दहशत फैलाने,रिकवरी के लिए मंगा रहे बदमाश हथियार:​​​​​​​सीएसटी ने खरीदने और दो बेचने वालों सहित तीन को पकड़ा,गोल्डी से रिकवरी के लिए मांगाए हथियार

जयपुर5 महीने पहले

जयपुर कमिश्नरेट की सीएसटी टीम ने दो हथियार तस्करों सहित खरीदने वालो को गिरफ्तार किया है। यह हथियार आरोपी ने दहशत फैलाने और 2करोड़ रुपए की रिकवरी के लिए मंगवाए गये थे। पुलिस ने मोती डूंगरी थाना निवासी मुस्तकीम उर्फ सिराजुद्दीन को अवैध हथियार खरीदने और मधुरा यूपी निवासी अब्दुल फरीद और हारून शाह को मथुरा से जयपुर हथियार लेकर आने और बेचने के मामले में गिरफ्तार किया है। गिरफ्तार आरोपियों से 1 रिवाल्वर,1 देशी कट्टा एवं 5 जिन्दा कारतूस बरामद किए हैं। सीएसटी को इनपुट मिला था कि जयपुर में बड़े हथियारों की डीलिंग होने वाली है। जिस पर टीम को एक्टिव करते हुए फिल्ड में लगाया। इस दौरान यूपी अब्दुल फरीद और हारून शाह को हथियार बेचते हुए गिरफ्तार किया गया। हथियार खरीदने वाले जयपुर निवासी मुस्तकीम उर्फ सिराजुद्दीन ने पूछताछ में बताया कि खोहनागोरियान निवासी वकील हाजी ने 2बीघा जमीन से उसका हिस्सा नहीं दिया जिसके कारण वह फायरिंग कर उसे डराना चाह रहा था। वहीं जसविन्दर सरदार जो मालवीय नगर में रहता है जिसका राजापार्क जयुपर में बिल्डिंग लाईन का कार्य करता है, जो गोल्डी सरदार (राजापार्क) से पुराने मामले के 04 करोड रूपये मांगता है, जिसका गोल्डी सरदार हिसाब-किताब नहीं कर रहा था। उक्त हिसाब की रिकवरी करने के लिए जसविन्दर ने मुझे जिम्मा दिया था। जिसमें मेरा हिस्सा 02 करोड रूपये था। आरोपी मुस्तकीम द्वारा गोल्डी सरदार से हिसाब करवाना चाहा रहा था, जिसका बबला सरदार गोल्डी का पक्ष लेकर हिसाब नहीं होने दे रहा था। इसलिए मैने बबला सरदार पर भी फायरिंग करवानी थी। यह फायरिंग में फरीद हसनपुरा व अन्य लड़को से करवाता।