• Hindi News
  • Local
  • Rajasthan
  • Jaipur
  • A Cheater Arrested By Nahargarh Police Jaipur He Cheated A Girl On The Pretext Of Marriage At The Metromonial Site In Gurugram, Spent Many Nights With The Widow In Rajasthan And Mumbai

जयपुर के शातिर ठग IT एक्सपर्ट की कहानी:दोस्ती और प्यार का नाटक कर विश्वास जीतता; फिर उनके मोबाइल से अपने मोबाइल को कनेक्ट कर ऐंठ लेता लाखों रुपए

जयपुर3 महीने पहले
जयपुर के नाहरगढ़ थाना पुलिस की गिरफ्त में आया शातिर ठग विकास जांगिड़।

जयपुर पुलिस ने एक शातिर ठग को पकड़ा है। नाम है विकास जांगिड़, जो आईटी एक्सपर्ट है। जिसका काम अपनों को धोखा देकर मोटी रकम ऐंठना है। इसके लिए वह कभी दोस्त बन जाता है तो कभी किराएदार। इतना ही नहीं, दो बच्चों का पिता और अपनी पत्नी की मौत होना बताकर एक विधवा के साथ कई महीनों तक लिव इन में रह चुका है। मेट्रोमोनियल साइट पर शादी का झांसा देकर एक युवती को भी ठग चुका है। मकान मालिक की बीमारी का फायदा उठाकर 9 लाख रुपए की ऑनलाइन ठगी के मुकदमे में जयपुर के नाहरगढ़ थाना पुलिस ने आरोपी को गिरफ्तार किया है। पूछताछ में उसके अपराधों का खुलासा हुआ। जल्द ही दोस्ताना व्यवहार बनाने वाले ठग के कारनामे सुनकर पुलिस भी हैरान रह गई। आज आरोपी को कोर्ट में पेश किया जाएगा।

पढ़िए उसकी कहानी, डीएसपी की जुबानी...
एडिशनल डीसीपी (नार्थ) धर्मेंद्र सागर ने बताया कि विकास जांगिड़ (32) गंगाविहार कॉलोनी, सिरसी रोड जयपुर का रहने वाला है। अभी बैनाड़ रोड पर यशोधरा रेसीडेंसी में फ्लैट किराए पर लेकर रहता है। वह पेशे से आईटी एक्सपर्ट है। बड़ी आईटी कंपनियों के लिए कर्मचारियों का डाटा मैनेजमेंट का काम करता है। काम की आड़ में उनकी निजी जानकारियां भी आसानी से हासिल कर लेता है। वह जयपुर, मुंबई, गुरुग्राम व अन्य जगहों पर जॉब कर चुका है। जहां उसने काम किया, वहीं ठगी की वारदात को अंजाम दिया। विकास लोगों से गहरी दोस्ती कर उनका मोबाइल फोन लेता है, फिर चंद मिनटों में एक ऐप के जरिए उनके मोबाइल को अपने मोबाइल से कनेक्ट कर खातों से रुपए साफ कर देता है। कई बार दोस्तों को दगा का पता चलने पर माफी मांगकर रकम वापस भी लौटा देता है। इससे पहले कई बार केस दर्ज होने की नौबत भी नहीं आई। ये सिर्फ अपने परिचितों के साथ ही ऑनलाइन ठगी और रुपए हड़पने की वारदात करता है। हड़पे गए रुपयों को अपने घर खर्च और ऑनलाइन क्रिकेट मैच में दांव पर लगाना पसंद करता है। वह शादीशुदा है। उसके दो बच्चे भी हैं। जब वह गुरुग्राम में जॉब करता था, तब एक मेट्रोमोनियल साइट पर शादी करने के लिए बायोडेटा डाल दिया। वर्ष 2019 में वेबसाइट के जरिए एक लड़की से विकास की पहचान हुई। दोनों की बातचीत शुरू हो गई। विकास ने उसे पसंद करने का नाटक करते हुए शादी करने का प्रस्ताव रखा। इस बीच लड़की पर पूरा विश्वास जमा लिया। इसका फायदा उठाकर विकास ने रुपयों की जरूरत बताकर लड़की से पैसे मांगे। तब उसने 3 लाख रुपए अपने खाते में ऑनलाइन ट्रांसफर कर दिए। इसके बाद युवती से संपर्क करना बंद कर दिया। तब ठगी की शिकार युवती ने विकास के खिलाफ केस किया।

मुंबई और जयपुर में भी अपनों को ठगा
थानाप्रभारी मुकेश कुमार खराड़िया के मुताबिक मुंबई में जॉब के दौरान विकास जांगिड़ ने एक इलेक्ट्रिक उपकरणों का कारोबार करने वाले पप्पू नाम के व्यक्ति को ठग लिया। वहीं, जयपुर में आकर पुरानी बस्ती स्थित यज्ञशाला की बावड़ी में प्रभुदयाल योगी के मकान में किराएदार बनकर रहा। पिछले दिनों प्रभुदयाल की तबीयत बिगड़ने पर वह अस्पताल में भर्ती हुए। तब किराएदार विकास उनकी देखरेख में रहा। विश्वास पात्र समझकर प्रभुदयाल ने विकास को अस्पताल में अपना मोबाइल फोन संभालकर रखने को दे दिया। तब विकास ने प्रभुदयाल के दो बैंक खातों से मोबाइल बैंकिंग के जरिए करीब 10 दिनों में 9 लाख रुपए निकाल लिए। वह एक दिन में करीब 45 हजार रुपए निकालता था। मोबाइल अलर्ट के मैसेज डिलीट कर देता था। रुपए हड़पने के बाद विकास कमरा खाली कर भाग गया और बैनाड़ रोड पर किराए से रहने लगा। बैंक की किश्तें जमा नहीं होने पर प्रभुदयाल को खाते से 9 लाख की रकम निकलने का पता चला। तब नाहरगढ़ थाने में केस दर्ज करवाया। इसके बाद पुलिस की टीम ने उसे सोमवार को गिरफ्तार कर लिया।

राजसमंद में लिव इन रिलेशन में रहा
राजसमंद के कांकरोली जिले में भी एक लड़की से मेट्रोमोनियल वेबसाइट के जरिए जान पहचान हुई। उस लड़की के पति की मौत हो चुकी थी। तब विकास ने बताया कि उसकी पत्नी भी नहीं रही। वह उससे शादी करने को तैयार है। इसके बाद विकास कांकरोली चला गया। वहां करीब पांच छह महीने तक वह विधवा युवती के साथ लिव इन रिलेशन में रहा। फिर रुपयों की जरूरत बताकर युवती के खाते से करीब 90 हजार रुपए साफ कर दिए और वहां से भी भाग गया।

खबरें और भी हैं...