पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें
  • Hindi News
  • Local
  • Rajasthan
  • Jaipur
  • After Two Months, Six Thousand Passengers Traveled In Jaipur Metro Last Two Days, Now The Metro Is Doing 120 Rounds Daily Live Metro Report

रफ्तार पकड़ने लगी जयपुर मेट्रो:दो महीने बाद दो दिन में छह हजार यात्रियों ने किया सफर, अभी रोजाना 120 चक्कर लगा रही है मेट्रो, बड़ी चौपड़ पर दो एंट्री गेट हैं बंद

जयपुर3 महीने पहलेलेखक: विष्णु शर्मा
फोटो चांदपोल मेट्रो स्टेशन। जयपुर में एक बार से दो महीने बाद मेट्रो का सफर शुरू हो गया है। शुरुआत धीमी है। लेकिन मेट्रो फिर से रफ्तार पकड़ने लगी है।

कोरोना का प्रकोप बढ़ने के साथ ही जयपुर में 17 अप्रैल को मेट्रो का संचालन बंद कर दिया गया था। लेकिन, दूसरी लहर कमजोर पड़ने के साथ ही राज्य सरकार ने दो महीने बाद जयपुर मेट्रो रेल सेवा को 16 जून को अनलॉक कर दिया। इसके साथ ही मेट्रो सेवा धीरे-धीरे रफ्तार पकड़ने लगी है। यात्रियों ने फिर से मेट्रो में सफर करना शुरू कर दिया है।

आंकड़ों की मानें तो महज दो दिन में करीब 6 हजार यात्रियों ने सफर किया है। मेट्रो संचालन के अनलॉक होने के पहले दिन 17 जून को 3616 यात्रियों ने सफर किया था। सुबह 6:30 बजे से शुरु हुई मेट्रो ने शाम करीब 4:30 बजे तक 120 चक्कर लगाए थे। दूसरे दिन भी लगभग इतना ही यात्री भार और संचालन हुआ। इस बीच भास्कर टीम ने अनलॉक मेट्रो सेवा का ग्राउंड रिपोर्ट में शुक्रवार को जायजा लिया।

शुक्रवार को जयपुर मेट्रो में सफर करने पहुंचे यात्री।
शुक्रवार को जयपुर मेट्रो में सफर करने पहुंचे यात्री।

भास्कर संवाददाता बड़ी चौपड़ मेट्रो स्टेशन पहुंचे। जानकारी में सामने आई कि फिलहाल यहां पुरोहित जी का कटला और चूड़ी वाले खंदे में बना एंट्री गेट बंद कर रखा है। वहीं माणकचौक और फूलों वाला खंदा स्थित दो गेट यात्रियों के प्रवेश के लिए खोले हैं। दो मंजिल नीचे बने मेट्रो स्टेशन पर पहुंचने पर सन्नाटा पसरा था। थोड़ी-थोड़ी देर में यात्री बहुत ही कम संख्या में मेट्रो से आ-जा रहे थे। वहां सुरक्षा में मौजूद पुलिसकर्मी यात्रियों के सामान स्कैनर से चैकिंग में मुस्तैद नजर आए।

मम्मी के साथ मेट्रो में आनंद लेते हुए बच्चे
मम्मी के साथ मेट्रो में आनंद लेते हुए बच्चे

यात्रियों को मेट्रो में प्रवेश से पहले मास्क लगाना अनिवार्य किया हुआ था। वहीं मेट्रो में यात्रियों की संख्या कम ही नजर आई। काफी सीटें खाली पड़ी थीं। इन पर सोशल डिस्टेसिंग की पालना के लिए स्टिकर लगा रखे थे। कई जगह इलेक्ट्रॉनिक ऑटोमेटिक सीढ़ियों को कर्मचारी सेनिटाइज कर रहे थे। वहीं सुरक्षा गार्डस यात्रियों को कोरोना से बचाव के लिए निर्देश देते नजर आए। स्टेशन मास्टर पंकज के मुताबिक धीरे-धीरे यात्रियों की संख्या बढ़ रही है। उम्मीद है कि जल्द ही मेट्रो में सफर करने और यात्री आएंगे।

मेट्रो में सवारी का आनंद लेने पहुंचे यात्री
मेट्रो में सवारी का आनंद लेने पहुंचे यात्री

नौजवानों को फोटोग्राफी तो बुजुर्ग यात्री को घर आने जाने के लिए था मेट्रो का इंतजार
मेट्रो स्टेशन पर मौजूद रामगंज निवासी 16 वर्षीय अजहर को दो महीने से मेट्रो शुरू होने का इंतजार था। उसने बताया कि वह आज फोटोग्राफी करने के इरादे से तैयार होकर मेट्रो में सफर करने पहुंचा है। वह पहले भी मेट्रो में सफर कर चुका है। उसे फोटोग्राफी का शौक पूरा करने के लिए मेट्रो में मजा आता है। इसलिए दो महीने बाद मेट्रो शुरू हुई तो उसकी इच्छा पूरी हो गई।

सफर से पहले सुरक्षा जरूरी, बड़ी चौपड़ मेट्रो स्टेशन पर ड्यूटी करते पुलिसकर्मी।
सफर से पहले सुरक्षा जरूरी, बड़ी चौपड़ मेट्रो स्टेशन पर ड्यूटी करते पुलिसकर्मी।

65 वर्षीय यात्री मोहनलाल शर्मा ने बताया कि वे छोटी चौपड़ से सोढाला देवी नगर जा रहे है। पिछले दिनों बीमारी और एक्सीडेंट के बाद उन्होंने गाड़ी चलाना छोड़ दिया था। वे सोढाला से परकोटे में खरीदारी के लिए मेट्रो से आते थे। लेकिन दो महीने मेट्रो बंद होने से घर में ही रुकना पड़ा। वे खुद गाड़ी चलाकर नहीं आ सके। लेकिन अब ज्योंही मेट्रो शुरू हुई है। वे फिर से पुराने शहर में खरीदारी करने आ गए।

खबरें और भी हैं...