• Hindi News
  • Local
  • Rajasthan
  • Jaipur
  • 7 Dummy Candidates Arrived In Jaipur To Give SI Exam, Out Of The Arrested Youths, The Driver Turned Out To Be 12th Pass, The Police Did Not Know How Much Was Dealt

ड्राइवर व 12वीं पास युवक SI भर्ती में डमी कैंडिडेट:जयपुर में एसआई परीक्षा देने पहुंचे 7 फर्जी अभ्यर्थी, एक लाख रुपए और मोबाइल जब्त; कितने में डील हुई, पुलिस को पता नहीं

जयपुर3 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
पुलिस गिरफ्त में आरोपी। - Dainik Bhaskar
पुलिस गिरफ्त में आरोपी।

जयपुर पुलिस ने एसआई भर्ती परीक्षा में डमी कैंडिडेट बनकर पेपर देने वाले 7 युवकों को गिरफ्तार किया है। खास बात है कि इनमें से कोई ड्राइवर है, तो कोई 12वीं पास। एक युवक बीए पास है, तो एक क्लिनिक चलाता है। पुलिस का दावा है कि ये डमी कैंडिडेट बनकर दूसरे के स्थान पर परीक्षा देने आए थे। हालांकि परीक्षा में बैठने के लिए कितने रुपए में डील हुई थी। ये पुलिस को पता नहीं है। बड़ा सवाल है कि राजस्थान पुलिस के सब इंस्पेक्टर की परीक्षा को 12वीं पास और ड्राइवर कैसे पास करवा देंगे। पुलिस गिरोह के मास्टरमाइंड पवन मीना काे तलाश कर रही है।

डीसीपी ईस्ट प्रहलाद कृष्णियां ने बताया कि एसआई भर्ती परीक्षा में डमी कैंडिडेट बैठा नकल कराने की सूचना मिली थी। रामनगरिया थानाधिकारी पुरुषोत्तम महरिया ने वीआईटी कॉलेज के पास पहुंचे। वहां पर दो गाड़ियां छायादार पेड़ों के नीचे सड़क के किनारे खड़ी थीं। वे एसआई भर्ती परीक्षा देने आए थे। पुलिस को देखकर वे जाने लगे तो उन्हें शक हुआ। तब पुलिस ने उन युवकों को पकड़ लिया। गाड़ी की तलाशी लेने पर इनसे एक लाख रुपए, सात मोबाइल, दो वाहन बरामद हुआ।

इंस्पेक्टर पुरुषोत्तम महरिया ने बताया कि आरोपी पवन ड्राइवर है। इसके साथ सुरेश फर्जी डॉक्टर है, जो क्लिनिक चलाता है। इसके अलावा एक आरोपी 12वीं और दूसरा बीए पास है। पुलिस का कहना है कि आरोपी राजेश कुमार ने कोचिंग में पढ़ने वाले छात्रों से संपर्क कर परीक्षा पास कराने का झांसा दिया था।

वॉट्सऐप में मिले प्रवेश पत्र

पुलिस का कहना है कि युवकों के मोबाइल चेक किए तो अलग-अलग प्रवेश पत्र मिले। साथ ही, पुलिस को पेपर देने के बदले रुपए की चैटिंग भी मिली। चैटिंग में पहला स्थान दिलाने की बातें हैं। इनसे 15 लाख रुपए के लेनदेन की सेटिंग हुई थी। स्विफ्ट डिजायर व एक जीप बरामद कर ली गई है। पवन कुमार व राजेश कुमार गिरोह बनाकर एसआई परीक्षा को पास करवाने व मेरिट में आने के लिए युवकों से डील कर रहे थे।

इनको गिरफ्तार किया

पुलिस ने हनुमान (35) पुत्र मालाराम चौधरी निवासी वात्सल्य हॉस्पिटल पिंडवाड़ा सिरोही, सुरेश कुमार (29) पुत्र मोहनराम निवासी डीडवाना, नागौर, हरिमोहन (28) पुत्र नरसीलाल निवासी बामनवास सवाई माधोपुर, राजेश कुमार मीना (31) पुत्र प्रहलाद निवासी बामनवास, सवाईमाधोपुर, बनकेश मीना (27) पुत्र कुंजीलाल निवासी बामनवास सवाई माधोपुर, आशाराम मीना (43) पुत्र कजोड़मल निवासी बामनवास सवाई माधोपुर, पवन मीना पुत्र पंखीलाल निवासी बामनवास सवाई माधोपुर को गिरफ्तार किया है।

SI भर्ती परीक्षा के आंसर वॉट्सऐप पर शेयर:बीकानेर के निजी स्कूल में पेपर लीक, तीन दिन के एग्जाम में रोज 5 लाख रुपए में सौदा, 3 लाख एडवांस लिए, 2 नाबालिग सहित 10 गिरफ्तार

खबरें और भी हैं...