पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App

निगम चुनाव:टिकट देने के लिए कांग्रेस-भाजपा एक-दूसरे की रणनीति का कर रही इंतजार, भाजपा प्रत्याशियों को देखकर कांग्रेस जारी करेगी लिस्ट

जयपुर12 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
एसीसी ऑब्जर्वर्स के सामने धरने पर बैठे कांग्रेसी नेता तो टिकट वितरण को लेकर मंत्रणा करते भाजपा पदाधिकारी।
  • कांग्रेस: टिकट वितरण पर घमासान, पर्यवेक्षकों के सामने धरने पर बैठे नेता
  • बीजेपी: जोधपुर की लिस्ट जारी, जयपुर के 50 वार्डों के लिए मीटिंग में विवाद

जयपुर, जोधपुर और कोटा नगर निगमों के चुनाव में टिकट वितरण को लेकर कांग्रेस में मचा घमासान समटने में नहीं आ रहा। एक तरफ विधायक प्रत्याशियों के बीच टिकट बंटवारे को लेकर होड़ मची है। तो दूसरी तरफ विधायकों में टिकट वितरण को लेकर असंतोष पनप रहा है। विद्याधर नगर से आने वाले कांग्रेस के एक नेता गिर्राज गर्ग तो अपने पैनल को टिकट दिए जाने की मांग को लेकर एआईसीसी ऑब्जर्वर्स के सामने शनिवार को धरने पर ही बैठ गए।

मालवीयनगर, सांगानेर में ही कमोबेश यही स्थिति बनी हुई है। मालवीय नगर में विधायक प्रत्याशी अर्चना शर्मा के अलावा राजीव अरोड़ा, सांगानेर में पुष्पेंद्र भारद्वाज के अलावा पंडित सुरेश मिश्रा व संजय बाफना, विद्याधर नगर में सीताराम अग्रवाल, विक्रम सिंह, ज्योति खंडेलवाल सहित कई अन्य नेता अपने पैनलों के लिए टिकटों की मांग कर रहे हैं। हालांकि इनमें से मौजूदा विधायक प्रत्याशी को ही वरीयता दिए जाने की बात कही जा रही है।

दूसरी तरफ विधायकों के बीच भी क्रेडिट की लड़ाई छिड़ गई है। विधायकों का कहना है कि यदि सिंबल वे नहीं बांटेंगे तो टिकट दिए जाने का क्रेडिट उन्हें नहीं मिलेगा। आदर्श नगर, हवामहल व किशनपोल जैसी विधानसभाओं में मौजूद मुस्मिल बहुल वार्ड में टिकट बंटवारा स्थानीय विधायकों के लिए सबसे बड़ी चुनौती बना हुआ है।

आपसी झगड़े से बचने के लिए इन वार्डों में से कुछ वार्ड ओपन रखे जा सकते हैं। जयपुर में 250 वार्डों में से करीब 35 वार्ड मुस्लिम बहुलता वाले हैं। इनमें से करीब 10 वार्डों में कांग्रेस के सिंबल के बिना ही चुनाव लड़वाया जा सकता है। इसमें सबसे ज्यादा वार्ड हवामहल के होने की संभावना है।

बिना सिंबल के ही भरे जा सकते हैं नामांकन
कांग्रेस में सिंबलों का विवाद जब तक हल नहीं हो जाता तब तक टिकट वितरण शुरू नहीं होगा। ऐसे में विधायक अपने खास दावेदारों में से कुछ को बिना सिंबल ही नामांकन दाखिल करने के लिए कह रहे हैं। जैसे ही विवाद खत्म होगा इन्हें पार्टी का सिंबल दे दिया जाएगा। जयपुर, जोधपुर और कोटा नगर निगमों के चुनाव में अखिल भारतीय कांग्रेस कमेटी की ओर से बनाए गए पर्यवेक्षक सचिन पायलट कैंप के लोगों को गेम टिकट वितरण में एडजस्ट करना चाहते हैं, सचिन पायलट कैंप के लोगों

आज भाजपा जयपुर के लिए जारी कर देगी प्रत्याशियों की सूची

बीजेपी की शनिवार को दिनभर चली मैराथन मीटिंग के बाद रात 12 बजे के बाद जाेधपुर शहर के वार्डों की पहली सूची जारी कर दी है। कोटा के 130 वार्डों पर सहमति बन गई है, जबकि 20 पर विवाद है। जयपुर में टिकट वितरण काे लेकर अब तक ढाई साै में से 176 वार्डों पर सहमति बन चुकी है। बीजेपी की पहली सूची रविवार काे जारी हाे जाएगी।

वहीं शहर के 50 वार्डों काे लेकर विवाद खड़ा हाे गया है। इन वार्डाें में शहर के विधायकाें पूर्व विधायकाें और संगठन के बीच मतभेद हाे गए है। इनमें विधायक नरपत सिंह राजवी, कालीचरण सराफ, पूर्व विधायक राजपाल सिंह शेखावत, कैलाश वर्मा आदि के क्षेत्र शामिल है। गाैरतलब है कि शनिवार काे दिनभर से देर रात तक चली बैठक में काेटा के 130 नाम फाइनल हुए हैं।

वहीं जाेधपुर में चार वार्डाें काे छाेड़कर सभी वार्डाें पर सहमति बनी है। बीजेपी टिकटाें में गुटाें में बंट गई है। नेताओं के अलग-अलग गुट हाेने से विवाद और सहमति नहीं बन पा रही है। इसी वजह से शहर के 50 वार्डों काे लेकर संगठन और विधायक और पूर्व विधायक आमने-सामने हाे रहे है।

बैठक में राष्ट्रीय सह संगठन महामंत्री वी सतीश, प्रदेश अध्यक्ष सतीश पूनिया, प्रदेश संगठन महामंत्री चंद्रशेखर, केंद्रीय मंत्री गजेंद्र सिंह शेखावत, अर्जुन राम मेघवाल, कैलाश चौधरी, नेता प्रतिपक्ष गुलाबचंद कटारिया, उप नेता प्रतिपक्ष राजेंद्र राठौड़ मौजूद थे।

इन मुद्दों को लेकर हुई चर्चा
बैठक में इन चुनाव में उठाए जाने वाले मुद्दों पर भी चर्चा हुई। खासकर कोरोना संक्रमण में सरकार के फेल होने, बढ़ते अपराध, टूटी सड़कें, शहर की लचर सफाई व्यवस्था जैसे मुद्दे पार्टी चुनाव में उठाएगी। पार्टी दृष्टि पत्र के जरिए अपना विजन भी बताएगी और ब्लैक पेपर के जरिए कांग्रेस की गलत नीतियों को भी उजागर करेगी।

सभी छह निगम जीतेंगे

भाजपा प्रदेशाध्यक्ष सतीश पूनियां ने पूनिया ने दावा किया कि 6 नगर निगमों में भाजपा की जीत तय है। भले ही कांग्रेस कितनी ही गड़बड़ी कर ले। पूनियां ने कहा कि मंडल प्रभारी, निकाय प्रभारी और स्थानीय प्रतिनिधियों ने चर्चा करके जो फाइनल किए हैं, उन पर बैठक में चर्चा हो रही है। जोधपुर के कुछ वार्डों में रणनीति के तहत फिलहाल नाम घोषित नहीं होंगे। चुनाव में किन मुद्दों को उठाना है यह भी बैठक में तय किया जाएगा। पहली लिस्ट जारी कर दी गई है। प्रभारियों को सिंबल बांटने का काम सौंपा गया है।

आज का राशिफल

मेष
Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
मेष|Aries

पॉजिटिव- आप अपनी दिनचर्या को संतुलित तथा व्यवस्थित बनाकर रखें, जिससे अधिकतर काम समय पर पूरे होते जाएंगे। विद्यार्थियों तथा युवाओं को इंटरव्यू व करियर संबंधी परीक्षा में सफलता की पूरी संभावना है। इसलिए...

और पढ़ें