पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

ACB का बड़ा एक्शन:रिटायर्ड अफसर भूतपूर्व सैनिकों से जमीन आवंटन के लिए मांग रहा था रिश्वत, दलाल से 5 लाख लेते पकड़ा

जयपुर7 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
जयपुर स्थित बापू नगर आवास से मिले 8 लाख रुपए नकद मिले हैं। इसके अलावा अन्य जिलों में बने आवासों पर भी छापे मारे है।
  • एसीबी ने बाड़मेर,जयपुर, जोधपुर व जालोर स्थित मकानों की तलाशी ली
  • 18.35 लाख रुपए नकद,17.50 लाख के गहने बरामद

एसीबी बीकानेर की टीम ने सेवानिवृत आरएएस प्रेमाराम परमार को बाड़मेर के महावीर नगर स्थित मकान में पांच लाख रुपए की रिश्वत लेते हुए रंगे हाथों गिरफ्तार किया। आवंटन अधिकारी एवं अतिरिक्त आयुक्त उप निवेशन (अपील) बीकानेर प्रेमाराम परमार 31 अक्टूबर 2020 को सेवानिवृत हुआ। 21 दिन बाद उधारी की रिश्वत लेते हुए पकड़ा गया।

एसीबी को एक माह पहले ही सूचना मिली थी की प्रेमाराम ने पद पर रहते हुए पूर्व सैनिकों, पाक विस्थापितों व अन्य श्रेणियों में आनन-फानन में कमांड व नोन कमांड कृषि भूमियों का आवंटन किया गया। इसके बदले में रिश्वत प्राप्त की गई। इस पर अतिरिक्त महानिदेशक पुलिस दिनेश एम.एन. के निर्देशन पर में सेवानिवृत आरएएस प्रेमाराम की निगरानी शुरू की गई।

शुक्रवार देर रात महावीर नगर बाड़मेर स्थित निवास स्थान पर प्रेमाराम को दलाल नजीर खां पुत्र कायमदीन निवासी भदडिया (नाचना) जैसलमेर से पांच लाख रुपए की रिश्वत लेते हुए रंगे हाथों गिरफ्तार किया गया। परमार ने अपने पद पर पदस्थापित रहते हुए नजीर खां से मिलीभगत कर लोक कर्त्तव्य की अनुचित रूप से पालना की और आवंटियों से उक्त दलाल के माध्यम से रिश्वत ली।

कार्य की एवज में इनाम के रूप में रिश्वत राशि मांग कर पदस्थापना के दौरान दस लाख रुपए प्राप्त किए थे और सेवानिवृत होने के बाद उक्त कार्यों की एवज में दलाल नजीर के जरिए 20 नवंबर को बाड़मेर स्थित अपने आवास पर पांच लाख रुपए प्राप्त किए गए। मकान की तलाशी लेने पर रिश्वत राशि के अलावा दो लाख साठ हजार रुपए नकद, करीब 17 लाख 50 हजार रुपए के सोने, चांदी के गहने, एक इनोवा गाड़ी व कई संपत्तियों से संबंधित दस्तावेज पाए गए।

सेवानिवृत आरएएस के जयपुर, जोधपुर, जालोर स्थित मकान,फ्लैट की भी एसीबी की टीमों ने तलाशी ली। जोधपुर स्थित मकान में विदेशी व महंगी शराब की बोतलें बरामद की गई। इस पर पुलिस थाना बोरानाडा जोधपुर में आबकारी अधिनियम के तहत प्रकरण दर्ज किया गया। साथ ही जोधपुर आवास से करीब 7 लाख 75 हजार रुपए व गहने, शेयरों में निवेश के दस्तावेज व कई संपत्तियों के दस्तावेज मिले। आरोपी के जयपुर स्थित मकान से आठ लाख रुपए नकद बरामद हुए।

जालोर, बाड़मेर आदि स्थानों पर कई अचल संपत्तियों के बारे में दस्तावेज प्राप्त हुए। कार्यवाही बाड़मेर में एसीबी बीकानेर के यूनिट प्रभारी अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक रजनीश पूनिया, एएसपी शिवरत्न गोदारा, पुलिस निरीक्षक मनोज कुमार मूढ़, हैड कांस्टेबल बजरंगसिंह, राजेश कुमार, अनिल कुमार, गजेंद्रसिंह व ब्यूरो मुख्यालय जयपुर से राजेश दुरेजा पुलिस निरीक्षक मय टीम द्वारा की गई।

तीन ठिकानों पर मारे छापे
एसीबी सूत्रों से मिली जानकारी के मुताबिक अधिकारी प्रेमाराम को पकड़ने के बाद उसके जोधपुर, जैसलमेर और जयपुर आवास पर भी छापे मारे गए है। जयपुर स्थित आवास से लगभग 8 लाख रुपए की नकदी बरामद होने की सूचना है। इसी तरह जोधपुर आवास से 7.72 लाख की नकदी, 15 लाख रुपए के गहने, जालौर में पत्नी के नाम से एग्रीकल्चर लैंड के कागजात बरामद हुए है। इसके अलावा एलएण्डटी कंपनी के शेयर, साले के नाम से 65 लाख रुपए का फ्लैट और 30 लाख रुपए से अधिक के कीमती आइटम बरामद भी बरामद हुए।

अधिकारी के जोधपुर स्थित आवास पर बरामद हुई शराब की बोतलें।
अधिकारी के जोधपुर स्थित आवास पर बरामद हुई शराब की बोतलें।

महंगी शराब पीने का है शौक
अधिकारी के जोधपुर आवास में सर्च के दौरान बड़ी तादाद में मिली विदेशी और महंगी शराब की बोतलें भी मिली है। बताया जा रहा है कि इस मामले में एक्साइज एक्ट के तहत प्रेमाराम के खिलाफ प्रकरण भी दर्ज करवाया गया है।

दलाल नजीर खां के माध्यम से जमीनों के आवंटन में हेराफेरी,आरक्षित श्रेणी को सामान्य में बदल दिया

प्रमोटी आरएएस प्रेमाराम परमार को सितंबर 2019 को अतिरिक्त आयुक्त उप निवेशन (अपील) बीकानेर पद पर लगाया गया था। राजनैतिक अप्रोच से उप निवेशन विभाग का महत्वपूर्ण पद मिलते ही प्रेमाराम ने नहरी क्षेत्र की जमीनों का नियम विरुद्ध आवंटन का काम शुरू कर दिया। जमीनों की खरीद-फरोख्त के काम में जुटे दलाल भी संपर्क में आए और सांठगांठ कर पूर्व सैनिकों व पाक विस्थापितों के नाम फर्जी तरीके से सैकड़ों बीघा जमीनें आवंटित करवा ली।

इतना ही नहीं जमीनें आवंटन के बाद रसूखदार लोगों के नाम रजिस्ट्रियां भी करवा दी। नाचना का नजीर खां व उसके साले वसीर खां ने दलाली शुरू की। पूर्व सैनिकों व पाक विस्थापितों के लिए आरक्षित जमीन को सामान्य श्रेणी में बदलकर दूसरों के नाम आवंटित करवा दी। इतना ही नहीं बेकडेट में ही अधिकांश काम निपटाए गए।

दो माह से एसीबी के राडार पर था रिश्वत के सबूत मिलने पर कार्रवाई

प्रेमाराम ने अतिरिक्त आयुक्त उप निवेशन विभाग बीकानेर में कार्यकाल के दौरान नहरी क्षेत्र की जमीनों के आवंटन में गड़बडिय़ां की थी। इस संबंध में कई शिकायतें भी हुई, लेकिन अफसरों ने मामला दबा दिया। सेवानिवृत होने से एक माह पहले ही एसीबी को रिश्वत लेने के पुख्ता सबूत मिल गए थे। बीते दो माह से प्रेमाराम एसीबी के राडार पर था। उसका मोबाइल सर्विलांस पर था। पद पर रहते हुए गैर तरीके से निपटाए कामों के बदले में रिश्वत राशि लेने की जानकारी मिली गई थी। करीब एक माह पहले ही एसीबी ने कार्रवाई की तैयारी कर ली थी, लेकिन एनवक्त पर दलाल नजीर हाथ नहीं लगा।

जालोर में तहसीलदार रहा, फिर आरएएस बना
बाड़मेर जिले के बाखासर गांव निवासी प्रेमाराम का चयन तहसीलदार पद पर हुआ था। जालोर में तहसीलदार रहते हुए करीब 100 बीघा कृषि जमीन खरीदी। उक्त जमीन पर फार्म हाउस लगा रखा है। तहसीलदार से आरएएस पद पर प्रमोशन के बाद राजस्व अपील अधिकारी गंगानगर में रहा। सितंबर 2019 को अतिरिक्त आयुक्त उप निवेशन विभाग बीकानेर लगाया गया।

आज का राशिफल

मेष
Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
मेष|Aries

पॉजिटिव- घर के बड़े बुजुर्गों की देखभाल व उनका मान-सम्मान करना, आपके भाग्य में वृद्धि करेगा। राजनीतिक संपर्क आपके लिए शुभ अवसर प्रदान करेंगे। आज का दिन विशेष तौर पर महिलाओं के लिए बहुत ही शुभ है। उनकी ...

और पढ़ें