जयपुर में कुत्ते को पैर से पकड़कर घुमाया, फिर फेंका:नाक और शरीर पर जगह-जगह चोट लगी, चल रहा इलाज

जयपुर2 महीने पहले

जयपुर में कुत्ते के साथ क्रूरता का मामला सामने आया है। जहां एक व्यक्ति ने कुत्ते को पैर से पकड़कर उठाया। फिर घूमाकर दूर फैंक दिया। इससे कुत्ते के नाक और शरीर के कुछ हिस्सों में चोट भी लगी। वीडियो सामने आने के बाद एक्टिविस्ट मरियम अबुहेदरी की तरफ से केस दर्ज करवाया गया।

मरियम ने रिपोर्ट देकर बताया कि वॉट्सऐप पर एक वीडियो आया है। इसमें एक व्यक्ति कुत्ते को बेरहमी से पीट रहा है। घटना झालाना इलाके की है। मरियम उस बच्चे से मिलने पहुंची, जिसने इस घटना का वीडियो बनाया। लेकिन घरवालों ने मिलने से मना कर दिया। इसके बाद गांधी नगर थाना पुलिस को घटना की जानकारी दी। इसके बाद पुलिस टीम मौके पर पहुंची। कुत्ते को मारने वाले की तलाश शुरू की, लेकिन नहीं मिला।

कुत्ते के शरीर पर गई जगह चोट आई। इलाक के लिए भर्ती करवाया गया।
कुत्ते के शरीर पर गई जगह चोट आई। इलाक के लिए भर्ती करवाया गया।

इसके बाद अज्ञात व्यक्ति के खिलाफ आईपीसी 429 व पशु क्रूरता के तहत मामला दर्ज कराया गया है। पुलिस ने मामला दर्ज कर जांच शुरू कर दी हैं। मरियम ने बताया कि अगर किसी को कुत्ते या अन्य जीव से परेशानी है तो वह निगम को सूचित करें। जानवर पर क्रूरता करने का किसी को अधिकार नहीं हैं। जो भी व्यक्ति इस प्रकार की हरकत करेगा उसके खिलाफ पुलिस का एक्शन होना चाहिए।

एक्टिविस्ट मरियम अबुहेदरी ।
एक्टिविस्ट मरियम अबुहेदरी ।

कुत्ते का चल रहा इलाज

एक्टिविस्ट मरियम ने बताया की डॉग की हालत देख कर लगा की उसे इलाज की जल्द जरूरत है। इस पर हैल्पिंग सफरिंग को फोन कर के जानकारी दी गई।डॉग का इलाज चल रहा हैं। वह अब काफी ठीक है। उसके शरीर पर कई जगह पर चोट के निशान हैं।

गांधीनगर सीआई नेमी चंद ने बताया- जानकारी में आने के बाद पीसीआर को मौके पर भेजा। मामले की गंभीरता को देखते हुए अज्ञात व्यक्ति के खिलाफ एफआईआर दर्ज कर ली गई है। साथ ही आज मौका नक्शा भी किया जाएगा। आरोपी को गिरफ्तार करने का प्रयास किया जा रहा है।

जोधपुर में भी सामने आया था क्रूरता का मामला

जोधपुर में भी एक डॉक्टर ने रविवार को क्रूरता की हदें पार कर दीं। उसके घर में एक स्ट्रीट डॉग घुसा तो उसने डॉग को अपनी गाड़ी में बांधकर 5 किलोमीटर तक घसीटा। इससे कुत्ता गंभीर रूप से घायल हो गया। उसका पैर फ्रैक्चर हो गया और उसकी स्किन तक फट गई। रोड पर कार के पीछे कुत्ते को बांधकर दौड़ाते देख लोगों ने कार रोकने का प्रयास किया। आरोप है कि डॉ. रजनीश गालवा कार नहीं रोकी और लगातार भगाता रहा। राहगीरों ने कार के पीछे बाइक दौड़ाई और कार को आगे से घेरा। कार के आगे बाइक खड़ी कर दी। तब जाकर कार रुकी। पूरी खबर यहां पढ़ें...

ये भी पढ़ें...

डॉक्टर ने स्ट्रीट डॉग को कार में बांधकर घसीटा:घर में घुसने से नाराज था, मेनका गांधी के फोन करने के बाद दर्ज हुआ केस

फैमिली डॉग गुम हुआ तो अखबारों में विज्ञापन छपवाए:जोधपुर के गली-मोहल्लों में लगाए पोस्टर, खोजने के लिए 7 आदमी अलग से रखे