• Hindi News
  • Local
  • Rajasthan
  • Jaipur
  • After The Agreement With The Rajasthan Government, The Strike Of Private Bus Operators Ends, The Transport Minister Said REET Students From Outside States Are Also Free In Rajasthan

बसों में रीट स्टूडेंट के परिजन भी करेंगे निशुल्क यात्रा:जयपुर मेट्रो और जेसीटीएसएल लो फ्लोर में भी फ्री यात्रा, सरकार से समझौते के बाद निजी बस ऑपरेटर की हड़ताल खत्म

जयपुरएक महीने पहले
निजी बसों में फ्री यात्रा कर सकेंगे रीट स्टूडेंट्स और परिजन

REET स्टूडेंट के लिए मुख्यमंत्री अशोक गहलोत की ओर से निजी बसों में भी फ्री यात्रा की घोषणा के बाद उपजा किराए का विवाद और निजी बस ऑपरेटर की हड़ताल अब खत्म हो गई है। शुक्रवार को हुई बैठक में अलग-अलग एसोसिएशन से शासन सचिवालय में सरकार से बातचीत के बाद समझौता हो गया है। अब रीट स्टूडेंट्स को ये बस ऑपरेटर प्रदेश भर में फ्री यात्रा करवाएंगे। परिवहन मंत्री प्रताप सिंह खाचरियावास ने कहा है कि जयपुर में जेसीटीएसएल में भी रीट स्टूडेंट्स को फ्री यात्रा के लिए कह दिया गया है। साथ ही जो परिजन या बच्चे स्टूडेंट्स के साथ आए, उन्हें भी बस में बैठने से नहीं रोका जाएगा।

शासन सचिवालय में सरकार से बस ऑपरेटर्स का समझौता
शासन सचिवालय में सरकार से बस ऑपरेटर्स का समझौता

करीब 35 हजार निजी बस और वाहनों का अधिग्रहण कर सकती है सरकार

कॉमर्शियल वाहन महासंघ के सचिव और टूरिस्ट बस एसोसिएशन के उपाध्यक्ष रवि कुमार सैनी ने मीटिंग के बाद मीडिया को जानकारी देते हुए बताया कि हमसे सरकार ने 35 हजार बस मांगी हैं। उन्होंने बताया कि 35 हजार बसों के अलावा करीब 1 लाख परिवहन के साधन सरकार को चाहिए होंगे। उसमें मिनी बसें, टेम्पो और अन्य साधन शामिल है।

बसों के अधिग्रहण के बदले ये रहेगा पेमेंट फॉर्मूला

रवि कुमार सैनी ने बताया कि 52 और 45 सीट की हर बस के बदले 5000 रुपए रोजाना 300 किलोमीटर की रनिंग के हिसाब से पेमेंट किया जाएगा। जबकि 21 सीट मिनी बसों के एवज में 3500 रुपए हर बस के लिए दिया जाएगा। पूरे राजस्थान के बस ऑपरेटर इस प्रस्ताव पर सहमत हैं।

क्या था निजी बस ऑपरेटर्स और सरकार के बीच विवाद ?

बस ऑपरेटर एसोसिएशन राजस्थान के अध्यक्ष अनिल जैन, बस एसोसिएशन राजस्थान के जनरल सेक्रेटरी सत्यनारायण साहू और स्टेट कैरिज बस एसोसिएशन जयपुर के अध्यक्ष कैलाश चन्द शर्मा ने बताया कि चुनाव आयोग के बसों को एक्वायर किए जाने के नियमों में करीब 1800 रुपए हर बस का भुगतान किया जाता है। सरकार उसी रेट पर रीट स्टूडेंट्स के लिए भी बस एक्वायर करना चाह रही थी। जिसके विरोध में सभी बस ऑपरेटर संगठन एकजुट थे। इसीलिए हड़ताल की घोषणा की थी। निजी बस ऑपरेटर ने 60 रुपए किलोमीटर नॉन एसी और 80 रुपए किलोमीटर एसी बसों के बदले भुगतान मांगा था। इसके अलावा जो बस एक्वायर करके खड़ी कर दी जाएंगी, जिन्हें चलाया नहीं जाएगा। उनके लिए भी 6000 रुपए रोजाना हर बस के हिसाब से पेमेंट देने की मांग रखी गई थी। लेकिन बातचीत में बीच का रास्ता निकाला गया। इस परीक्षा में स्टूडेंट्स की मदद के लिए सरकार ने भी आगे बढ़कर रेट बढ़ाई है। इसलिए अब विवाद खत्म हो गया है।

जयपुर मेट्रो में भी रीट परीक्षा देने वाले कर सकेंगे फ्री यात्रा

जयपुर मेट्रो के सीएमडी ने बताया कि राजस्थान सरकार के आदेश के मुताबिक सभी रीट कैंडिडेट के लिए 25 और 26 सितम्बर को जयपुर मेट्रो में यात्रा फ्री रहेगी। परीक्षा का एडमिट कार्ड स्टूडेंट्स को साथ रखना होगा। सुबह 5.20 बजे से रात 11.59 बजे तक एडिशनल राउंड के साथ यह मेट्रो सर्विस स्टूडेंट्स को फ्री मिलेगी। बड़ी चौपड़ से मानसरोवर मेट्रो स्टेशन तक पहली मेट्रो 5.20 से 6.20 बजे तक हर 15 मिनट के गैप पर और सुबह 6.20 से रात 9.20 बजे तक हर 10 मिनट के गैप पर, जबकि रात 9.20 बजे से आखिरी ट्रेन 11.59 बजे तक हर 15 मिनट के गैप पर मिलेगी।

एसओजी ने वॉट्सएप हेल्पलाइन नम्बर किए जारी

रीट को देखते हुए स्पेशल ऑपरेशन ग्रुप,जयपुर में एसपी के डायरेक्शन में एक परीक्षा कंट्रोल रूम बनाया गया है। एटीएस और एसओजी के एडीजी अशोक राठौड़ ने प्रदेश के लोगों से अपील की है कि एसओजी के हेल्पलाइन नम्बर 0141-2609938 के साथ ही 24 घंटे चालू रहने वाले वॉट्सऐप नम्बर 9530429674 पर भी सम्पर्क कर इस परीक्षा में अवैध गतिविधियों के खिलाफ अभियान में अपना योगदान दें।

दैनिक भास्कर से रूबरू हुए परिवहन मंत्री प्रताप सिंह खाचरियावास
दैनिक भास्कर से रूबरू हुए परिवहन मंत्री प्रताप सिंह खाचरियावास

निजी बस ऑपरेटर्स की हड़ताल खत्म होने और समझौते को लेकर राज्य के परिवहन मंत्री प्रताप सिंह खाचरियावास ने दैनिक भास्कर से ख़ास बातचीत की है।

सवाल- कितनी बस हायर करने जा रहे हैं, क्या समझौता रहा है?

जवाब- रीट स्टूडेंट के लिए मुख्यमंत्री अशोक गहलोत की ओर से निजी बसों में भी फ्री यात्रा की घोषणा के बाद उपजा किराए का विवाद और निजी बस ऑपरेटर की हड़ताल अब ख़त्म हो गए हैं। रीट स्टूडेंट को ये बस ऑपरेटर प्रदेश भर में फ्री यात्रा करवाएंगे।

सवाल- कुल कितनी बस हायर कर रहे हैं, 35000 बसों का आंकड़ा सामने आ रहा है?

जवाब- पूरा आंकड़ा अभी मेरे पास नहीं है। सभी कलेक्टर को कहा गया है कि जितनी जरूरत है उससे दो बस ज्यादा लें। कोशिश रहेगी कि रीट स्टूडेंट को दिक्कत नहीं आए।

सवाल- बस ऑपरेटर्स के साथ भुगतान का विवाद था, उसका क्या हल निकाला है?

जवाब- भुगतान तो सरकार और बस ऑपरेटर्स के बीच का मामला है। कोई कमी नहीं है। बस लेंगे तो भुगतान भी करेंगे।

सवाल- बाहरी राज्यों से भी 2 लाख से ज्यादा स्टूडेंट्स परीक्षा देने राजस्थान में आएंगे। क्या उनको भी राजस्थान में फ्री यात्रा करवाएंगे?

जवाब- जो भी बाहरी राज्यों से स्टूडेंट्स परीक्षा देने आएंगे और परमिशन लैटर दिखा लेंगे, उन्हें हम बसों में फ्री यात्रा करवाएंगे।

सवाल- शहर के अन्दर इंटर सिटी चलने वाली जेसीटीएसएल की लो फ्लोर और लोक परिवहन बसों को लेकर क्या निर्णय ले रहे हैं?

जवाब- जेसीटीएसएल में भी फ्री यात्रा के लिए कह दिया गया है। इंटर सिटी सर्विस के लिए प्रिंसिपल सेक्रेटरी होम डिपार्टमेंट अभय कुमार और हम बातचीत के लिए बैठे हैं। हम उसके लिए भी निर्देश दे रहे हैं कि बच्चों को यहां शहर में भी फ्री करें। क्योंकि यह सरकार की बजट घोषणा है, इसलिए उसके लिए भी कहा जा रहा है।

सवाल- जिन अभ्यर्थियों के साथ में उनके पेरेंट्स आते हैं। उनके लिए बसों में क्या रहेगा। क्या उनसे चार्ज लिया जाएगा?

जवाब- अभी तक तो स्टूडेंट्स के लिए यात्रा फ्री है। लेकिन जब सरकार ने बस हायर की है, तो उसमें परिजन भी बैठकर चले जाएंगे, उन्हें कौन रोक रहा है।

खबरें और भी हैं...