वित्तीय संकट:बिजली कंपनियों के खर्चों में कटौती; केबल, ट्रांसफार्मर और मेटेरियल मैनेजमेंट गड़बड़ाया

जयपुरएक महीने पहले
  • कॉपी लिंक
एक दूसरे सर्किल व डिविजन से उधार मांग कर काम चलाया जा रहा है। - Dainik Bhaskar
एक दूसरे सर्किल व डिविजन से उधार मांग कर काम चलाया जा रहा है।

सरकारी बिजली वितरण कंपनियों में वित्तीय संकट का खामियाजा अब किसानों व उपभोक्ताओं को भुगतना पड़ रहा है। डिस्कॉम में मेटेरियल व मेंटेनेंस के खर्चे में कटौती करने के बाद फील्ड में ट्रांसफार्मर, केबल, पोल सहित अन्य सामान का मैनेजमेंट गड़बड़ा गया है। अब एक दूसरे सर्किल व डिविजन से उधार मांग कर काम चलाया जा रहा है।

वहीं कृषि कनेक्शन लगाने में भी दिक्कत आ रही है। मामला ऊर्जा मंत्री बीडी कल्ला तक पहुंचाने के बाद चीफ इंजीनियरों को मॉनिटरिंग में लगाया है। प्रदेश की जयपुर, जोधपुर व अजमेर डिस्कॉम का वित्तीय घाटा करीब 90 हजार करोड़ रुपए है।

उपलब्ध वित्तीय संसाधनों के जरिए बेहतर काम करने का प्रयास किया जा रहा है। जहां पर ट्रांसफार्मर व दूसरे मेटेरियल की कमी की शिकायतें आ रही हैं, वहां पर सीई को भेजकर दिखवाया जा रहा है। कृषि कनेक्शन रबी बुआई से पहले जारी करेंगे।
-बीडी कल्ला, ऊर्जा मंत्री

खबरें और भी हैं...