• Hindi News
  • Local
  • Rajasthan
  • Jaipur
  • Candidates Will Be Able To Travel For Free In Rajasthan Roadways Buses From September 20 To 30, The State Government Has Issued An Order

REET अभ्यर्थियों को बड़ी राहत:राजस्थान रोडवेज की बसों में 20 से 30 सितंबर तक निशुल्क यात्रा कर सकेंगे अभ्यर्थी, राज्य सरकार ने जारी किया आदेश

जयपुर2 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
सबइन्स्पेक्टर भर्ती परीक्षा के दौरान जयपुर में बस स्टैंड पर छात्रों की भीड़। - Dainik Bhaskar
सबइन्स्पेक्टर भर्ती परीक्षा के दौरान जयपुर में बस स्टैंड पर छात्रों की भीड़।

राजस्थान की सबसे बड़ी परीक्षा REET का आयोजन 26 सितम्बर को होने जा रहा है। इस परीक्षा में 31 हजार पदों के लिए 16 लाख से ज्यादा परीक्षार्थियों के शामिल होने की उम्मीद है। ऐसे में परीक्षार्थियों के आवागमन के लिए राजस्थान सरकार ने रोडवेज बसों में निशुल्क यात्रा करने की राहत दी है। जिसके तहत राजस्थान सीमा में 20 सितंबर से 30 सितंबर तक REET अभ्यार्थी अपना प्रवेश पत्र दिखाकर कहीं भी निशुल्क यात्रा कर सकता है। हालांकि इस दौरान अभ्यार्थी को निशुल्क टिकट लेना अनिवार्य होगा।

रोडवेज़ बसों के साथ प्राइवेट बसें,टैक्सी और रेल का सहारा
ट्रांसपोर्ट डिपार्टमेंट की ओर से यह तैयारी की जा रही है जिसमे राजस्थान रोडवेज की 3500 बसों में रेग्युलर पैसेंजर्स के साथ स्टूडेंट्स सफर करेंगे। प्रदेश में सभी जगहों पर निजी बसों, टैक्सी, कैब और रेल से भी सफर करने की व्यवस्था है। इसके लिए प्रदेश के लिए सभी आरटीओ-डीटीओ को अपने क्षेत्रों में परिवहन व्यवस्था के लिए कंट्रोल रूम बनाने के निर्देश दे दिए गए हैं। 23 सितंबर से कंट्रोल रूम शुरू हो जाएंगे। सभी अधिकारी अपने जिला प्रशासन, रेलवे, राजस्थान राज्य पथ परिवहन निगम के अधिकारियों, टैक्सी, सिटी बस ऑपरेर्ट्स यूनियन ऑपरेटर्स से कॉर्डिनेशन कर के रीट कैंडिडेट्स को दिक्कत आए बिना यात्रा तय करवाएंगे।

ट्रांसपोर्ट कमिश्नर ने अभ्यार्थियों से की अपील
कमिश्नर महेन्द्र सोनी ने रीट अभ्यार्थियों से अपील की है कि सभी के लिए ज़रूरी संख्या में परिवहन के साधन उपलब्ध हैं। फिर भी परेशानी से बचने के लिए संभव हो तो परीक्षा के दिन से 1-2 दिन पहले और 1-2 दिन बाद में यात्रा करें। ड्राइवर और कंडक्टर की ओर से दी गई जानकारी और सलाह को मानें। बस स्टैंडों पर व्यवस्था संभाल रहे परिवहन कर्मी, पुलिस कर्मियों और दूसरे स्वयंसेवकों के निर्देश मानकर ट्रैफिक व्यवस्था को सफल बनाने में अपना योगदान दें।

खबरें और भी हैं...