पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

एसीबी का एक्शन:बांदीकुई एसडीएम पिंकी मीणा बोली- पुष्कर ने 5 लाख लिए ताे मैं क्या करूं, तुम्हारी कंपनी का काम बड़ा है

जयपुर13 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
एसीबी जांच में सामने आया है कि दाैसा के अधिकारी जाे सीधे ताैर पर हाइवे निर्माण कार्य से जुड़े हुए हैं, वे हर माह एक से दाे लाख रु. की मासिक बंधी लेते हैं। - Dainik Bhaskar
एसीबी जांच में सामने आया है कि दाैसा के अधिकारी जाे सीधे ताैर पर हाइवे निर्माण कार्य से जुड़े हुए हैं, वे हर माह एक से दाे लाख रु. की मासिक बंधी लेते हैं।
  • अब 6 नहीं 10 लाख लूंगी
  • कंपनी के प्रतिनिधि को रौब से कहा- 10 नहीं दो तो पुष्कर से ही काम करा लेना, मेरी तो सीएम से वीसी शुरू हो गई

हाइवे निर्माण करने वाली कंपनी से दस लाख रुपए रिश्वत की मांग करने वाली बांदीकुई एसडीएम पिंकी मीणा ने कंपनी के प्रतिनिधि से ट्रेप कारवाई के दाैरान यही कहा कि तुम्हारी कंपनी का काम बड़ा है, मैं ताे दस लाख रुपए लूंगी। जब कंपनी प्रतिधिनि ने कहा कि दाैसा एसडीएम पुष्कर मित्तल ताे पांच लाख में ही राजी हाे गए हैं ताे पिंकी रुतबे में आकर बाेली- पुष्कर ने पांच लाख लिए ताे मैं क्या करूं। जाकर उन्ही से काम करवा लाे।

तुम्हारा काम बड़ा है। अब छह नहीं दस लाख लूूंगी। सीएम साहब की वीसी शुरू हाे गई है। आपकी कंपनी के लाइजनिंग अधिकारी काे दस लाख रुपए दे देना। उससे मैं ले लूंगी। एसीबी के उच्च पदस्थ सूत्राें के अनुसार दाैसा में पुलिस, प्रशासनिक तथा रेवेन्यू के कई अफसर राडार पर हैं। एसीबी जांच में सामने आया है कि दाैसा के अधिकारी जाे सीधे ताैर पर हाइवे निर्माण कार्य से जुड़े हुए हैं, वे हर माह एक से दाे लाख रु. की मासिक बंधी लेते हैं। कुछ अधिकारियाें के खिलाफ एसीबी के पास पुख्ता सबूत भी हैं। जिनके खिलाफ कुछ दिनाें में एसीबी कारवाई कर सकती है।

दाैसा एसडीएम बाेला: ये पांच ताे मेरे हैं, स्टाफ का अलग से करना हाेगा

ट्रेप कारवाई के दाैरान दाैसा एसडीएम पुष्कर मित्तल ने रिश्वत के पांच लाख रु. लेकर रख लिए और बाेला कि ये पांच ताे मेरे हैं। आपकाे स्टाफ के लिए अलग से करना हाेगा। इस पर कंपनी प्रतिनिधि ने सहमति जताई। इसी दाैरान एसीबी ने पुष्कर काे ट्रेप कर लिया। पांच लाख रु. लेते ही पुष्कर ने रुपए तिजाेरी में रख दिए जिनकाे जब्त कर लिया।

जब फरियादी ने कहानी बताई ताे एसीबी काे विश्वास ही नहीं हुआ

इस सारे मामले में 17 दिसंबर काे कंपनी अधिकारी एसीबी आफिस में जाकर डीजी बीएल साेनी और एडीजी एमएन दिनेश से मिले थे। दाेनाें के सामने जब कंपनी अधिकारी ने रिश्वत मांगने की बात कही ताे एक बारगी एसीबी अधिकारियाें काे विश्वास ही नहीं हुआ कि प्रदेश में दाेनाें एसडीएम और एसपी का दलाल इस तरह से रिश्वत मांग सकते हैं और नहीं देने पर धमकी दे रहे हैं।

जांच में सामने आया कि मासिक बंधी नहीं देने पर कई गाड़ियाें काे पुलिस ने बाडे़ से ही जब्त कर लिया। दलाल के फाेन काे एसीबी ने सर्विलांस पर लिया ताे एसीबी काे दाैसा में चल रहा भ्रष्टाचार के ताने बाने का पता चला।

एक माह तक एसीबी के अधिकारी दाैसा के हर अधिकारी पर निगरानी रखते रहे। आखिर दाेनाें एसडीएम काे एक साथ ट्रेप कर लिया। यह पहली बार हुआ है जब एक ही जिले के दाे उपखंड अधिकारी एक साथ ट्रेप हुए हाे। दाैसा में रेवन्यू के भी अधिकारी एसीबी की राडार पर हैं

एसपी की वाट्स एप चेटिंग से खुलेगा राज
एसपी मनीष अग्रवाल के माेबाइल की एसीबी जांच कर रही है। माेबाइल से एसपी के पूरे लेन देन, संपर्क सहित नीरज व अन्य अधिकारियाें से वाट्स एप पर हुई चेटिंग का पता चल सकेगा। एसीबी एसपी की भूमिका संदिग्ध मानते हुए नामजद मामला दर्ज कर रही है।

एसपी के नाम पर कंपनी अधिकारियों काे धमकाता रहता था दलाल नीरज
दाैसा के तत्कालीन एसपी मनीष अग्रवाल के लिए 38 लाख रु. मांगने वाले दलाल नीरज मीणा का दाैसा में पेट्राेल पंप है। नीरज खुद भी कंपनी के अधिकारियाें से एसपी के नाम पर निर्माण संबंधी ठेका लेने की फिराक में था। इसके लिए वह एसपी के नाम से अधिकारियाें काे धमकाता था। एसीबी की जांच में सामने आया कि नीरज के कहने पर पुलिस ने उन गाड़ियाें काे भी जब्त कर लिया था जाे खाली थी या बाड़े में थी।

आज का राशिफल

मेष
Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
मेष|Aries

पॉजिटिव- आज आप में काम करने की इच्छा शक्ति कम होगी, परंतु फिर भी जरूरी कामकाज आप समय पर पूरे कर लेंगे। किसी मांगलिक कार्य संबंधी व्यवस्था में आप व्यस्त रह सकते हैं। आपकी छवि में निखार आएगा। आप अपने अच...

और पढ़ें

Open Dainik Bhaskar in...
  • Dainik Bhaskar App
  • BrowserBrowser