी रुपए मांगने की बात सुनकर सोच में पड़ गए। फिर उन्होंने रुपए भेज दिए। कुछ दिनों के बाद उन्होंने थानाधिकारी से बात की तो पूरा मामला सामने आया। पुलिस ने मोबाइल नंबर की डिटेल लेकर आरोपी की लोकेशन निकाली। उसे अजमेर के ब्यावर से गिरफ्तार कर लिया।

15 दिन पहले ही जेल से छूटा
जांच में पता लगा कि बांसवाड़ा में भी सुरेश ने मिमिक्री करके बिजनेसमैन से 35 लाख रुपए हड़प लिए थे। बिजनेसमैन की शिकायत पर पुलिस ने सुरेश को गिरफ्तार कर लिया था। 13 महीने तक वह जेल में बंद रहा। 15 दिन पहले ही जमानत पर छूट कर आया था। जेल से बाहर आने के बाद उसे रुपयों की जरूरत पड़ी तो उसने जयपुर में ज्वैलर्स को ठगने की योजना बना डाली।

करोड़ों रुपए लोगों से ठग चुका
पुलिस की पूछताछ में सुरेश के ठगी के खुलासे हो रहे हैं। वह केवल आठवीं तक पढ़ा हुआ है, लेकिन अंग्रेजी में लोगों से बात कर झांसे में ले लेता है। ज्वैलर्स से जयपुर में ठगी का मामला सामने आने पर कई लोगों को ठग का पता लगा। जयपुर में भी 10 से अधिक और राजस्थान में 100 से ज्यादा व्यापारियों से अधिकारी व मजिस्ट्रेट बनकर ठगी कर चुका है। इसके खिलाफ अभी राजस्थान में 60 से अधिक मामले दर्ज हो चुके हैं। पुलिस की एक टीम पाली व जोधपुर में उसके घर जाकर सर्च करेगी।

खबरें और भी हैं...