पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

बीजेपी प्रदेशाध्यक्ष सतीश पूनियां से खास बातचीत:भास्कर - 2 जगह बड़े मार्जिन से हारे, रणनीति कैसे फेल हुई?, पूनियां- राजसमंद में ताे हम शेर के मुंह से शिकार छीन लाए

जयपुर12 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
बीजेपी प्रदेशाध्यक्ष सतीश पूनियां। - Dainik Bhaskar
बीजेपी प्रदेशाध्यक्ष सतीश पूनियां।

बीजेपी प्रदेशाध्यक्ष सतीश पूनियां ने उप चुनाव परिणामाें पर कहा कि राजसमंद सीट की जीत भी शेर के मुंह में शिकार छीनने के बराबर मानी जाए। पार्टी के कार्यकर्ता इसे सकारात्मक लेते हुए ऊर्जा के साथ आगे बढ़े। राजसमंद में सीएम गहलाेत, सीपी जाेशी आदि दिग्गज नेताओं ने जीत की जिम्मेदारी लेते हुए काम कराया था।

बीजेपी कार्यकर्ताओं ने अच्छी जंग लड़ी और करारा जवाब दिया। सहाड़ा और सुजानगढ़ में वाेटाें के डिवीजन से प्रत्याशियाें की हार हुई। बहरहाल इसे बराबरी का मुकाबला माना जाएं और कार्यकर्ता और जाेश से अगली लड़ाई के लिए तैयार रहें।

सुजानगढ़ और सहाड़ा की पराजय पर बोले: यहां वाेटाे के डिवीजन की वजह से हारे

Q बीजेपी 2 जगह बड़े मार्जिन से हारी और राजसमंद सीट भी सबसे कम मार्जिन से जीती, आपकी रणनीति फेल कैसे हाे गई?
जवाब:
गहलाेत सरकार की नियत तीनाें सीट जीतने की थी। हम उन्हें एक सीट पर राेकने में सफल रहे। ये चुनाव बीजेपी ने प्रतिकुल परिस्थितियाें में लड़ा। हमारे वाेटाें का डीविजन हुआ। बहरहाल सरकार के बलबूते पर कांग्रेस जहां खड़ी थी हमने उन्हें वहीं लाकर खड़ा कर दिया। राजसमंद की जीत भी पार्टी के लिए महत्वपूर्ण है, क्याेंकि वहां ताे हम शेर के मुंह से शिकार लेकर आए हैं। ये चुनाव कांग्रेस से ज्यादा सरकार और मशीनरी ने लड़ा था।

Q भाजपा में गुटबाजी की वजह से पार्टी का प्रदर्शन खराब रहा, क्या भितरघात हुआ और हुआ ताे क्या करने जा रहे हैं?
जवाब :
इस पर विश्लेषण करने की जरूरत है, लेकिन इस बात से इंकार नहीं कर सकता कि भितरघात नहीं हुआ हाेगा। इस बारे में रिपोर्ट बनेगी ताे इस पर भी चर्चा हाेगी।

Q सभी नेताओं काे एकसाथ लेकर नहीं चल पा रहे हैं या एकजुट नहीं कर पाए?
जवाब :
यह देश की सबसे बड़ी पार्टी है। काेई भजनमंडली ताे है नहीं। अंतरविराेध, महत्वाकांक्षा हाेना लाजमी है। हमने सभी काे साथ लेकर चलने में काेई कसर नहीं छाेड़ी।

Q ये चुनाव आपको क्या संकेत दे रहे हैं?
जवाब :
ये चुनाव मेरे लिए अच्छी सीख के रूप में संकेत दे रहे हैं। चुनाव हारना-जीतना ताे एक पार्ट है। वैसे भी जब हमारी सरकार थी तब भी हम उपचुनाव हारे व जीते थे।

Q वसुंधरा राजे ने चुनाव से दूरी बनाए रखी। इससे पार्टी को नुकसान हुआ?
जवाब
: ये सवाल ताे आप उन्हीं से पूछिए।

Q क्या अब पार्टी अपने कामकाज की रणनीति में बदलाव करेगी?
जवाब :
पार्टी के कामकाजाें में सुधार की गुंजाइश है और बदलते समय के साथ हमेशा रहेगी। अब विधानसभाओं में नई व अच्छी लीडरशिप तैयार करना, पार्टी काे गांव-ढाणियाें में और मजबूती देने जैसे कई बिंदुओं पर काम जारी है।

Q पितलिया प्रकरण से नुकसान हुआ?
जवाब:
हार का एक कारण नहीं हाेता। हां, तत्कालीन प्रबंधन सहाड़ा में खराब हुआ था जिसका नुकसान हुआ। वाेटाें के डिवीजन से नुकसान हुआ।

Q चूरू आपका, राठाैड़ सहित कई दिग्गज नेताओं का गृह जिला है, फिर कैसे हारे?
जवाब:
सुजानगढ़ मेरी पैतृक विस नहीं है। मेरी जिम्मेवारी तीनाें विस की है। जहां पर जीते हैं उसकी चर्चा कराे।

खबरें और भी हैं...

    आज का राशिफल

    मेष
    Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
    मेष|Aries

    पॉजिटिव - आर्थिक स्थिति में सुधार लाने के लिए आप अपने प्रयासों में कुछ परिवर्तन लाएंगे और इसमें आपको कामयाबी भी मिलेगी। कुछ समय घर में बागवानी करने तथा बच्चों के साथ व्यतीत करने से मानसिक सुकून मिलेगा...

    और पढ़ें