• Hindi News
  • Local
  • Rajasthan
  • Jaipur
  • 629 New Cases In The State Today, On March 22 Night Curfew Was Imposed In The State, Then 602 Cases Had Come; The Recovery Rate Reached Above 97 Percent

राजस्थान में कोरोना पर अच्छी खबर:24 घंटे में मिले 629 नए संक्रमित, 22 मार्च को प्रदेश में नाइट कर्फ्यू लगा था तब 602 केस आए थे; रिकवरी रेट 97 फीसदी के ऊपर पहुंची

जयपुर6 महीने पहले
  • कॉपी लिंक

कोरोना के लिहाज से राजस्थान के लिए अच्छी खबर है। राज्य में सोमवार को 629 नए संक्रमित केस मिले हैं। 22 मार्च को राज्य में जब 602 केस आए थे, तब सरकार ने 8 शहरों में नाइट कर्फ्यू लगाकर कोरोना को कंट्रोल करने का प्रयास शुरू किया था। आज राज्य वहीं स्थिति पर आ गया है। इसी तरह संक्रमण कम होता गया तो उम्मीद की जाती है कि जल्द ही सरकार लॉकडाउन में और ढील दे।

चिकित्सा एवं स्वास्थ्य विभाग की रिपोर्ट के मुताबिक, आज किसी भी जिले में 75 से ज्यादा केस नहीं आए। कोरोना काल में लंबे 23 मार्च पहला ऐसा दिन है, जब राज्य के किसी भी जिले में 100 अधिक केस नहीं आए हो। हालांकि मौत के मामले में अब भी स्थिति खराब है। आज कोरोना से 31 लोगों की मौत हुई है।

आज जिलेवार स्थिति देखें तो सबसे ज्यादा 75 केस जयपुर में मिले हैं। जयपुर में इस बीमारी से आज 10 लोगों की जान चली गई। जयपुर के अलावा हनुमानगढ़ एकमात्र ऐसा जिला है जहां 50 से ज्यादा केस आए हैं। इसके अलावा शेष 31 जिलों में 50 से कम नये मरीज मिले हैं।

97 फीसदी के पार पहुंची रिकवरी रेट
राज्य में जहां कोरोना के नए मरीजों की में धीरे-धीरे कमी आती जा ही है, वहीं रिकवर मरीज बढ़ रहे हैं। आज 3,429 मरीज इस बीमारी से ठीक हुए हैं, जिसके बाद प्रदेश की रिकवरी रेट 97 फीसदी के पार पहुंच गए। वर्तमान में पूरे प्रदेश में 15,744 एक्टिव मरीज हैं। जालौर और धौलपुर ऐसे जिले है जहां 100 से भी कम एक्टिव मरीज हैं।

जून में पहली बार पॉजिटिविटी रेट 3 फीसदी के ऊपर
राज्य में आज रिकवरी रेट में जरूर थोड़ा इजाफा हुआ है। जून माह में पहली बार रिकवरी की दर 3 फीसदी से ऊपर गई है। आज कुल 20,087 लोगों के सैंपल जांचे गए हैं, जिसमें से 629 पॉजिटिव निकले। जिलेवार पॉजिटिविटी रेट की स्थिति देखें तो टोंक, सीकर, झुंझुनूं और डूंगरपुर ऐसे जिले है, जहां पॉजिटिविटी रेट 10 फीसदी से ज्यादा रही। वहीं 8 जिले अलवर, भरतपुर, जयपुर, नागौर, धौलपुर, बारां, कोटा और सवाई माधोपुर ऐसे है, जहां पॉजिटिविटी रेट 2 फीसदी से नीचे रही।

खबरें और भी हैं...