पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें
  • Hindi News
  • Local
  • Rajasthan
  • Jaipur
  • Bharatpur BJP District President Shailesh Digambar Singh's Sarcasm On Raghu Sharma You Won Ajmer Elections Because Of Sachin Pilot, Then Went Back To Gehlot Ji

सियासी ट्वीट वॉर मेंं पायलट का जिक्र:भरतपुर बीजेपी जिलाध्यक्ष का रघु शर्मा पर कटाक्ष- अजमेर चुनाव पायलट की वजह से जीते, फिर पलटी मारकर गहलोत जी के पास चले गए आप

जयपुरएक महीने पहले
  • कॉपी लिंक
यह फोटो फरवरी 2018 में अजमेर लोकसभा उपचुनाव में रघु शर्मा की जीत के बाद का है - Dainik Bhaskar
यह फोटो फरवरी 2018 में अजमेर लोकसभा उपचुनाव में रघु शर्मा की जीत के बाद का है

स्वास्थ्य मंत्री रघु शर्मा और उपनेता प्रतिपक्ष राजेंद्र राठौड़ के बीच ट्विटर वॉर में तीसरे पक्ष की एंट्री भी हो गई है। पूर्व और मौजूदा स्वास्थ्य मंत्री के बीच ट्विटर पर जारी वार पलटवार के बीच पूर्व स्वास्थ्य मंत्री के पुत्र ने पायलट का जिक्र कर बहस को नया मोड़ दे दिया है। बीजेपी के भरतपुर जिलाध्यक्ष और पूर्व स्वास्थ्य मंत्री दिवंगत दिगंबर सिंह के बेटे शैलेश सिंह ने अजमेर उपचुनाव में रघु शर्मा की जीत के पीछे सचिन पायलट को श्रेय देकर कटाक्ष किया है।

रघु शर्मा ने राजेंद्र राठौड़ के तंज का जवाब देते हुए अजमेर में आठों सीटों पर बीजेपी को हरवाने का जिक्र किया था। इस पर शैलेश सिंह ने जवाब देते हुए लिखा- आप अजमेर का चुनाव पायलट जी की वजह से जीते, फिर पलटी मारकर गहलोत जी के पास चले गए। आपके कार्यकाल में प्रदेश में हजारों निर्दोष कहीं ऑक्सीजन तो कहीं इंजेक्शन, दवाइयों की कमी की वजह से मर गए। इतना सब होने के बाद भी आप राजेंद्र राठौड़ जी जैसे जमीन से जुड़े व्यक्ति को नसीहत दे रहे हैं। रघु शर्मा ने अभी तक इस कमेंट का जवाब नहीं दिया है।

रघु शर्मा ने राजेंद्र राठौड पर तंज कसते हुए ट्विट किया था- चूरू में आप बीजेपी के पूर्व ​प्रदेशाध्यक्ष जगदीश माथुर को हराने के लिए लड़े थे लेकिन पीले चुनाव में जमानत जब्त हो गई, दूसरे चुनाव में केवल दो हजार वोट आए। उसके बाद हुए चुनाव में आप जनता दल से जीते और पार्टी का विघटन करके भाजपा में चले गये। मैं तीन चुनाव जीता जिसमें एक अजमेर लोकसभा का भी चुनाव शामिल है। जिसमें आठों विधानसभाओं से भाजपा को करारी हार का सामना करना पड़ा।

राजेंद्र राठौड़ और दिगंबर सिंह में आज भी वही दोस्ती

दिवंगत बीजेपी नेता, पूर्व स्वास्थ्य मंत्री दिगंबर सिंह और राजेंद्र राठौड़ के बीच गहरी दोस्ती थी। आज भी दोनों परिवारों में अच्छे संबंध हैं। राठौड़ के बेटे और शैलेश सिंह में भी अच्छी दोस्ती है, इसीलिए शैलेश सिंह इस ट्वीट वॉर में राजेंद्र राठौड़ के पक्ष में कूदे।

पायलट के जिक्र वाले तंज का जवाब नहीं दिया

रघु शर्मा ने भरतपुर बीजेपी जिलाध्यक्ष के तंज का जवाब नहीं दिया, लेकिन कई यूजर्स ने रोचक कमेंट किए हैं। सचिन पायलट और अशोक गहलोत खेमों के बीच चल रही खींचतान की वजह से बीजेपी नेता पहले भी सरकार को निशाने पर लेते रहे हैं, बीजपी के नेता सचिन पायलट को लेकर गहलोत पर कटाक्ष करते रहे हैं।

पायलट के प्रदेशाध्यक्ष रहते कांग्रेस की एकतरफा जीत

वसुंधरा राजे सरकार के कार्यकाल के दौरान फरवरी 2018 में अजमेर, अलवर लोकसभा और मांडलगढ़ विधानसभा सीट के उपचुनावों में कांग्रेस की एकतरफा जीत हुई थी। इस एकतरफा जीत को कांग्रेस ने वसुंधरा सरकार के प्रति लोगों की नाराजगी का प्रतीक बताया था। इस जीत ने कांग्रेस प्रदेशाध्यक्ष के तौर पर सचिन पायलट का कद बढ़ाया, अजमेर उपचुनाव में पायलट ने दिन रात कैंपेन किया था और गांव-गांव जाकर रघु शर्मा के लिए वोट मांगे थे। रघु शर्मा ने 84 हजार वोटों से यह चुनाव जीता था। शैलेश सिंह ने इसी पर तंज कसा है।

ट्विटर पर भिड़े स्वास्थ्य मंत्री और उपनेता प्रतिपक्ष:रघु शर्मा बोले- राजेंद्र राठौड़ न तीन में न तेरह में, राठौड़ का पलटवार- मैं 3 में न 13 में लेकिन 7 बार जीता,आप सात बार लड़कर दो बार ही जीते

खबरें और भी हैं...