रिश्वत लेते पकड़ी गई ड्रग इंस्पेक्टर:बोली-सर आप को तो पता है, पैसा ऊपर तक देना पड़ता है, नहीं तो अधिकारी तबादला कर देते हैं

जयपुरएक वर्ष पहले

जयपुर में एक महिला ड्रग इंस्पेक्टर सिंधु कुमारी को रिश्वत लेने के आरोप में गिरफ्तार किया गया है। महिला के बारे में कहा जा रहा है कि वह मेडिकल स्टोर पर जांच नहीं करने की एवज में लोगों से रिश्वत लेती थी। सिंधु कुमारी को 5 हजार रुपए की रिश्वत लेते हुए ट्रैप किया गया। ड्रग इंस्पेक्टर को जब एसीबी ने पकड़ा तो वह बोली- सर आप को तो पता है, पैसा ऊपर तक देना पड़ता है, नहीं तो अधिकारी बीकानेर तबादला कर देते हैं।

‘तेरी दुकान अच्छी चलती है, तुझसे 10 हजार रुपए ही लूंगी’
दरअसल, परिवादी एसीबी मुख्यालय लगभग 10 दिन पहले आया था। उसने एसीबी को बताया कि ड्रग इंस्पेक्टर जबरन 10 हजार रुपए मांग रही है। जब परिवादी बोला मैडम रेट 5 हजार रुपए का है तो सिंधु बोली तेरी दुकान अच्छी चलती है। तुझसे 10 हजार रुपए ही लूंगी। परिवादी 5 हजार रुपए पहले दे चुका था।

5 हजार के लिए परेशान कर रही थी महिला
इसके बाद सिंधु उसे बार-बार 5 हजार रुपए के लिए परेशान कर रही थी। एसीबी में शिकायत के बाद परिवादी को आज 5 हजार रुपए लेकर बीटू बाईपास पर एक रेस्त्रां में आने के लिए कहा। इस पर पहले से एसीबी टीम मौजूद थी। टीम ने पैसा लेते ही सिंधु को गिरफ्तार कर लिया।

तीन महीने पर होती है मेडिकल स्टोर की जांच
सिंधु कुमारी मूल रूप से बिहार की रहने वाली हैं। हेल्थ डिपार्टमेंट में साल 2013 की ज्वॉइनिंग है। जांच में सामने आया कि सिंधु के सर्किल में 500 मेडिकल स्टोर हैं। जिन की दवाइयों से लेकर स्पेस तक की जांच सिंधु कुमारी करती थी। तीन-तीन माह में ड्रग इंस्पेक्टर इन मेडिकल स्टोर की जांच करते हैं। हर मेडिकल स्टोर जांच नहीं करने की एवज में तीन माह में 5 हजार रुपए की वसूली की जा रही थी।