पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

बहुत हुई ढिलाई, अब सख्ती:जयपुर में होम क्वारेंटाइन के नियम तोड़े तो सरकारी सेंटर में बिताने पड़ेंगे 14 दिन, नियमों का उल्लंघन किया तो दुकानें होंगी सीज

जयपुरएक महीने पहले
  • कॉपी लिंक
जयपुर में आगरा रोड बगराना स्थित सरकारी क्वारैंटाइन सेंटर। (फाइल फोटो) - Dainik Bhaskar
जयपुर में आगरा रोड बगराना स्थित सरकारी क्वारैंटाइन सेंटर। (फाइल फोटो)

कोरोना संक्रमण को कंट्रोल करने के लिए अब प्रशासन ने सख्ती शुरू कर दी है। राजधानी जयपुर में अब किसी संक्रमित ने होम क्वारेंटाइन के नियम तोड़े तो उसे तुरंत सरकारी सेंटर में शिफ्ट कर दिया जाएगा। वहीं पर संक्रमित को निगरानी में क्वारेंटाइन में रखा जाएगा। जयपुर में सोमवार को कलेक्टर अंतर सिंह नेहरा ने अधिकारियों के साथ बैठक की। इसमें सभी को सख्ती बरतने के निर्देश दिए हैं।

कोरोना की दूसरी लहर से निपटने की तैयारी:हेल्थ मिनिस्टर डॉ. शर्मा बोले- राजस्थान में एक लाख कोरोना जांच प्रतिदिन की क्षमता विकसित करेगी सरकार

बैठक के बाद मीडिया से बात करते हुए कलेक्टर नेहरा ने कहा कि अक्सर शिकायत मिल रही है कि कुछ लोग पॉजिटिव होने के बाद होम क्वारेंटाइन तो हो गए, लेकिन नियमों का पालन नहीं कर रहे। वे जगह-जगह घूम रहे हैं और दूसरे लोगों के लिए खतरा बन रहे हैं। ऐसे लोगों पर सख्ती के लिए निर्णय लिया है कि जो व्यक्ति संक्रमित होने के बाद भी क्वारेंटाइन का नियम तोड़ते पकड़ा गया तो उसे आगरा रोड बगराना में बनाए गए सरकारी क्वारेंटाइन सेंटर में शिफ्ट कर दिया जाएगा। उसे 14 दिन तक वहीं पर निगरानी में रखा जाएगा।

नाइट कर्फ्यू के समय में बदलाव की जरूरत नहीं
कलेक्टर ने कहा कि जयपुर में रोजाना कोरोना के केस तेजी से बढ़ रहे हैं। अब इन्हें कंट्रोल करने का एकमात्र उपाय केवल सख्ती है। उन्होंने बताया कि फिलहाल नाइट कर्फ्यू के समय में परिवर्तन की कोई आवश्यकता नहीं दिख रही। अगर फिर भी जरूरत पड़ेगी तो पुलिस आयुक्त से विचार-विमर्श के बाद निर्णय किया जाएगा।

चालान और सख्ती बढ़ाने के लिए टीम उतारी
कलेक्टर ने बताया कि नगर निगम, पुलिस और इंसिडेंट कमांडर की टीम बनाई है। वह बाजार में नियमित मॉनिटरिंग करेगी। ये टीम लापरवाही बरतने वाले लोगों और व्यापारियों के खिलाफ सख्ती से एक्शन लेगी। लापरवाही बरतने वाले लोगों चालान काटे जाएंगे। अगर कोई व्यापारी नियमों का पालना नहीं करता है तो उसकी दुकान को सीज कर दिया जाएगा। इसके अलावा ये टीम शादी समारोह पर इकट्‌ठा होने वाली भीड़ पर भी निगरानी रखेगी।

जयपुर में 10 दिन में आए 1700 से ज्यादा केस
जयपुर की बात करें तो पिछले 10 दिन के अंदर केसों की संख्या में तेजी से बढ़ोतरी हुई है। आखिरी 10 दिन के अंदर जयपुर में 1737 केस मिले हैं, जो जनवरी और फरवरी के पूरे महीने में मिले केसों से अधिक हैं। जनवरी में जयपुर में 1669 केस, जबकि फरवरी में 621 नए केस मिले थे।

खबरें और भी हैं...

आज का राशिफल

मेष
Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
मेष|Aries

पॉजिटिव- सकारात्मक बने रहने के लिए कुछ धार्मिक और आध्यात्मिक गतिविधियों में समय व्यतीत करना उचित रहेगा। घर के रखरखाव तथा साफ-सफाई संबंधी कार्यों में भी व्यस्तता रहेगी। किसी विशेष लक्ष्य को हासिल करने ...

और पढ़ें