पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें
  • Hindi News
  • Local
  • Rajasthan
  • Jaipur
  • After Not Getting Permission For The Demonstration, The Guardian Ekta Sangh Took The Decision, Now Will Meet The Chief Minister Gehlot Regarding The 11 point Demands

अभिभावकों का विधानसभा घेराव स्थगित:प्रदर्शन की अनुमति नहीं मिलने के बाद अभिभावक एकता संघ ने लिया निर्णय, अब मांगों को लेकर मुख्यमंत्री गहलोत से करेंगे मुलाकात

जयपुर9 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
प्रदेशभर के अभिभावक एक मंच पर आकर सरकार से लापरवाह स्कूलों के खिलाफ कार्रवाई की मांग करेंगे। - Dainik Bhaskar
प्रदेशभर के अभिभावक एक मंच पर आकर सरकार से लापरवाह स्कूलों के खिलाफ कार्रवाई की मांग करेंगे।

प्रदेशभर के अभिभावकों ने 13 सितंबर को होने वाले विधानसभा घेराव को स्थगित कर दिया है। राज्य सरकार द्वारा प्रदर्शन की अनुमति नहीं मिलने के बाद अभिभावक एकता संघ द्वारा यह निर्णय लिया गया। हालांकि इस दौरान अभिभावकों का प्रतिनिधि मंडल सिविल लाइंस फाटक से मुख्यमंत्री निवास तक पैदल मार्च निकाल मुख्यमंत्री को अपना 11 सूत्री मांग पत्र भी देगा।

अभिभावक एकता संघ के संयोजक मनीष विजयवर्गीय ने बताया कि अभिभावकों के आंदोलन को दबाने के लिए सरकार ने प्रदर्शन की अनुमती नहीं दी है। जबकि सुप्रीम कोर्ट के आदेश के बावजूद प्रदेशभर में स्कूल एक्ट की अवहेलना कर रहे हैं। लेकिन सरकार और शिक्षा विभाग नियमों की अवहेलना करने वाले स्कूलों पर कार्रवाई नहीं कर रहे। जिसके खिलाफ अब प्रदेशभर के अभिभावक एक मंच पर आकर सरकार से लापरवाह स्कूलों के खिलाफ कार्रवाई की मांग करेंगे। ताकि राजस्थान के 70 लाख से ज्यादा अभिभावकों को राहत मिल सके।

वहीं, राजस्थान अभिभावक संघ के अध्यक्ष सुशील शर्मा ने बताया कि अब अभिभावकों के हित में कानून बनाने की जरूरत है। जिसमें बेलगाम स्कूलों के खिलाफ कार्रवाई के साथ 15% स्कूल फीस में कमी का प्रावधान रखा जाए। ताकि हर वर्ग का बच्चा अच्छे स्कूल में शिक्षा दीक्षा ले सकें। लेकिन अगर सरकार अभिभावकों की मांग नहीं मानेगी तो मजबूरन प्रदेशभर के अभिभावकों को आंदोलन की राह पर आगे बढ़ना पड़ेगा।

खबरें और भी हैं...