पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App
  • Hindi News
  • National
  • Collectors Of 33 Districts Have Examinations On Every Saturday, Chief Secretary Gives Remarks

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

काबिलियत की परीक्षा:33 जिलों के कलेक्टरों की हर शनिवार को होती है परीक्षा, चीफ सेक्रेटरी देते हैं रिमार्क्स

जयपुर13 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
  • हर कलेक्टर को साप्ताहिक एग्जाम के तहत चीफ सेक्रेटरी के स्तर पर मिलता है टास्क, लाइव वीडियो बनाकर देनी होती है प्रजेंटेशन
  • 3 से 4 घंटे की होती है हर कलेक्टर की टास्क अवधि

प्रदेश में ऐसा पहली बार हो रहा है कि देश के आईएएस जैसे टाॅप एक्जाम में सफल हुए जिलों के कलेक्टर हर शनिवार को अपनी काबिलियत की परीक्षा देते हैं। 33 जिलाें के कलेक्टर के लिए बाकायदा हर शनिवार को अपने जिले के गांवों में जाना अनिवार्य कर दिया है। कलेक्टरों को साप्ताहिक एक्जाम के तहत चीफ सेक्रेटरी के स्तर से परीक्षण या टास्क दिया जाता है, उसको पूरा कर उसका बाकायदा लाइव परफॉर्मेंस का सबूत भेजना पड़ता है।

इस परीक्षा के लिए भी 3 से 4 घंटे का समय रखा हुआ है। अपने अपने जिले का दौरा करने के बाद भेजे लाइव वीडियो पर चीफ सेक्रेटरी रिमार्क देते हैं कि कलेक्टर ने जांच सही की या नहीं? हर शनिवार को शाम तक सभी कलेक्टरों को इंतजार रहता है कि सीएस उनको कितने अंक देंगे? जब तक शाबासी और नसीहत के रूप में सीएस निरंजन आर्य का 33 ही कलेक्टर्स को रिमार्क नहीं मिलता, सभी इसका इंतजार करते हैं। ऐसा प्रदेश की ब्यूरोक्रेसी में पहली बार हो रहा है।

इससे पूर्व पिछली वसुंधरा सरकार के समय कलेक्टरों के हर माह चार दौरे तय किए थे, लेकिन दिन फिक्स नहीं था। लाइव रिपोर्ट की भी बाध्यता नहीं थी। प्रदेश में नए चीफ सेक्रेटरी निरंजन आर्य की इस एक्टिविटी को लेकर कुछ युवा कलेक्टरों में खासा उत्साह है, वहीं कुछ शनिवार को केंद्र या राज्य की योजनाओं और शासन व्यवस्था की नब्ज जानने के लिए फील्ड इंस्पेक्शन बाध्यकारी करने को लेकर परेशान भी दिखे।

पहले चरण में 8 पेपर, 5 पेपर कलेक्टर पास कर चुके; पिछले 5 सप्ताह में 90 फीसदी कलेक्टर हुए पास

चीफ सेक्रेटरी ने कलेक्टरों को शनिवारीय टास्क के तहत 8 विषय चुने हैं। इनमें से अब तक 5 योजनाओं का परीक्षण करवा चुके। अब 3 और योजनाओं का परीक्षण करवाया जाना है। पिछले 5 सप्ताह में दिए 5 टास्क में 90 प्रतिशत कलेक्टर पास हुए हैं। सभी के वीडियो और लाइव निरीक्षण तथा क्षेत्र में जनता को मिल रहे योजना लाभ की जानकारी पर सीएस ने संतोष प्रकट किया है।

इन 8 बिंदुओं पर खरा उतरना है कलेक्टरों को

  • पीएम आवास योजना की क्रियान्विति का जनता को लाभ मिलने का लाइव आंकलन, जनता से सवाल-जवाब और आवासों की क्वालिटी जांच।
  • उचित मूल्य की दुकानों की समय पर ओपनिंग, जनता को राशन मिलने की लाइव स्थिति, भ्रष्टाचार की जांच।
  • कोरोना वैक्सीनेशन से पहले की तैयारी, अब तक की कोरोना की स्थिति और उपचार के हालात लाइव।
  • मनरेगा के कार्यों का लाइव निरीक्षण, लोगों से पूछना कि समय पर भुगतान और मनरेगा के फायदे मिलते हैं कि नहीं।
  • अस्पताल पीएचसी-सीएचसी समय पर खुल रहे हैं कि नहीं, कितने मेडिकल स्टाफ समय पर आ रहे इसकी लाइव रिपोर्ट।

चूरू कलेक्टर ने पीएचसी देखी तो मिले सारे नदारद
पिछले दिनों सीएस के टास्क के तहत ही चूरू कलेक्टर क्षेत्र में निरीक्षण पर निकले। वे एक पीएचसी पर पहुंचे। समय हो चुका था। लेकिन पीएसची खुली भी नहीं। न ही कोई स्टाफ मिला। इस पर कलेक्टर ने पीएचसी स्टाफ को बुलाया और जांच के बाद लाइव रिपोर्ट सीएस को भेजी। कलेक्टर सांवर मल वर्मा का कहना है कि सीएस के आदेश से यह निरीक्षण किया था, जिसके बाद माैके पर स्टाफ नहीं मिला। ऐसे में एपीओ किया गया।

आज का राशिफल

मेष
Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
मेष|Aries

पॉजिटिव- व्यस्तता के बावजूद आप अपने घर परिवार की खुशियों के लिए भी समय निकालेंगे। घर की देखरेख से संबंधित कुछ गतिविधियां होंगी। इस समय अपनी कार्य क्षमता पर पूर्ण विश्वास रखकर अपनी योजनाओं को कार्य रूप...

और पढ़ें

Open Dainik Bhaskar in...
  • Dainik Bhaskar App
  • BrowserBrowser