• Hindi News
  • Local
  • Rajasthan
  • Jaipur
  • 56 Percent Young Graduates Do Not Have Jobs In The State, Rajasthan Ranks Second In The Country With 24.59 Percent Unemployment

सीएमआईई रिपोर्ट:प्रदेश में 56 प्रतिशत युवा ग्रेजुएट्स के पास नौकरी नहीं, 24.59 प्रतिशत बेरोजगारी के साथ राजस्थान, देश में दूसरे स्थान पर

जयपुर8 महीने पहलेलेखक: देवपालिक गुप्ता
  • कॉपी लिंक
20 से 24 वर्ष की आयु सीमा की 98.06% महिलाओं के पास नौकरी नहीं है। साथ ही शहरी आबादी, ग्रामीणों की तुलना में अधिक बेरोजगार है।  - Dainik Bhaskar
20 से 24 वर्ष की आयु सीमा की 98.06% महिलाओं के पास नौकरी नहीं है। साथ ही शहरी आबादी, ग्रामीणों की तुलना में अधिक बेरोजगार है। 

सीएमआईई ने अपनी बेरोजगारी दर रिपोेर्ट (मई-अगस्त-2021) जारी की है। रिपोर्ट के मुताबिक राज्य में 55.75% ग्रेजुएट व हायर एजुकेशन वाले युवा बेरोजगार हैं। जबकि पूरे देश में यह आंकड़ा 20.21% है। वहीं ओवरऑल बेरोजगारी के मामले में राजस्थान, हरियाणा के बाद सबसे अधिक बेरोजगारी वाला राज्य है।

हरियाणा की बेरोजगारी दर 30.03% है जबकि राजस्थान में बेरोजगारी दर 24.59% है। बेरोजगारी में 20% का आंकड़ा पार करने वाले राज्यों में सिर्फ राजस्थान और हरियाणा ही हैं। साथ ही राजस्थान में पिछले एक साल से औसत बेरोजगारी दर 23.33% है।

अशिक्षित बेरोजगारी भी अधिक
समीपवर्ती राज्य पंजाब, हरियाणा, उत्तर प्रदेश, एमपी व गुजरात से तुलना करें तो राज्य में अशिक्षित बेरोजगारी दर भी सबसे अधिक है। 28.06% अशिक्षित युवाओं के पास कोई नौकरी नहीं है। एमपी व गुजरात में 0 फीसदी बेरोजगारी दर है अशिक्षित लोगों की, यूपी में यह 1.13 फीसदी है।

ग्रामीणों की तुलना में शहरी आबादी के पास रोजगार कम
बेरोजगारी के मामले में महिलाओं की संख्या सबसे अधिक चिंताजनक है। 65.3% महिलाओं के पास नौकरी नहीं है। वहीं 20 से 24 वर्ष की आयु सीमा की 98.06% महिलाओं के पास नौकरी नहीं है। साथ ही शहरी आबादी, ग्रामीणों की तुलना में अधिक बेरोजगार है।

कुछ युवा ऐसे हैं भी हैं जो किसी नौकरी की योग्यता तो रखते हैं लेकिन जॉब की तलाश में नहीं हैं। अगर इन्हें भी शामिल किया जाए तो यह प्रतिशत और अधिक होगा। (आयु सीमा वर्ष में)