पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App
  • Hindi News
  • Local
  • Rajasthan
  • Jaipur
  • 8455 Unanswered Questions Of Government Departments, MLAs Not Answering Questions Related To General Public In Vidhan Sabha

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

15वीं विधानसभा:विधानसभा में आम जनता से जुड़े सवालों के जवाब नहीं दे रहे सरकारी विभाग, विधायकों के 8455 प्रश्न अनुत्तरित

जयपुर6 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
भाजपा सरकार के कार्यकाल के 1035 प्रश्न भी पेडिंग। - Dainik Bhaskar
भाजपा सरकार के कार्यकाल के 1035 प्रश्न भी पेडिंग।
  • शुरुआती पांच सत्र के 3517 और छठे सत्र के 4938 सवाल कर रहे हैं जवाब का इंतजार

विधानसभा में आम जनता से जुड़े सवालों के सरकारी विभाग की जवाब नहीं दे रहे है। प्रदेश में जनता के मुद्दों, समस्याओं और सिस्टम की लापरवाही को लेकर विधायक विधानसभा में प्रश्न लगाते है, लेकिन 15वीं विधानसभा के अब तक हुए सभी सत्रों के करीब 8455 प्रश्न अनुत्तरित है। इसमें से 3517 सवाल तो एक से लेकर पांचवे सत्र के दौरान लगे थे, लेकिन अभी तक जवाब नहीं आने से पेंडिंग है।

विधानसभा के छठे सत्र के भी करीब 4938 सवाल अपने जवाब का इंतजार कर रहे है। इससे पूर्व की विधानसभाओं के भी करीब तीन हजार प्रश्न पेडिंग सूची में है। हाल यह है कि 14वीं विधानसभा के यानी भाजपा सरकार के कार्यकाल के भी 1035 प्रश्न भी पेडिंग है। सरकार के मुख्य सचेतक महेश जोशी का कहना है कि विधायकों के प्रश्नों के जवाब समय पर देने के लिए विधानसभा का विभागों से लगातार पत्राचार होता है। कई बार विधायकों के सवाल स्पष्ट नहीं होने या सूचनाएं बड़ी होने के कारण जवाब नहीं मिल पाता है। फिर भी बकाया प्रश्नों के शीघ्र जवाब दिलवाएं जाएंगे।

जलदाय, ऊर्जा और पीडब्ल्यूडी से नहीं आते है समय पर जवाब

विधानसभा में सबसे ज्यादा प्रश्न जनता से सीधे जुड़े विभागों से होते है। लेकिन प्रश्नों की संख्या ज्यादा होने के कारण जलदाय विभाग, ऊर्जा विभाग, यूडीएच, सार्वजनिक निर्माण विभाग सहित अन्य विभागों से जुड़े सभी प्रश्नों के जबाव नहीं आ पाते है। समय पर जवाब नहीं आने के कारण प्रश्न लगाने का औचित्य ही खत्म हो जाता है।

समय पर मिलने चाहिए जवाब : पूर्व विस अध्यक्ष
पूर्व विधानसभा अध्यक्ष व विधायक दीपेंद्र सिंह शेखावत का कहना है कि विधायक क्षेत्र व जनता से जुड़े प्रश्न लगाते हैं। इनका समय पर जवाब आना चाहिए। हर विभाग में अधिकारियों की जिम्मेदारी तय होनी चाहिए। इसके लिए एक सिस्टम बनाया जा सकता है।
हर विभाग में विधानसभा शाखा, लेकिन सिस्टम लापरवाह

विधानसभा में जनहित के मुद्दों को संवेदनशीलता व पारदर्शिता बरतने के लिए हर विभाग में विधानसभा शाखा बनी हुई है। इन शाखाओं में अधिकारी व कर्मचारी लगे रहते है। यहां पर केवल पत्राचार का काम होता है। यानि विधानसभा से आने वाले सवालों का संबंधित अधिकारियों से जवाब मांगना होता है, लेकिन इन शाखाओं में पोस्टिंग को ‘ठंड’ माना जाता है। ऐसे में सवालों के आदान प्रदान में लापरवाही बरतने पर ही कोई कार्रवाई नहीं हो पाती है।

सत्रवार अनुत्तरित प्रश्न
सत्र - 1105
सत्र -21048
सत्र- 311
सत्र -41773
सत्र -5580
सत्र- 64938

खबरें और भी हैं...

    आज का राशिफल

    मेष
    Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
    मेष|Aries

    पॉजिटिव- इस समय ग्रह स्थितियां पूर्णतः अनुकूल है। सम्मानजनक स्थितियां बनेंगी। विद्यार्थियों को कैरियर संबंधी किसी समस्या का समाधान मिलने से उत्साह में वृद्धि होगी। आप अपनी किसी कमजोरी पर भी विजय हासिल...

    और पढ़ें