जयपुर जिला प्रमुख में किरकिरी, प्रधान में कांग्रेस का दबदबा:कांग्रेस ने 22 पंचायत समितियों में से 13 जीतीं, 9 पर भाजपा ने मारी बाजी; दूदू में बहुमत के बाद भी नहीं बना भाजपा का प्रधान

जयपुरएक महीने पहले
  • कॉपी लिंक
फागी पंचायत समिति में प्रधान बनने के बाद प्रेम देवी को बधाई देते दूदू के पूर्व विधायक प्रेमचंद बैरवा। - Dainik Bhaskar
फागी पंचायत समिति में प्रधान बनने के बाद प्रेम देवी को बधाई देते दूदू के पूर्व विधायक प्रेमचंद बैरवा।

जयपुर जिले की 22 पंचायत समितियों में प्रधान पद के लिए सोमवार को मतदान हुआ। जिला प्रमुख में कांग्रेस की किरकिरी होने के बाद कांग्रेस प्रधान के चुनाव में लाज बचाने में कामयाब रही। 22 में से 13 पंचायत समितियों में कांग्रेस ने अपने सिंबल पर प्रधान बनाया, जबकि 9 पर भाजपा ने जीत दर्ज की। बोर्ड की स्थिति देखें तो 4 सितम्बर को आए परिणाम में कांग्रेस के पास 8 पंचायत समितियों में बहुमत मिला था, जबकि भाजपा को 5 पंचायत समितियों में। 9 समितियां ऐसी थीं, जिसमें न तो कांग्रेस को बहुमत मिला और न ही बीजेपी को। यहां निर्दलीय व अन्य पार्टी से जीतकर आए सदस्यों के दम पर भाजपा और कांग्रेस ने अपने-अपने प्रधान बनाए।

दूदू में बहुमत हासिल करके भी हारी

पंचायत समिति फागी, माधोराजपुरा, मौजमाबाद और कोटखावदा में बहुमत के दम पर भाजपा ने अपने प्रधान तो बना लिए, लेकिन दूदू में बहुमत हासिल करने के बाद भी भाजपा प्रधान नहीं बना सकी। यहां गहलोत समर्थित विधायक बाबूलाल नागर ने कांग्रेस को जीत दिलाकर अपनी हार को कुछ हद तक कवर करने का प्रयास किया। इसके अलावा, भाजपा ने जालसू, आमेर, पावटा, चाकसू और गोविंदगढ़ में भी अपना प्रधान बनाया है। जालसू और गोविंदगढ़ में भाजपा सबसे बड़ी पार्टी बनकर आई थी। आमेर और पावटा में कांग्रेस और बीजेपी दोनों के बराबर-बराबर सदस्य जीतकर आए थे। यहां भाजपा ने बाजी मार ली। चाकसू में कांग्रेस सबसे बड़ी पार्टी बनी थी, लेकिन वहां भी भाजपा ने जीत दर्ज की।

कांग्रेस ने इन पंचायत में हासिल की जीत

कांग्रेस ने सांभारलेक, किशनगढ़, सांगानेर, जमवारामगढ़, बस्सी, जोबनेर, झोटवाड़ा और विराटनगर में बहुमत हासिल करते हुए अपना प्रधान बनाया। आंधी, तूंगा, शाहपुरा, कोटपूतली और दूदू में भी कांग्रेस ने जीत हासिल की है। कोटपूतली में भाजपा सबसे बड़ी पार्टी थी, लेकिन वहां निर्दलीयों ने भाजपा का गणित बिगाड़ दिया।

पंचायत समिति (कुल वार्ड)कांग्रेस प्रत्याशीबीजेपी प्रत्याशीनिर्दलीयविजयी
जालसू (25)जयराम कुमावतहरदेव यादवभाजपा
आमेर (23)रोशन लाल बुनकरबद्रीनारायणभाजपा
कोटपूतली (27)नेहामीनाक्षीकांग्रेस
विराट नगर (25)बूंदीप्रियंका चौधरीकांग्रेस
पावटा (23)प्रियंका यादवपूजा चौधरीभाजपा
शाहपुरा (23)मंजू देवी शर्मा-कौशल्या गुर्जरकांग्रेस
झोटवाड़ा (17)रामनारायण झाझडारामफूल चौधरीकांग्रेस
जोबनेर (17)शैतान सिंह मेहरड़ारमेशकांग्रेस
बस्सी (27)इंदिरा देवी शर्मासुमन देवीकांग्रेस
कोटखावदा (15)डालूराम मीणाप्रहलाद मीणाभाजपा
तूंगा (17)कृष्णावतारगंगा सहाय मीणाकांग्रेस
मौजमाबाद (17)-उगन्त कुमारीभाजपा
जमवारामगढ़ (27)रामफूल गुर्जरसुमन मीणाकांग्रेस
आंधी (19)मानसी मीणासंज्या मीणाकांग्रेस
चाकसू (15)गुलाबउगन्ता देवीभाजपा
सांगानेर (15)भंवर कंवरभारती चौधरीकांग्रेस
माधोराजपुरा (15)कजोड़अभिषेक गोठवालभाजपा
फागी (15)संतोष कंवरप्रेम देवीभाजपा
किशनगढ़-रेनवाल (19)संतोष वर्मासरोज सेवलकांग्रेस
सांभरलेक (19)सहदेव गुर्जरमन्दराजकांग्रेस
दूदू (15)रवि चौधरीसरिता कंवरकांग्रेस
गोविंदगढ़ (31)कैलाश चंद यादवरामस्वरूप यादवभाजपा

ये भी पढ़ें...

जयपुर में कांग्रेस का बहुमत हारा, जोधपुर में जीता:जिला प्रमुख चुनाव में कांग्रेस से चुनाव जीतीं रमा देवी बीजेपी से जिला प्रमुख बनीं, जोधपुर में लीला मदेरणा, भरतपुर से जगत सिंह जीते

जयपुर जिला प्रमुख चुनावों में भारी हंगामा:जिला परिषद के बाहर हंगामा कर रहे कांग्रेस कार्यकर्ताओं पर लाठीचार्ज, पहले धक्का मुक्की की फिर बीजेपी की बस पर मुक्के बरसाए

जयपुर-जोधपुर में कांग्रेस का गेम पलटा:पूर्व सांसद जाखड़ की बेटी को टिकट नहीं मिला तो बगावत, जयपुर में बीजेपी ने कांग्रेस से जीती रमा देवी को बनाया प्रत्याशी

25% नेता अनपढ़:जयपुर पंचायत चुनाव के 445 सदस्यों में से 113 बस साइन करना जानते हैं, BA-MA के साथ इंजीनियर और MBA भी बने सदस्य

जयपुर जिला प्रमुख चुनाव में हार पर कांग्रेस हाईकमान नाराज:क्रॉस वोटिंग के लिए पायलट समर्थक वेदप्रकाश सोलंकी को जिम्मेदार बता कार्रवाई की सिफारिश, सोलंकी बोले-स्थानीय कांग्रेस नेताओं ने हरवाया

खबरें और भी हैं...