• Hindi News
  • Local
  • Rajasthan
  • Jaipur
  • 5 Inches Of Rain In Nokh In Jaisalmer And Jaswantpura In Jalore; Opened The Gates Of Kalisindh, Kota Barrage, Mahi Dams; The Gauge Of Bisalpur Is 12 Cm. Increased

रेगिस्तान में जमकर हुई बारिश:जैसलमेर के नोख और जालौर के जसवंतपुरा में 5 इंच बारिश; कालीसिंध, कोटा बैराज, माही बांधों के गेट खोले; सप्ताह भर भारी बारिश की चेतावनी

जयपुर4 महीने पहले

राजस्थान में मानसून के अंतिम दौर में पश्चिमी राजस्थान में जमकर बारिश हो रही है। जालौर, जैसलमेर, सिरोही, बीकानेर, बाड़मेर, जोधपुर समेत कई जगहों पर भारी बारिश हुई। दक्षिण राजस्थान के जिलों में भी तेज बारिश के बाद बांधों में पानी आना शुरू हो गया। झालावाड़ के कालीसिंध, बांसवाड़ा के माही, कोटा के कोटा बैराज समेत कई छोटे-बड़े बांधों के गेट खोल दिए गए हैं।

पाली, अजमेर, जयपुर, टोंक की जनता के लिए राहत की खबर है। बीसलपुर और जवाई बांध का जलस्तर लगातार बढ़ रहा है। बीसलपुर बांध का गेज पिछले 24 घंटे के दौरान 12 सेमी. बढ़ गया है।

पिछले 24 घंटे में सबसे ज्यादा बारिश रेगिस्तानी क्षेत्र जैसलमेर के नोख में हुई। यहां 130MM (5 इंच) बारिश दर्ज हुई। इसी तरह जालौर के जसवंतपुरा, सायला, पाली के काना और सिरोही के माउंट आबू में 4 से 5 इंच के बीच बारिश हुई। मध्य प्रदेश और राजस्थान के दक्षिणी क्षेत्र में अच्छी बारिश के बाद बांसवाड़ा के माही बांध में पिछले 3 दिन के अंदर 45 हजार मिलियन क्यूबिक से भी ज्यादा पानी की आवक हुई है। बांध ओवर फ्लो हो गया, जिसके बाद बांध के सभी 16 गेट खोलकर 1.28 टीएमसी पानी छोड़ा गया।

भीलवाड़ा में तेज बारिश के बाद बांध में पानी की आवक हुई है।
भीलवाड़ा में तेज बारिश के बाद बांध में पानी की आवक हुई है।
बीकानेर जिले में बारिश के बाद भरा पानी।
बीकानेर जिले में बारिश के बाद भरा पानी।

उमस-गर्मी से मिली राहत, किसानों के चेहरे खिले
पश्चिमी राजस्थान के जैसलमेर, जालौर, बाड़मेर, बीकानेर, चूरू क्षेत्र में गर्मी और उमस से परेशान लोगों को बारिश से राहत मिली है। झुंझुनूं के पिलानी क्षेत्र में मंगलवार रात अच्छी बारिश हुई। चूरू में 42MM बारिश होने से लोगों को राहत मिली। वहीं, सूखे की मार झेल रहे बीकानेर के कोलायत, नोखा, लूनकरणसर, जोधपुर के बिलाड़ा, पीपाड़सिटी, बाप, लोहावट समेत कई जगह अच्छी बारिश होने के बाद किसानों ने राहत की सांस ली।

जगहबारिश (MM)
कुशलगढ़ (बांसवाड़ा)64
सलोपत41
गिड़ा (बाड़मेर)67
पचपदरा36
बायतू35
करेड़ा (भीलवाड़ा)95
रायपुर71
कोलायत (बीकानेर)76
नोखा36
बेंगू (चित्तौड़गढ़)36
चूरू42
नोख (जैसलमेर)130
रामगढ़25
जसवंतपुरा (जालौर)126
सायला121
नवलगढ़ (झुंझुनूं)57
उदयपुरवाटी48
सूरजगढ़38
पीपाड़सिटी (जोधपुर)73
बिलाड़ा70
बाप49
लोहावट41
काना बांध (पाली)100
रायपुर लूनी96
जैतारण57
कांतलिया47
देसूरी46
धरियावाद (प्रतापगढ़)56
अरनोद40
देवगढ़ (राजसमंद)38
माउंट आबू (सिरोही)110
कैर79
आबूरोड34
सलूंबर (उदयपुर)77
सारदा48
उदयपुर क्षेत्र में तेज बारिश के बीच जाते लोग।
उदयपुर क्षेत्र में तेज बारिश के बीच जाते लोग।
रावतभाटा में तेज बारिश के बाद नाले का पानी पुलिया के ऊपर से बहने लगा। ऐसे में जान जोखिम में डालकर लोग पुलिया पार कर रहे हैं।
रावतभाटा में तेज बारिश के बाद नाले का पानी पुलिया के ऊपर से बहने लगा। ऐसे में जान जोखिम में डालकर लोग पुलिया पार कर रहे हैं।

बीसलपुर का गेज 24 घंटे में 12 सेमी. बढ़ा, जवाई में भी आया पानी
जयपुर, अजमेर और टोंक की करीब 1 करोड़ जनता के लिए पीने के पानी की प्यास बुझाने वाले बीसलपुर बांध से भी अच्छी खबर है। यहां बांध में लगातार पानी की आवक हो रही है। बीते 24 घंटे के दौरान बांध में जलस्तर (गेज) 12 सेमी. बढ़ गया। यहां बांध का लेवल अब 311.17 आरएल मीटर पर पहुंच गया है। बांध पर नियुक्त एक्सईएन मनीष बंसल ने बताया कि बांध के कैचमेंट एरिया में बारिश होने और त्रिवेणी नदी से तेजी से पानी आ रहा है। उन्होंने बताया कि वर्तमान में त्रिवेणी 3.80 मीटर पर बह रही है, जिसके कारण बांध में 2260 क्यूसेक पानी आ रहा है।

इसी तरह पाली जिले के जैतारण क्षेत्र में 54MM, काणा बांध क्षेत्र में 100MM, रायपुर लूणी बांध क्षेत्र में 96MM बारिश होने से यहां आस-पास के छोटे-बड़े बांधों में पानी आया है। सबसे प्रमुख बांध जवाई में भी पानी आने से गेज 16.20 फीट (1028.40 mcft) पर पहुंच गया। वहीं सेई बांध गेज 2.75 मीटर (433.35 mcft) तक पानी पहुंच गया।

पाली में बारिश के बाद सड़कों पर पानी भर गया। इससे वाहन चालकों को परेशानी का सामना करना पर रहा है।
पाली में बारिश के बाद सड़कों पर पानी भर गया। इससे वाहन चालकों को परेशानी का सामना करना पर रहा है।

अगले सप्ताह तक होगी बारिश
जयपुर मौसम विभाग के मुताबिक पूर्वी राजस्थान के अधिकतर भागों में आगामी एक सप्ताह के दौरान मानसून की गतिविधियां जारी रहेगी। पश्चिमी राजस्थान के जोधपुर और बीकानेर संभाग के अधिकतर भागों में 24 सितंबर को बादल गरजने के साथ बारिश की गतिविधियां जारी रहने की चेतावनी है। 24 सितंबर बाद पश्चिमी राजस्थान में बारिश की कमी होने के आसार है। इसी तरह पूर्वी उदयपुर संभाग में इस सप्ताह के अंत तक बारिश का दौर जारी रहेगा।

खबरें और भी हैं...