पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

‘आयुष-64’ बनी उम्मीद की किरण:‘आयुष-64’ से कोरोना संक्रमित 6 से 8 दिन में पॉजिटिव से निगेटिव

जयपुरएक महीने पहले
  • कॉपी लिंक

कोरोना संकट से जूझ रहे मरीजों के लिए ‘आयुष-64’ उम्मीद की किरण बनी है। जिन संक्रमित मरीजों ने आयुष-64 का सेवन किया, उनकी 6 से 8 दिन में ही जांच रिपोर्ट पॉजिटिव से नेगेटिव आने के साथ मरीज जल्द रिकवर हुए। साथ ही डायबिटिज कंट्रोल करने में भी कारगर साबित हो रही है।

देशभर में अब तक 40 हजार से अधिक मरीजों को आयुष-64 देने के बाद किसी तरह का साइड इफेक्ट का मामला सामने नहीं आया। दवा के सेवन के बाद मरीजों में चिंता, नींद, कमजोरी और थकान से भी अाराम मिला। यह खुलासा आयुष मंत्रालय की ओर से लखनऊ, वर्धा, मुम्बई समेत देशभर के विभिन्न संस्थानों में किए गए अध्ययन में हुआ है। इससे पहले भी आयुष मंत्रालय ने इम्यूनिटी बढ़ाने वाले आयुष क्वाथ से भी मरीजों को काफी फायदा मिला।

खबरें और भी हैं...