राजस्थान / सीएम गहलोत ने कहा- अस्थिविसर्जन के लिए निशुल्क चलाएंगे बसें, उत्तराखंड से बनी सहमति

सीएम ने कहा कि राज्य सरकार के आग्रह पर उत्तराखंड सरकार ने अस्थि विसर्जन के लिए बसों के आवागमन की सहमति दे दी है। सीएम ने कहा कि राज्य सरकार के आग्रह पर उत्तराखंड सरकार ने अस्थि विसर्जन के लिए बसों के आवागमन की सहमति दे दी है।
X
सीएम ने कहा कि राज्य सरकार के आग्रह पर उत्तराखंड सरकार ने अस्थि विसर्जन के लिए बसों के आवागमन की सहमति दे दी है।सीएम ने कहा कि राज्य सरकार के आग्रह पर उत्तराखंड सरकार ने अस्थि विसर्जन के लिए बसों के आवागमन की सहमति दे दी है।

  • यूपी सरकार से भी अस्थि विसर्जन के लिए बसाें काे प्रवेश देने के मसले पर सहमति के प्रयास किए जा रहे हैं

दैनिक भास्कर

May 23, 2020, 05:31 AM IST

जयपुर. प्रदेश में लाॅकडाउन लागू होने के बाद विभिन्न कारणों से दिवंगत परिजनों की अस्थि विसर्जन नहीं कर पाए लोगों को मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने बड़ी राहत दी है। अब ऐसे अस्थियां विसर्जन कराने के लिए विशेष बसें चलाई जाएंगी और किराया भी नहीं लिया जाएगा। इन बसाें में अस्थि विसर्जन के लिए जाने वाले किसी भी परिवार के दो या तीन सदस्य निशुल्क यात्रा कर सकेंगे। शुक्रवार को आयोजित उच्च स्तरीय समीक्षा बैठक में सीएम ने यह निर्णय लिया।

उन्होंने कहा- यह अत्यन्त पीड़ादायक है कि अपने परिजनों के निधन के बाद शोकाकुल परिवार उनकी अस्थियों का विसर्जन नहीं कर पाए। सीएम ने कहा कि राज्य सरकार के आग्रह पर उत्तराखंड सरकार ने अस्थि विसर्जन के लिए बसों के आवागमन की सहमति दे दी है। इससे शोक संतप्त परिजन अस्थि विसर्जन स्थलों पर सुगमतापूर्वक पहुंच सकेंगे। जल्द ही राजस्थान से हरिद्वार एवं अन्य अस्थि विसर्जन स्थलों के लिए रोज 4 या 5 बसें चलेंगी। ये शुरू में संभागीय मुख्यालयों से चलाई जाएंगी। इसके बाद जिला मुख्यालयों से संचालित होंगी। यूपी सरकार से भी अस्थि विसर्जन के लिए बसाें काे प्रवेश देने के मसले पर सहमति के प्रयास किए जा रहे हैं।

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना