भास्कर बिग एक्सपोज:मुंबई से जयपुर बिना बिल जेम्स-ज्वेलरी की रोज नॉन स्टॉप उड़ानें; भास्कर ने पकड़वाई 96 लाख रुपए की टैक्स चोरी

जयपुरएक वर्ष पहलेलेखक: संदीप शर्मा
  • कॉपी लिंक
एयरपोर्ट के बाहर एसडीआरआई टीम ने एक कूरियर वाले को पकड़ा, फिर पास खड़े दूसरे को भी दबोच लिया। - Dainik Bhaskar
एयरपोर्ट के बाहर एसडीआरआई टीम ने एक कूरियर वाले को पकड़ा, फिर पास खड़े दूसरे को भी दबोच लिया।

देशभर के एयरपोर्ट पर बिना बिल के करोड़ों का माल निकालने का खुलासा कराते हुए दैनिक भास्कर ने बुधवार को जयपुर में बड़ी कार्रवाई को अंजाम दिलाया। भास्कर की सूचना पर एसडीआरआई (स्टेट डायरेक्ट्रेट ऑफ रेवेन्यू इंटेलीजेंस) ने दो व्यक्तियों को जयपुर एयरपोर्ट के बाहर सामान सहित पकड़ लिया, जबकि चार लोग भागने में कामयाब हो गए। केवल दो लोगों से 2 करोड़ से अधिक का सोना-चांदी, डायमंड, स्टोन व मेटल पकड़ा गया। इसमें से 96 लाख रुपए का बिल ही नहीं था।

एसडीआरआई के अधिकारी भी हैरान हैं कि मुंबई और जयपुर एयरपाेर्ट पर बिना जांच के सामान कार्गो से कैसे निकल रहा है। एयरपोर्ट के कौन और कितने लोग इसमें शामिल हैं? इस बार पकड़ा गया माल किन ज्वेलर्स का है, इसका खुलासा एसडीआरआई गुरुवार को करेगी। एसडीआरआई के डीजी आनंद स्वरूप ने कहा कि मुंबई-जयपुर एयरपोर्ट से इतनी बड़ी टैक्स चोरी पहली बार पकड़ी गई है। इस सामान की वैल्यूएशन में ही 9 घंटे लग गए।

इस दौरान एसडीआरआई के साथ इनकम टैक्स और जीएसटी की टीमें भी मौजूद रहीं। एयरपोर्ट पर 7 बाइक पर 7 लोग बिना बिल का यह माल लेने पहुंचे थे। दरअसल, भास्कर को लगातार जानकारी मिल रही थी कि मुंबई से जयपुर आने वाले बुलियन (सोना-चांदी) और मेटल की बिलिंग में बड़ा घोटाला चल रहा है। कार्गो में लाए जाने वाले माल की तुलना में बिलिंग कम होती है, लेकिन एयरपोर्ट पर मौजूद जांच एजेंसियों की साठगांठ के कारण इनकी न तो मुंबई में जांच की जाती है, न जयपुर एयरपोर्ट पर। जयपुर में माल पहुंचने पर कूरियर वाले बेरोकटोक उसे ले जाते हैं। ये सामान प्रदेशभर के ज्वेलर्स को सप्लाई किया जाता है। भास्कर 7 महीने से टैक्स चोरों की चेन खंगालने में लगा था।

  • अन’फेयर एयर कार्गो; मुंबई से जयपुर एयरपोर्ट तक टैक्स चोरों की भास्कर ट्रैकिंग
  • भास्कर रिपोर्टर ने 7 महीने तक खंगाली टैक्स चोरों की चेन, 2 कूरियर पकड़वाए

प्रदेश के नामी ज्वेलर्स का माल आता है, मुंबई है मेन सप्लायर
अमूमन रोज ही नामी ज्वेलर्स का माल जयपुर एयरपोर्ट आता है और कूरियर कंपनी के कर्मचारी इस माल को लेने आते हैं। बिना बिल के यह खेल दशकों से चल रहा है। मुंबई मुख्य सेंटर बना हुआ है और यहां के एयरपोर्ट से न केवल जयपुर बल्कि दिल्ली, सूरत, हैदराबाद और कोलकाता बिना बिल के माल जाता है। ये चार राज्य ऐसे हैं, जहां मुंबई से रोज करोड़ों का माल बिना बिल के जा रहा है। बड़ा सवाल यह भी है कि एयरपोर्ट अथॉरिटी, सीआईएसएफ और कस्टम विभाग की नाक के नीचे यह सब कैसे हो पा रहा है।

सवा घंटे तक रिपोर्टर एसडीआरआई टीम को फोन पर सूचना देता रहा
भास्कर रिपोर्टर को जानकारी मिली कि 20 अक्टूबर को मुंबई से जयपुर आने वाली इंडिगो एयरलाइंस में टैक्स चोरी का माल आ रहा है। बुधवार सुबह छह बजे जैसे ही मुंबई एयरपोर्ट से माल लोड हुआ तो भास्कर रिपोर्टर ने एसडीआरआई को सूचना दी। सात बजे से रिपोर्टर लगातार फोन लाइन पर टीम से जुड़ा रहा। जयपुर एयरपोर्ट पर सुबह 8:55 बजे माल पहुंचने और बाइक सवार कूरियर तक पहुंचने तक की हर खबर भास्कर के पास थी।

सांगानेर की तरफ से कार्गो के गेट के सामने कई बाइक सवार कूरियर माल लेने पहुंचे। बाइक नंबर और कपड़ों के आधार पर एसआरडीआई टीम नजर रखे हुए थी। कार्गो से माल बाहर लाते ही टीम ने धरपकड़ शुरू कर दी। इससे वहां भगदड़ मच गई। इसका फायदा उठाकर चार कूरियर भागने में कामयाब हो गए। टीम केवल दो लोगों काे ही पकड़ सकी। इनसे दो करोड़ का माल पकड़ा गया। अन्य चार के पास से 15 करोड़ रुपए का माल होने का अंदेशा था।

इन 6 कूरियर कंपनियों का आया माल

  • न्यू अशोक पार्सल लॉजिस्टिक प्राइवेट लिमिटेड
  • नेपलॉक लॉजिस्टिक
  • जय अंबे लॉजिस्टिक
  • योगिता लॉजिस्टिक प्राइवेट लिमिटेड
  • एसएस लॉजिस्टिक
  • मां भवानी कूरियर सर्विस