• Hindi News
  • Local
  • Rajasthan
  • Jaipur
  • Caste, Asking Players In Registration Of Rajasthan Rural Olympics, Former Olympian Said We Have Never Seen Such A Column As A Player

जाति न पूछो खिलाड़ी की:राजस्थान ग्रामीण ओलिंपिक के रजिस्ट्रेशन में खिलाड़ियों से पूछ रहे जाति, पूर्व ओलिंपियन बोले- हमने खिलाड़ी रहते कभी ऐसा कॉलम नहीं देखा

जयपुर2 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
देश में पहली बार ग्रामीण ओलिंपिक, हर उम्र के लोग खेलेंगे... यह हमारा गौरव... लेकिन खेलों को जाति के चश्मे से देखना गलत। - Dainik Bhaskar
देश में पहली बार ग्रामीण ओलिंपिक, हर उम्र के लोग खेलेंगे... यह हमारा गौरव... लेकिन खेलों को जाति के चश्मे से देखना गलत।

राजस्थान के लिए गर्व की बात है कि हम देश में पहली बार ग्रामीण ओलिंपिक का आयोजन करने जा रहे हैं। इसमें हर उम्र के खिलाड़ी हिस्सा ले सकेंगे। रजिस्ट्रेशन भी शुरू हो चुके हैं, लेकिन अब इन्हीं खेलों में जात-पात दिखने लगा है। जो खिलाड़ी हमेशा अपने देश और प्रदेश के लिए खेलता है, अब ग्रामीण ओलिंपिक के रजिस्ट्रेशन के फॉर्म में उनसे उनकी जाति पूछी जा रही है। रजिस्ट्रेशन फॉर्म भरते समय 7वें कॉलम में खिलाड़ियों को बताना होगा कि वह एससी, एसटी, ओबीसी, जनरल, एमबीसी और ईडब्ल्यूएस में से किस श्रेणी हैं।

मंत्री का तर्क-जो भी कर रहे, नियमों के तहत कर रहे हैं

इसमें जाति की क्या बात है। हम तो खिलाड़ियों का आइडेंटिफिकेशन ले रहे हैं। आईडी कार्ड वगैरह में भी तो उनका आइडेंटिफिकेशन होता है। जो भी कर रहे हैं, नियमों के तहत ही कर रहे हैं। -अशोक चांदना, खेल मंत्री

खिलाड़ियों ने बताया- ऐसा तो ओलिंपिक में भी नहीं होता

यह गलत है। मैं तो इसका विरोध करता हूं। खेल में जाति आनी ही नहीं चाहिए। ये लोग खेल नहीं जातियों में प्रभाव जमाने के लिए राजनीति कर रहे हैं।-गोपाल सैनी, पूर्व ओलिंपियन

खिलाड़ियों के लिए ऐसा कोई कॉलम नहीं होता। मैंने अपने पूरे जीवन में खिलाड़ी रहते कभी भी जाति का कॉलम नहीं भरा। खेलों में तो जिसमें दम है, वह आगे आता है। -श्रीराम सिंह, पूर्व ओलिंपियन

हॉकी खिलाड़ियों को पंजाबी बताकर अमरिंदर भी हो चुके ट्रोल

टोक्यो ओलिंपिक-2020 में भारतीय पुरुष हॉकी टीम ने ब्रॉन्ज मेडल जीता था। तब पंजाब के तत्कालीन मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिंदर सिंह ने सोशल मीडिया पर लिखा था कि हॉकी में पंजाबियों ने देश को मेडल दिलाया। इस जातिवादी सोशल मीडिया पोस्ट के बाद कैप्टन काफी ट्रोल हुए थे।

ग्रामीण ओलिंपिक में 50 लाख लोगों को जोड़ने का टारगेट, रजिस्ट्रेशन अब 15 तक
सीएम अशोक गहलोत ने ग्रामीण खेलों के आयोजन की बजट में घोषणा की थी। तब 50 लाख लोगों को जोड़ने का लक्ष्य रखा गया था। हालांकि अब तक 2-2.5 लाख रजिस्ट्रेशन ही हुए हैं। रजिस्ट्रेशन की आिखरी तिथि भी 30 सितंबर थी। कम रजिस्ट्रेशन को देखते हुए अंतिम तिथि 15 अक्टूबर तक बढ़ाई है। आवेदन ऑनलाइन व ऑफलाइन दोनों तरह से होंगे।

खबरें और भी हैं...