पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

वारदात के बाद काेटा भाग गया था जीवाणु:23 दिन में चालान पेश, 36 गवाह, डेढ़ साल में ही फैसला हो गया

जयपुर2 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
  • पुलिस ने 36 गवाहाें के बयान करवाए, दाे पुलिसकर्मियों को आउट ऑफ टर्न प्रमाेशन

सीरियल रेपिस्ट जीवाणु शास्त्री नगर व भट्टा बस्ती में चार साल व सात साल की बालिकाओं से दुष्कर्म कर काेटा भाग गया था। जिसे कमिश्नरेट की टीम पकड़ कर लाई और महज 23 दिन में जांच पूरी कर काेर्ट में चालान पेश किया। साथ ही काेर्ट में 36 गवाहाें के बयान करवाए।

सभी गवाहाें ने काेर्ट में अभियाेजन अनुसंधान काे तायद किया। वारदात के बाद शहर के हालत तनावपूर्ण हाे गए थे। मामले का खुलासा करने वाले दाे पुलिसकर्मी दिनेश यादव व माेहम्मद मरगूब काे आउट ऑफ टर्न प्रमाेशन दिया गया। साथ ही डीजीपी ने अतिरिक्त पुलिस उपायुक्त धर्मेन्द्र सागर एवं उनकी टीम काे डीजीपी डिस्क से सम्मानित किया गया।

पिछले साल दाे बालिकाओं से दुष्कर्म के बाद शहर में तनावपूर्ण हो गए थे हालात, संदिग्ध से पूछताछ करना भी मुश्किल था

मामले में गत वर्ष 23 जून काे चार साल की बालिका के साथ दुष्कर्म एवं एक जुलाई काे सात साल की बालिका के साथ दुष्कर्म का मामला सामने आने के बाद शहर में तनावपूर्ण हालात हाे गए थे। मामले में आराेपी की गिरफ्तारी काे लेकर भट्टा बस्ती, शास्त्री नगर में लाेगाें द्वारा प्रदर्शन किया गया था।

लाेगाें में आक्राेश था। ऐसे में साम्प्रदायिक साैहार्द बिगड़ने की स्थिति पैदा हाे गई थी। ऐसे में किसी भी संदिग्ध से पूछताछ करना मुश्किल था। मामले में कई टीमाें का गठन किया गया। कमिश्नरेट की सीआईयू टीम और थानाें की टीमाें ने पूरा प्रयास कर आरेापी जीवाणु काे काेटा में पकड़ लिया। दोनों मामलाें काे केस आफिसर स्कीम में लेकर सब इंस्पेक्टर प्रभू सिंह काे केस आफिसर बनाया गया।

साथ ही विशेष लाेक अभियाेजक पाेक्साे काेर्ट महावीर सिंह किशनावत काे प्रकरणाें की पैरवी के लिए नियुक्त किया गया। अभियाेजन साक्ष्य छह मार्च 2020 तक पूर्ण हाे गए। शुक्रवार काे पाेक्साे कार्ट ने अभियुक्त सिकंदर उर्फ जीवाणु काे आजीवन कारावास व तीन लाख 11 हजार रूपए के जुर्माने की सजा सुनाई।

दुष्कर्म के बाद नाई की थड़ी जाकर छिप गया, अखबाराें में फुटेज देखे ताे काेटा भाग गया

पुलिस पूछताछ में जीवाणु ने बताया था कि वह एक जुलाई को शास्त्री नगर में नाबालिग बालिका से दुष्कर्म के बाद दाे जुलाई को जयपुर में ही नाई की थड़ी के पास छिपा था। अखबाराें में सीसीटीवी फुटेज देखने के बाद वह जयपुर से फरार हाे गया। चार जुलाई को टोंक की ओर चला गया था और पांच जुलाई को देवली के ठेके पर सेल्समैन से झगड़ा किया।

वहां भी वह मैनेजर सोहन लाल को गोली मारकर 20 हजार रुपये लेकर फरार हो गया। देवली में लूट के बाद में आरोपी जीवाणु कोटा में अपने दोस्त के पास छिपा हुआ था। पुलिस रेपिस्ट के मोबाइल नंबर की लोकेशन को खंगालते हुए कोटा तक पहुंची और शनिवार की शाम 5 बजे भीमगंज में चाय की थड़ी पर उसे धर दबोचा।

पुलिस पूछताछ में उसने कबूला कि 2015 में भी जमानत पर बाहर आने के बाद उसने भट्टा बस्ती इलाके में दो बच्चों से छेड़छाड़ की थी। तब पुलिस ने पकड़ लिया था लेकिन वो पुलिसकर्मियों पर सरिए से हमला कर भाग निकला था। जीवाणु पर अब तक 12 केस दर्ज हो चुके हैं और 6 बार जेल जा चुका है।

40 से ज्यादा दुष्कर्म की वारदातें कबूली
काेटा से पकड़कर जब पुलिस आरेापी काे जयपुर लेकर आई और पूछताछ की ताे उसने दुष्कर्म की कई वारदातें करना कबूल किया। आरेापी ने पूछताछ में बताया कि खानाबदाेश रहने वाली महिलाओं काे झांसा देकर कई बार दुष्कर्म किया। साथ ही लूटपाट की कई वारदातें की थी। साथी किटाणु के साथ मिलकर उसने चेन स्नेचिंग की कई वारदातें करना कबूल किया था।

आराेपी ने पकड़े जाने के बाद पुलिस अधिकारियाें काे कहा था कि जेल से छूटने के बाद उसकी सूचना देने वाले काे वह माैत के घाट उतारेगा। मेडिकल जांच में वह एड्स जैसे लाइलाज बीमारी से ग्रसित हाेने का पता चला था। पूछताछ में उसने बताया था कि करीब 40 से ज्यादा किन्नर, खानाबदाेश व नाबालिग से दुष्कर्म करने की बात कबूल की थी।

आज का राशिफल

मेष
Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
मेष|Aries

पॉजिटिव- व्यस्तता के बावजूद आप अपने घर परिवार की खुशियों के लिए भी समय निकालेंगे। घर की देखरेख से संबंधित कुछ गतिविधियां होंगी। इस समय अपनी कार्य क्षमता पर पूर्ण विश्वास रखकर अपनी योजनाओं को कार्य रूप...

और पढ़ें

Open Dainik Bhaskar in...
  • Dainik Bhaskar App
  • BrowserBrowser