गहलोत सरकार के खिलाफ BJP का हल्ला बोल:पूनिया की गैर मौजूदगी में राजे गुट के करीबियों ने संभाली प्रदर्शन की कमान, चिंकारा कैंटीन से कलेक्ट्रेट तक निकाला पैदल मार्च

जयपुर10 महीने पहले
जयपुर में गहलोत सरकार की दो साल की जनविरोधी नीतियों के खिलाफ कलेक्ट्रेट पर प्रदर्शन करते BJP कार्यकर्ता।

BJP की ओर से राज्य की गहलोत सरकार के खिलाफ चलाया जा रहा हल्ला बोल कार्यक्रम के तहत आज जयपुर में प्रदर्शन किया। प्रदेशाध्यक्ष सतीश पूनिया और जिला अध्यक्ष राघव शर्मा की गैर मौजूदगी में इस प्रदर्शन में राजे गुट के करीबी शामिल हुए। हालांकि राजपाल और चतुर्वेदी को छोड़ दे तो शेष जनप्रतिनिधि केवल ज्ञापन देने के समय ही अपनी उपस्थिति दर्ज करवाने पहुंचे।

प्रदर्शन के दौरान रैली निकालते BJP कार्यकर्ता।
प्रदर्शन के दौरान रैली निकालते BJP कार्यकर्ता।

प्रदर्शन की बात करें तो गहलोत सरकार की दो साल से जन विरोधी नीतियों और कुशासन के विरोध में यह प्रदर्शन जयपुर कलेक्ट्रेट पर किया गया। इस प्रदर्शन से पहले जयपुर के चिंकारा कैंटीन नगर निगम फायर स्टेशन से कलेक्ट्रेट तक BJP के सैंकड़ों कार्यकर्ताओं ने शक्ति प्रदर्शन करते हुए रैली निकाली। रैली जैसे ही कलेक्ट्रेट सर्किल पहुंची तो वहां भाजपा के कार्यकर्ताओं ने कलेक्ट्रेट परिसर में घुसने का प्रयास किया। यहां उन्हें पुलिस ने बेरिकेट्स लगाकर रोक लिया, जिसके बाद BJP के कार्यकर्ता कलेक्ट्रेट की दीवार पर चढ़कर गहलोत सरकार के खिलाफ नारेबाजी करने लगे।

इस प्रदर्शन में शहर BJP के अलावा महिला मोर्चा की कार्यकर्ता भी शामिल हुईं। बिजली के बिल माफ करने, प्रदेश में बिगड़ती कानून व्यवस्था सहित अन्य मुद्दों को लेकर कार्यकर्ताओं ने जमकर नारेबाजी की। इस बीच कार्यकर्ताओं ने प्रदर्शन के दौरान 'जय श्री राम' के भी नारे लगाए। इस दौरान BJP के पूर्व प्रदेशाध्यक्ष डॉ. अरुण चतुर्वेदी, पूर्व कैबिनेट मंत्री राजपाल सिंह शेखावत, अशोक परनामी, मोहनलाल गुप्ता, अशोक लाहोटी, उपमहापौर पुनीत कर्णावट सहित दूसरे जनप्रतिनिधि भी मौजूद रहे।

जयपुर कलेक्टर को ज्ञापन सौंपते BJP कार्यकर्ता और पदाधिकारी।
जयपुर कलेक्टर को ज्ञापन सौंपते BJP कार्यकर्ता और पदाधिकारी।

कलेक्ट्रेट में घुसने से रोकने के लिए करनी पड़ी भारी मशक्कत
चिंकारा कैंटीन से पैदल मार्च के बाद जैसे ही BJP कार्यकर्ता कलेक्ट्रेट के गेट पर पहुंचे और अंदर जाने का प्रयास करने लगे तो वहां तैनात पुलिस फोर्स ने रोक लिया। प्रदर्शनकारियों की भारी भीड़ को देखते हुए पुलिस ने गेट नं. 2 पर बेरिकेट्स लगा दिए, जिसे देख कार्यकर्ता भड़क गए। कार्यकर्ता कलेक्ट्रेट परिसर में घुसने के लिए बेरिकेट्स पर चढ़ते हुए दीवारों पर चढ़ गए और नारेबाजी करने लगे। इस दौरान वहां मौजूद पुलिस प्रशासन के अधिकारियों ने प्रदर्शनकारियों को समझाया की। इसके बाद कार्यकर्ता बेरिकेट्स और दीवार से नीचे उतरे, जिसके बाद कार्यकर्ताओं का एक दल कलेक्ट्रेट के अंदर गया और कलेक्टर को ज्ञापन सौंपा।

खबरें और भी हैं...