पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें
  • Hindi News
  • Local
  • Rajasthan
  • Jaipur
  • 50 Percent Black Fungus Infection Cases Only In Jaipur In All Rajasthan, In Jaipur 1054 Infected, 44 People Died, Surgery Was Done In 535 Cases

राजस्थान में तीन गुना रफ्तार से बढ़ा ब्लैक फंगस:प्रदेश में 50% केस सिर्फ जयपुर में, अब तक 1054 संक्रमित, इनमें 44 लोगों ने दम तोड़ा, 535 केसों में हुई सर्जरी

जयपुर2 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
राजस्थान में ब्लैक फंगस तीन गुना रफ्तार से बढ़ रहा है। यहां राजधानी जयपुर में सबसे ज्यादा केस सामने आ रहे हैं। - Dainik Bhaskar
राजस्थान में ब्लैक फंगस तीन गुना रफ्तार से बढ़ रहा है। यहां राजधानी जयपुर में सबसे ज्यादा केस सामने आ रहे हैं।

राजस्थान में कोरोना वायरस का प्रकोप कम होने के साथ ही अब ब्लैक फंगस चुनौती बन गया है। यहां करीब 2400 से ज्यादा केस सामने आ चुके हैं। इनमें अकेले 50% केस राजधानी जयपुर में सामने आए हैं। CMHO के मुताबिक जयपुर में अब तक ब्लैक फंगस से संक्रमण के अब तक 1054 मामले सामने आए हैं। इनमें 44 लोगों की जयपुर में मौत भी हो चुकी है। यहां विभिन्न अस्पतालों में करीब 535 लोगों की सर्जरी की गई है। इसके अलावा 426 लोगों को डिस्चार्ज कर दिया गया है।

आंकड़ों के मुताबिक, जयपुर में ब्लैक फंगस का शिकार हुए 104 लोग ऐसे हैं जो कि कोरोना पॉजिटिव हुए थे। कोरोना संक्रमण के उपचार के साथ ही वे ब्लैक फंगस के भी शिकार हो गए। केस स्टडी में सामने आया कि जयपुर में करीब 752 लोग ऐसे हैं जो कोरोना से रिकवर होने के बाद निगेटिव रिपोर्ट आने पर ब्लैक फंगस से संक्रमित हुए।

पहले ऑक्सीजन और अब ब्लैक फंगस के लिए पर्याप्त इंजेक्शन नहीं दे रही केंद्र सरकार
रविवार को कोरोना को लेकर जयपुर कलेक्ट्रेट में हुई कोरोना समीक्षा को लेकर एग्रीकल्चर मंत्री लालचंद कटारिया ने सभी विभागों के अफसरों की मीटिंग ली। इस बैठक में मौजूद परिवहन मंत्री प्रताप सिंह खाचरियावास ने कहा कि राजस्थान में अब ब्लेक फंगस की दिक्कत ज्यादा बड़ी हो गई है। यह बीमारी हमारे प्रदेश के लिए चुनौती बन गई है।

एक-एक मरीज को 60 से 70 इंजेक्शनों की जरूरत पड़ रही है। हम 40 हजार का इंजेक्शन फ्री दे रहे हैं। इलाज फ्री कर रहे हैं। लेकिन इतनी बड़ी तादात में हमारे पास इंजेक्शन नहीं है। इसके लिए राजस्थान सरकार पूरी केंद्र पर निर्भर है। इसलिए केंद्र सरकार से उम्मीद करते हैं कि हमें ज्यादा से ज्यादा इंजेक्शन उपलब्ध करवाए।

परिवहन मंत्री प्रताप सिंह खाचरियावास ने आरोप लगाते हुए कहा कि हम जब ऑक्सीजन, वैक्सीन और रेमडेसिविर के और ब्लैक फंगस के इंजेक्शन मांगते हैं तब केंद्रीय नेता गलत बयानबाजी करते हैं। ब्लैक फंगस को सबसे पहले राजस्थान ने महामारी घोषित किया। चिरंजीवी बीमा योजना बना दी है। जो निजी अस्पताल इसकी अवहेलना कर रहे हैं। उनके खिलाफ कार्रवाई की जा रही है।

देश में सबसे ज्यादा ब्लैक फंगस के मरीज राजस्थान में, कल भी विशेष विमान से 5550 वायल मंगवाई
आपको बता दें कि राजस्थान में ब्लैक फंगस के पिछले 8 दिनों में 1600 रोगी बढ़े हैं। यह देश में सबसे तेज बढ़ता हुआ आंकड़ा है। अचानक तेजी से ब्लैक फंगस के रोगी बढ़ने पर राजस्थान सरकार ने शनिवार को दो विशेष विमान से ब्लैक फंगस के उपचार के लिए 5550 इंजेक्शन मंगवाए। ब्लैक फंगस के उपचार के लिए सबसे ज्यादा वायल खरीदने वाला देश में राजस्थान एक मात्र राज्य है। राज्य सरकार ने अब तक 60 हजार वायल का ऑर्डर दिया है। प्रदेश के चिकित्सा मंत्री डॉ. रघु शर्मा ने बताया कि केंद्र ने हमें पिछले 11 मई से 3 जून यानी 23 दिन में सिर्फ 16 हजार इंजेक्शन भेजे हैं।

खबरें और भी हैं...