कांग्रेस-भाजपा की ‘जुबानी बाड़ेबंदी’ चर्चाओं में:डोटासरा के ‘नाथी का बाड़ा’ के बाद अब राठौड़ का ‘खालाजी का बाड़ा’

जयपुर8 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
कांग्रेस प्रदेशाध्यक्ष गोविंद सिंह डोटासरा और भाजपा के उपनेता प्रतिपक्ष राजेंद्र राठौड़ के बीच सियासी वार-पलटवार। (फाइल फोटो)

सियासी बाड़ाबंदी से ज्यादा इन दिनों राजस्थान की राजनीति में नेताओं की जुबानी ‘बाड़ाबंदी’ चर्चाओं में है। ‘नाथी का बाड़ा’ को लेकर सोशल मीडिया पर दिनभर ट्रोल हुए कांग्रेस प्रदेशाध्यक्ष गोविंद सिंह डोटासरा ने अपने साथ भाजपा के उपनेता प्रतिपक्ष राजेंद्र राठौड़ को भी लपेट लिया। डोटासरा ने राठौड़ का एक वीडियो पोस्ट किया, जिसमें राठौड़ ‘खालाजी का बाड़ा’ का जिक्र कर रहे हैं। यह वीडियो सुजानगढ़ उपचुनाव में प्रचार का बताया जा रहा है। इसमें राठौड़ कहते सुनाई दे रहे हैं- मेरी बात सुन लेना, तुम्हारे नेताजी को मैं मुंह से एक शब्द नहीं निकालने दूंगा। खालाजी का बाड़ा नहीं है ये।

बताया जा रहा है कि राठौड़ की इस सभा में कुछ कांग्रेस कार्यकर्ता हंगामा कर रहे थे। इससे नाराज होकर उन्होंने यह बात कही।

सियासी वार-पलटवार
डोटासरा ने राठौड़ के लिए लिखा-पिछले सभी उपचुनाव जहां आपको जिम्मेदारी मिली, वहां भाजपा की हार हुई। ऐसा ही सुजानगढ़ में होगा।

राठौड़ ने जवाब दिया- झुंझलाहट की परिभाषा आपसे बेहतर कोई नहीं जानता। भाजपा की चिंता छोड़िए, पहले अपने बिखरते कुनबे को बचाने पर ध्यान दें।

खबरें और भी हैं...