• Hindi News
  • Local
  • Rajasthan
  • Jaipur
  • Cheating Case By Showing Fear Of Robbery To A Old Man, On The Pretext Of Keeping A Handkerchief Ran Away By Handing Over A Steel Bracelet In Place Of Gold Bracelet

जयपुर में बदमाशों ने पुलिसकर्मी बनकर ठगा:मंदिर जा रहे बुजुर्ग को लूटपाट का डर दिखाया, हाथ में पहना सोने का कड़ा रुमाल में रखने के बहाने स्टील का कड़ा थमा कर भागे

जयपुर19 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
जयपुर में खुद को पुलिसकर्मी बताकर दो बदमाशों ने 77 साल के बुजुर्ग के साथ ठगी की और उनका सोने का कड़ा चुराकर भाग निकले - Dainik Bhaskar
जयपुर में खुद को पुलिसकर्मी बताकर दो बदमाशों ने 77 साल के बुजुर्ग के साथ ठगी की और उनका सोने का कड़ा चुराकर भाग निकले

शहर के मानसरोवर इलाके में खुद को पुलिसकर्मी बताते हुए दो बदमाशों ने एक बुजुर्ग व्यक्ति को अपराध का डर दिखाया। एसपी साहब के आने पर दो हजार रुपए का चालान काटने की बात कही। फिर सोने का कड़ा हाथ से उतरवाकर रुमाल में लपेटकर रखने के बहाने पार कर लिया और स्टील से बना कड़ा रखकर भाग गए। वारदात के बाद पीड़ित ने मानसरोवर थाने में केस दर्ज करवाया।

ठगी की वारदात कावेरी पथ, मानसरोवर स्थित कावेरी अपार्टमेंट में रहने वाले 77 वर्षीय राकेश बजाज के साथ हुई। वह बुधवार को सुबह 10 बजे अपने फ्लैट से नजदीक ही एक मंदिर में जा रहे थे। तभी मंदिर के पास दो व्यक्ति एक मोटरसाइकिल लेकर खड़े हुए नजर आए। दोनों बदमाशों ने खुद को पुलिसकर्मी बताकर हुए रोका।

बदमाश बोले- एसपी साहब आ रहे है, उन्होंने आपको देखा तो 2000 रुपए का जुर्माना लगा देंगे

बदमाशों ने पीड़ित से कहा कि आपने सोने के आभूषण पहन रखे है। आप अखबार नहीं पढ़ते क्या, रोजाना बुजुर्गों से जेवर लूटने की घटनाएं हो रही है। फिर बदमाशों ने पीड़ित राकेश बजाज को समझाते हुए कहा कि आप इन आभूषणों को उतार कर जेब में रख लो और दोबारा इनको मत पहनना।

राकेश बजाज ने दोनों बदमाशों की बात पर विश्वास करते हुए कहा कि ठीक है, घर जाकर उतार दूंगा। तब बदमाश कहने लगे कि पीछे-पीछे SP साहब आ रहे हैं, अगर उन्होंने आपको देख लिया तो 2000 रुपए का जुर्माना कर देंगे। एक बार कोशिश करके इन सोने के आभूषणों को उतार कर जेब में रख लीजिए। इस पर बदमाशों की बातों में आकर राकेश बजाज ने सोने का कड़ा उतार लिया।

बदमाशों ने कड़े को रुमाल में लपेटने के बहाने चुरा लिया और स्टील का कड़ा रख दिया

कड़े को अपनी जेब में रखने लगे तो बदमाशों ने कहा कि लाओ, हम कागज में लपेट कर रख देते है। फिर पुलिसकर्मी बने एक बदमाश ने जिद करते हुए पीड़ित के हाथ से सोने का कड़ा ले लिया। उसको एक कागज में लपेट कर रख दिया। फिर पीड़ित से एक रुमाल मांगा। फिर कड़े को रुमाल में लपेट कर राकेश बजाज को दे दिया।

बदमाशों के जाने के बाद पीड़ित ने करीब 20 कदम दूर मंदिर पहुंचकर कागज व रुमाल खोला। तब सोने की बजाए स्टील का बना कड़ा रखा हुआ था। तब घर आकर पुलिस कंट्रोल रुम को सूचना दी। पुलिस मौके पर पहुंची। तब बताया कि दोनों बदमाशों ने हेलमेट पहने थे। उन्होंने चेहरे पर मास्क व चश्मा लगा रखा था। एक बदमाश ने हरे रंग की चेक शर्ट व दूसरे ने लाइनदार शर्ट पहन रखी थी। वे बाइक का पूरा नंबर भी नहीं देख सके।

खबरें और भी हैं...