VDO परीक्षा का पहला चरण पूरा:7 लाख 50 हजार 443 छात्र रहे उपस्थित, गणित और कंप्यूटर से जुड़े सवालों ने छात्रों को किया परेशान

जयपुर5 महीने पहले
जयपुर में परीक्षा देकर वापस जाते अभ्यर्थी।

राजस्थान के 26 जिलों में 3 हजार 896 पदों पर ग्राम विकास अधिकारी प्रारंभिक भर्ती परीक्षा के दो चरणों की परीक्षा आज पूरी हो गई है। पहले दिन दो पारियों में सुबह 10 से 12 बजे और दोपहर 2.30 से 4.30 बजे तक परीक्षा आयोजित की गई। पहले चरण में 3 लाख 74 हजार 983 (75.71%), वहीं दूसरे चरण में 3 लाख 75 हजार 460 (76.18%) छात्र उपस्थिति रहे। जबकि जयपुर में पहले चरण में 71.91%, वहीं दूसरे चरण में 72.39% छात्र उपस्थिति रहे। पहले चरण की परीक्षा में परीक्षार्थी शामिल हुए, पहले चरण में परीक्षार्थियों की उपस्थिति 75.71 फीसदी रही।इस दौरान पहेली पारी में जहां छात्रों ने गणित वहीं दूसरी पारी में छात्रों ने कम्प्यूटर और वर्ल्ड जॉग्राफी से जुड़े सवालों को थोड़ा मुश्किल बताया।

वहीं ग्रामीण विकास अधिकारी भर्ती परीक्षा के पहले दिन परीक्षा देकर लौटे परीक्षार्थियों की मिली जुली प्रतिक्रिया देखने को मिली। परीक्षार्थियों ने बताया कि पेपर का स्तर बहुत ही अच्छा रहा है। लेकिन पहले चरण की परीक्षा में गणित ने थोड़ा परेशांन किया। परीक्षार्थियों अमित ने कहा की पहले चरण में गणित के सवाल थोड़े कठिन थे। लेकिन दूसरे चरण की परीक्षा में ऐसा नहीं था। पेपर सिलेबस के अनुसार था। जिसमें हिंदी, अंग्रेजी, गणित और रिजनिंग भी आसान थी। जबकि कम्प्यूटर और वर्ल्ड जॉग्राफी से जुड़े सवाल थोड़े मुश्किल थे। ऐसे में पेपर का स्तर अच्छा होने के साथ ही नेगेटिव मार्किंग नहीं होने की वजह से कटऑफ भी ज्यादा रहने की पूरी संभावना है।

वहीं पहले दिन पुरुष अभ्यर्थियों के परीक्षा केन्द्र दूर-दराज इलाकों में आने से थोड़ी समस्या का सामना करना पड़ा। जयपुर में प्रदेश के हर हिस्से के परीक्षार्थियों का केंद्र आया था। ऐसे में सुबह से ही बस नहीं मिलने के चलते भी परीक्षार्थी परेशान होते हुए नजर आए। वहीं परीक्षा देने के बाद वापस जाते समय भी बस स्टैंड्स और रेलवे स्टेशन पर भी छात्रों की भीड़ देखने को मिली। वहीं बोर्ड की गाइड लाइन के तहत ड्रेस कोड ने भी परीक्षार्थियों को कड़ाके की सर्दी में परेशान किया।

खबरें और भी हैं...