पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें
  • Hindi News
  • Local
  • Rajasthan
  • Jaipur
  • Cash Loot After Kidnapping At Sanganer Sadar Jaipur With A Passengers Returning To The Village On Holi, Now Three Arrested By Police

होली पर पकड़े गए तीन लुटेरे:पीड़ित ने पुलिस को बताया- लुटेरों की कार की एक लाइट टूटी हुई थी, इसी से मिला सुराग; CCTV में दिखे बदमाश और पकडे़ गए

जयपुर4 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
जयपुर में सांगानेर सदर थाना पुलिस की गिरफ्त में अपहरण व लूट की वारदात में शामिल बदमाश - Dainik Bhaskar
जयपुर में सांगानेर सदर थाना पुलिस की गिरफ्त में अपहरण व लूट की वारदात में शामिल बदमाश
  • गांव लौट रहे राहगीर का कार में अपहरण कर बदमाशों ने लूटे थे रुपए

होली के एक दिन पहले गांव लौट रहे राहगीर युवक का कार सवार बदमाशों ने अपहरण कर रुपए लूटे और उसे फेंककर भाग निकले। वारदात के बाद पीड़ित ने बताया कि कार की एक साइड लाइट टूटी हुई थी। इसी से पुलिस ने घटनास्थल के आसपास लगे CCTV फुटेज खंगाले। इनमें एक कार नजर आई। जिसकी लाइट टूटी थी। इसके बाद पुलिस ने गैंग में शामिल तीन बदमाशों को रविवार को गिरफ्तार कर लिया। पुलिस ने वारदात में प्रयुक्त कार भी जब्त कर ली है।

डीसीपी (साउथ) हरेंद्र महावर ने बताया कि गिरफ्तार आरोपी विक्रम मीणा (22) निवासी मलारना चोड़ थाना मलारना डूंगर जिला सवाईमाधोपुर है। दूसरा आरोपी महेश बैरवा (27) और विनोद मीणा (28) दौसा जिले में कोतवाली थाना इलाके में बैरवा मोहल्ला आौर छतरीवाली ढाणी में रहते है। वहीं, वारदात का शिकार हुआ युवक 27 मार्च को बालाजी मार्केट सीतापुरा इंडस्ट्रीयल एरिया से अपने गांव सीतारामपुरा जा रहा था।

फैक्ट्री से घर लौट रहा था तभी लूटा

तभी पीछा करते हुए एक कार पीड़ित युवक के पास आकर रुकी। इसमें सवार चार बदमाशों ने कार से उतरकर उससे मारपीट की और फिर उसे जबरन कार में पटककर पीटा। हथियार दिखाकर पीड़ित की जेब में रखे 7 हजार रुपए छीन लिए। इसके बाद बॉम्बे अस्पताल की तरफ पटककर भाग गए। तब पीड़ित ने देखा कि कार की एक लाइट टूटी हुई है। उसने सांगानेर सदर थाने पहुंचकर रिपोर्ट दर्ज करवाई। तब थाना प्रभारी हरिपाल सिंह राठौड़ और चाकसू एसीपी प्रोबेशनर आरपीएस दीपक कुमार गर्ग की अगुवाई में पुलिस ने सीसीटीवी फुटेज खंगाले।

कार की टूटी लाइट से पकड़े गए लुटेरे

पुलिस ने नाकाबंदी कर सीतापुरा रीको में आने व जाने वाली हर गाड़ी को चैक किया। तब एक लग्जरी कार की लाइट टूटी हुई नजर आई। संदेह होने पर पुलिस ने कार सवार तीनों बदमाशों से पूछताछ की। उन्होंने लूटपाट करना स्वीकार कर लिया। यह भी सामने आया कि यह गैंग सीतापुरा रीको एरिया में काम करने वाले श्रमिकों की रैकी करते है। इसके बाद रात को उनके घर लौटते वक्त अकेला देखकर लूटपाट की वारदात करते है। उनको गाड़ी में पटककर पिटाई करते है। इधर उधर घूमने के बाद उसे पटककर फरार हो जाते है।