शिक्षा विभाग में होगी 90,000 से ज्यादा भर्तियां:CM गहलोत बोले- 2023 तक प्रदेश में खुलेंगे 2000 महात्मा गांधी इंग्लिश मीडियम स्कूल

जयपुर8 महीने पहले
शिक्षा विभाग की समीक्षा बैठक लेते अशोक गहलोत।

राजस्थान में नया शैक्षणिक सत्र शुरू होने से पहले ही शिक्षा विभाग पूरी तरह एक्टिव हो गया है।मुख्यमंत्री अशोक गहलोत की अध्यक्षता में शिक्षा विभाग की समीक्षा बैठक आयोजित की गई। जिसमें शिक्षा विभाग में लंबित चल रही भर्ती प्रक्रिया को जल्द पूरा करने पर मंथन किया गया। वहीं विधानसभा चुनाव से पहले प्रदेश में 2000 महात्मा गांधी स्कूल खोलने का लक्ष्य रखा गया। इसके साथ ही बैठक में अगले एक साल में शिक्षा विभाग में 90 हजार से ज्यादा टीचर्स के पदों पर भर्ती करने का लक्ष्य रखा गया।

1 करोड़ नामांकन का टार्गेट

समीक्षा बैठक के दौरान राजस्थान के सरकारी स्कूलों में नामांकन बढ़ाने का लक्ष्य रखा गया। CM गहलोत ने कहा की इस बार प्रदेश में 98 लाख से ज्यादा नामांकन हुए है। लेकिन हमें लक्ष्य को बढ़ाते हुए इसे एक करोड़ तक पहुंचना होगा। उन्होंने कहा की प्रदेश में फ़िलहाल 749 महात्मा गांधी इंग्लिश मीडियम स्कूल स्थापित किये जा चुके है। ऐसे में 2023 शैक्षिणिक सत्र शुरू होने से पहले हमें प्रदेश के गांव और शहरों में 2000 इंग्लिश मीडियम स्कूल खोलने है। इसके साथ ही गहलोत ने इंग्लिश मीडियम स्कूलों में 10 हजार टीचर्स के पदों पर भर्ती प्रक्रिया को जल्द पूरा करने के आदेश दिए।

94,845 पदों पर होगी भर्ती
इस दौरान शिक्षा मंत्री बीडी. कल्ला ने बताया कि शिक्षा विभाग में दिसम्बर 2018 से अब तक विभाग में 64,706 पदों पर नियुक्तियां दी जा चुकी है। जबकि 24,966 पदोन्नतियां की गई हैं। इसके साथ ही शिक्षा विभाग में टीचर्स के 94,845 पदों पर भर्तियां प्रक्रियाधीन हैं। वहीं प्रारम्भिक शिक्षा के अन्तर्गत 15 हजार 500 पदों पर जिला परिषदों द्वारा 25 मई तक नियुक्ति कर दी जाएगी।