पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

निशाने पर भाजपा, डराया कांग्रेस को:ओवैसी को मोदी की बी टीम बताने वाले पार्टी नेताओं के सामने अहमद पटेल के बेटे बोले- वे मेरे अच्छे दोस्त, अच्छा काम कर रहे हैं

जयपुरएक महीने पहले
  • कॉपी लिंक
जयपुर पहुंचे अहमद पटेल के पुत्र फैजल पटेल का स्वागत करते वक्फ बोर्ड अध्यक्ष खानूखान बुधवाली। - Dainik Bhaskar
जयपुर पहुंचे अहमद पटेल के पुत्र फैजल पटेल का स्वागत करते वक्फ बोर्ड अध्यक्ष खानूखान बुधवाली।

कांग्रेस के चाणक्य कहे जाने वाले पूर्व वरिष्ठ नेता दिवंगत अहमद पटेल के बेटे फैजल पटेल शुक्रवार को जयपुर पहुंचे। यहां वक्फ बोर्ड कार्यालय पहुंचकर फैजल ने बोर्ड अध्यक्ष और कांग्रेसी नेताओं से शिष्टाचार भेंट की। इसी भेंट में उन्होंने भाजपा पर भले ही निशाना साधा, लेकिन अपनी ही पार्टी के नेताओं को एकजुट होने की बात भी की। इस बीच फैजल ने एक ऐसा बयान दे डाला, जो कई कांग्रेसियों को रास नहीं आया। उन्होंने AIMIM प्रमुख असदुद्दीन ओवैसी का जिक्र कर डाला।

दरअसल, कांग्रेस के ज्यादातर नेता ओवैसी को पीएम नरेंद्र मोदी की 'बी' टीम कहते रहते हैं। जबकि फैजल ने जयपुर में कहा कि ओवैसी एक सीनियर नेता हैं। अल्पसंख्यकों के लिए देश में अच्छा काम कर रहे हैं। मेरे उनसे अच्छे रिश्ते हैं। सोनिया गांधी के नजदीकी रहे अहमद पटेल के बेटे का कांग्रेस शासित राज्य राजस्थान में आकर ओवैसी को अपना मित्र और सगा बताया जाना अब चर्चा का विषय बन गया है।

वास्तविकता यह है कि ओवैसी को कांग्रेसी राज्याें में पार्टी वोट कटाऊ नेता मानती है। ऐसे में वे कभी नहीं चाहते कि वे चुनाव में उनके राज्यों में भी आएं। बिहार में विपक्षी गठबंधन को ओवैसी का आना नुकसान दे चुका है। ऐसे में राजस्थान का कोई भी कांग्रेसी ओवैसी को यहां आने देना नहीं चाहते। इसके बावजूद फैजल का यह बयान चौंकाने वाला माना जा रहा है।

ओवैसी साध सकते हैं मुस्लिम सीटों का यह गणित
राजस्थान में 35 सीटों पर मुस्लिम जीत-हार को प्रभावित करते हैं और 15 सीटें ऐसी हैं, जहां मुस्लिमों का सीधा प्रभाव है। इनमें से मौजूदा समय में कांग्रेस के पास 10 सीटों पर मुस्लिम विधायक हैं। यदि ओवैसी आते हैं तो कांग्रेस को 35 सीटों पर सीधे प्रभावित कर सकते हैं। इन सीटों पर कांग्रेस आमतौर पर अपना प्रभुत्व मानती है। ओवैसी की इन्हीं सीटों पर नजर है।

हालांकि अभी यह स्पष्ट तौर पर सामने नहीं आ रहा कि राजस्थान में भी वे चुनाव आने पर कदम रखेंगे या नहीं। अब तक ओवैसी उन्हीं राज्यों में कदम बढ़ा रहे हैं, जहां कांग्रेस तीसरे या चौथे नंबर पर है। चूंकि जिन राज्यों में कांग्रेस सीधे टक्कर में रहती है, वहां आमतौर पर मुस्लिम वोटर कांग्रेस के साथ रहे हैं। राजनीतिक विश्लेषक मानते हैं कि ओवैसी फिलहाल कांग्रेस या किसी अन्य पार्टी के पक्ष में एकजुट मुस्लिम वोटरों के बीच घुसने के फिलहाल मूड में नहीं हैं।

भाजपा पर साधा निशाना
यहां मीडिया से बात करते हुए फैजल ने भाजपा पर भी निशाना साधा। उन्होंने कहा कि भाजपा का ऑपरेशन लोटस यहां सफल नहीं होगा। राजस्थान में कांग्रेस के सभी कार्यकर्ता पूरी तरह एकजुट हैं और सरकार यहां पूरे 5 साल चलेगी, ऐसी मेरी दुआएं भी हैं। राजनीति में आने से जुड़े सवाल पर उन्होंने कहा कि जैसे मेरे पिता ने जिंदगी भर कांग्रेस में रहकर गरीब व अल्पसंख्यकों की सेवा की, वैसा ही मैं करूंगा। आलाकमान मुझे जो निर्देश देगी मैं उसी का पालन करते हुए पार्टी को आगे बढ़ाने का काम करूंगा। फैजल ने किसान आंदोलन के मुद्दे पर कहा कि केन्द्र सरकार को अपनी जिद छोड़कर तीनों कृषि कानून को वापस ले लेना चाहिए।

दरगाह में टेका माथा
फैजल आज सुबह अजमेर स्थित दरगाह गए। वहां उन्होंने जियारत की। अजमेर के बाद वे जयपुर पहुंचे, जहां कांग्रेसी विधायकों अमीन खान, रफीक खान, अश्कअली टांक और वक्फ बोर्ड अध्यक्ष खानूखान बुधवाली ने वक्फ बोर्ड कार्यालय पर उनका स्वागत किया।

खबरें और भी हैं...

आज का राशिफल

मेष
Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
मेष|Aries

पॉजिटिव- आज आप बहुत ही शांतिपूर्ण तरीके से अपने काम संपन्न करने में सक्षम रहेंगे। सभी का सहयोग रहेगा। सरकारी कार्यों में सफलता मिलेगी। घर के बड़े बुजुर्गों का मार्गदर्शन आपके लिए सुकून दायक रहेगा। न...

और पढ़ें