पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

इंंटरेस्टिंग:35 पार्षदों की नजर दूसरे वार्डों पर, 10 चुनाव लड़ना नहीं चाहते

जयपुर8 महीने पहले
  • कॉपी लिंक

निवर्तमान बोर्ड में 91 पार्षद थे, अब दो निगमों में 250 पार्षद चुने जाएंगे। देखना ये है कि परिसीमन के बाद बने हाात में टिकट किसे मिलता है। फिलहाल, लॉटरी निकलने के बाद 91 में से 53 निवर्तमान पार्षदों पर ज्यादा असर पड़ा। इनकी जमीन खिसक गई।

इसके चलते 35 निवर्तमान पार्षदों की नजर, नजदीकी एवं दूसरे वार्डों पर टिकी हुई है। 8 पूर्व पार्षद रिश्तेदारों के लिए सीट मांग रहे हैं। 10 पूर्व पार्षदों ने तो चुनाव में नहीं उतरने का मानस बना लिया है। कई ऐसे भी है तो पार्टी टिकट देगी तो ही मैदान में उतरेंगे। दो-तीन बगावती तेवर भी अपनाए हुए हैं।

खबरें और भी हैं...