रोक:वास्तु श्री सोसायटी के आवंटित भूखंडों के नियमन पर कोर्ट ने लगाई रोक

जयपुरएक महीने पहले
  • कॉपी लिंक

जयपुर मेट्रो-प्रथम की एडीजे कोर्ट-10 ने पीआरएन इलाके में सांगानेर तहसील के मांग्यावास गांव में वास्तु श्री की जमीन व गृह निर्माण सहकारी समिति द्वारा आवंटित भूखंडों के नियमन पर जवाब आने तक रोक लगा दी है। कोर्ट ने यह आदेश खेमराज बनाम मीणावाला गृह निर्माण सहकारी मामले में दायर अस्थाई निषेधाज्ञा प्रार्थना पत्र पर दिया। दरअसल जेडीए शुक्रवार को ही वास्तु श्री योजना में नियमन की कार्रवाई भी कर रहा है।

वादी के अधिवक्ता पुरुषोत्तम शर्मा ने बताया कि उन्होंने जेडीसी व जोन कमिश्नर को कोर्ट के स्टे आदेश की सूचना भेज दी है। प्रार्थना पत्र में कहा था कि वादी ने अपने स्वामित्व की जमीन को मीणावाला गृह निर्माण सहकारी समिति को 6 अगस्त 1996 के इकरारनामे के जरिए विक्रय किया था। लेकिन समिति ने विवादग्रस्त जमीन की पूरी राशि का भुगतान नहीं किया है और जेडीए नक्शा कर इसके नियमन की कार्रवाई कर रहा है।

खबरें और भी हैं...