पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें
  • Hindi News
  • Local
  • Rajasthan
  • Jaipur
  • After The Long Agitation Of Unemployed Candidates And The Intervention Of Priyanka Gandhi, The Gehlot Government Decided To Make Permanent Recruitment Of More Than 10 Thousand Posts Of Computer Instructors.

कंप्यूटर अनुदेशकों की अब स्थायी भर्ती:प्रियंका गांधी के दखल के बाद गहलोत सरकार ने कंप्यूटर अनुदेशकों के 10 हजार से ज्यादा पदों पर स्थायी भर्ती का फैसला किया

जयपुरएक दिन पहले
प्रियंका गांधी से मिलते बेरोजगार। इस मुलाकात से कंप्यूटर अनुदेशक की स्थायी भर्ती का रास्ता साफ हुआ।

बेरोजगार अभ्यर्थियों के प्रियंका गांधी से मिलकर कंप्यूटर अनुदेशकों की संविदा भर्ती का विरोध करने के बाद राजस्थान सरकार ने अपना फैसला बदल दिया है। गहलोत सरकार ने सरकारी स्कूलों में 10 हजार से ज्यादा कंप्यूटर अनुदेशकों की संविदा की जगह स्थायी भर्ती का फैसला किया है। पहले सरकार ने संविदा भर्ती की घोषणा की थी, जिसका बेरोजगार अभ्यर्थियों ने जमकर विरोध किया था। मुख्यमंत्री अशोक गहलोत की अध्यक्षता में हुई कैबिनेट की बैठक में सरकारी स्कूलों में कंप्यूटर अनुदेशकों की स्थायी भर्ती का फैसला किया गया। कंप्यूटर अनुदेशक के कैडर में 10 हजार से ज्यादा पदों के गठन को पहले मंजूरी दी जा चुकी है। पहले इन्हें संविदा से भरने का तय हुआ था। अब स्थायी भर्ती होगी। शिक्षा मंत्री गोविंद सिंह डोटासरा ने कहा कि कंप्यूटर शिक्षक करने से कानून में दिक्कत आ रही थी। इस वजह से कंप्यूटर अनुदेशक की भर्ती का फैसला पहले संविदा आधार पर किया था। कुछ अभ्यर्थियों को शंका थी कि उन्हें बाद में स्थायी नहीं किया जाएगा। इसलिए कैबिनेट ने स्थायी आधार पर ही भर्ती करने का फैसला किया है।

बेरोजगार कंप्यूटर शिक्षकों ने किया लंबा आंदोलन
कंप्यूटर अनुदेशकों की संविदा भर्ती की जगह स्थायी भर्ती करने की मांग को लेकर बेरोजगार अभ्यर्थियों ने लंबा आंदोलन किया। बेरोजगार कंप्यूटर शिक्षकों ने पहले वर्चुअल आंदोलन किया। इसके बाद दिल्ली में महीने भर से ज्यादा कांग्रेस दफ्तर पर प्रदर्शन किया। प्रियंका गांधी ने यूपी में संविदा भर्ती का विरोध करते हुए इसे बेरोजगारों के साथ अन्याय बताया था। इसी बयान को आधार बनाकर बेरोजगारों ने दिल्ली और यूपी के कांग्रेस दफ्तरों पर प्रदर्शन किए।

प्रियंका गांधी से बेरोजगारों की मुलाकात के बाद सरकार ने बदला फैसला
पिछले सप्ताह बेरोजगार अभ्यर्थियों ने लखनऊ के प्रदेश कांग्रेस कार्यालय में प्रियंका गांधी से मुलाकात करके उन्हें ज्ञापन दिया था। बेरोजगारों ने राजस्थान में कंप्यूटर अनुदेशकों की संविदा की जगह स्थायी भर्ती करवाने के लिए राजस्थान सरकार को निर्देश देने के लिए प्रियंका गांधी से मांग की थी। प्रियंका गांधी से बेरोजगारों की मुलाकात के बाद अब राजस्थान सरकार ने स्थायी भर्ती का फैसला किया है।

खबरें और भी हैं...