ताबड़तोड़ कार्रवाई:आरपीएफ की अपराध शाखा का डिकॉय ऑपरेशन, बुक कराए एजेंट से टिकट, पकड़ा

जयपुर8 महीने पहले
  • कॉपी लिंक

रेलवे सुरक्षा बल (आरपीएफ) की अपराध शाखा इन दिनों त्योहारी सीजन में यात्रियों से कंफर्म टिकट के नाम पर दलाली करने वालों पर ताबड़तोड़ कार्रवाई कर रही है। इसी के तहत सोमवार देर शाम भी एक कार्रवाई की गई। आईपीएफ विकास मीना ने बताया कि आईजी अरोमा सिंह ठाकुर, डिप्टी सीएससी भावप्रीता सोनी और कमांडेंट यतीश मणि के निर्देश पर कार्रवाई करते हुए एक दलाल को रंगे हाथों पकड़ा गया।

देर शाम आरपीएफ का एक सिपाही फर्जी यात्री (डिकॉय) बनकर ढाबाजा रोड स्थित आरोही कंप्यूटर एंड स्टेशनरी संचालक महेंद्र कुमावत से कंफर्म अहमदाबाद का टिकट कराने की बात कही, तो उसने कहा कि वो कंफर्म टिकट बना देगा। जिसके लिए वो टिकट से अतिरिक्त दलाली लेगा। जब उससे टिकट बनाने के लिए कहा तो उसने टिकट प्रिंट करके दे दिया और करीब 1100 रुपए मांगे। इसी दौरान आरपीएफ की अन्य टीम ने उसे दबोच लिया और हिरासत में ले लिया।

जब उसकी तलाशी ली गई, तो उसमें 4531 रुपए के 4 लाइव टिकट और 3783 रुपए के 5 यूज टिकट बरामद किए। उसके यहां से 1 सीपीयू, 1 जिओ मॉडम भी बरामद किया गया। उसके खिलाफ कनकपुरा स्थित आरपीएफ चौकी पर रेल अधिनियम 143 के तहत मुकदमा दर्ज किया।

इधर, रेलवे ने 31 हजार बिना टिकट यात्रियों से वसूला 1.55 करोड़ जुर्माना

जयपुर| उत्तर पश्चिम रेलवे जयपुर मंडल के डीआरएम नरेंद्र ने त्यौहारी सीजन में ट्रेनों में बिना टिकट यात्रा रोकने के लिए सीनियर डीसीएम मुकेश सैनी, डीसीएम पूजा मित्तल, एसीएम राजेश जादौन, वीरेंद्र जोशी, सीएमआई मुकेश माथुर, मुकुट मीना, डीसीटीआई राजेंद्र शर्मा, सीटीआई समीर शर्मा को टिकट चैकिंग में सख्ती दिखाने के निर्देश दिए हैं। इसी दिशा में आदेशों की पालना करते हुए अक्टूबर में ट्रेनों और स्टेशनों पर गहन टिकट चैकिंग अभियान चलाया गया। जिसके तहत जयपुर रेल मंडल के विभिन्न रूट की 125 से अधिक ट्रेनों और करीब 20 स्टेशनों पर 31,827 यात्रियों को बिना टिकट यात्रा करते हुए और बिना बुक किए लगेज ले जाते हुए पकड़ा गया। इनसे 1.55 करोड़ का जुर्माना वसूला गया। इन 31287 प्रकरणों में से नेतराम मीना ने 1568 यात्रियों से 8.51 लाख और टीटीआई/अलवर जितेंद्र शर्मा ने 525 यात्रियों से 2.28 लाख रुपए का राजस्व प्राप्त किया।

जो कि टिकट चैकिंग में सबसे अधिक है। वहीं बिना मास्क स्टेशन और ट्रेनों में 1410 लोगों से 1.89 लाख जुर्माना वसूला गया। गौरतलब है कि इस लक्ष्य को रेलवे ने समय-समय पर 22 से अधिक स्टेशनों पर टिकट चैकिंग स्टाफ की किलेबंदी कर और छोटे-छोटे स्टेशनों स्टेशनों पर बसों से पहुंचकर अचानक यात्री ट्रेनों को रुकवाकर यात्रियों से जुर्माना वसूला गया है।

खबरें और भी हैं...