RU में कुलपति सचिवालय की छत पर चढ़े ABVP कार्यकर्ता:11 सूत्री मांगों को लेकर किया प्रदर्शन, कुलपति को बर्खास्त करने की मांग

जयपुर6 महीने पहले
कुलपति सचिवालय की छत पर चढ़ भगवा ध्वज लहराते ABVP कार्यकर्ता।

राजस्थान में छात्रसंघ चुनाव के ऐलान के साथ ही यूनिवर्सिटीज में चुनावी रंगत दिखने लगी है। गुरुवार को जयपुर की राजस्थान यूनिवर्सिटी में अखिल भारतीय विद्यार्थी परिषद ने 11 सूत्री मांगों को लेकर प्रदर्शन किया। इस दौरान प्रदर्शनकारी छात्र कुलपति सचिवालय पर चढ़ गए। जहां उन्होंने ABVP का भगवा ध्वज लहरा नारेबाजी शुरू करदी। इसके कुछ ही देर में छात्रों का विरोध बढ़ता देख मौके पर पहुंची पुलिस की टीम ने हल्का बल प्रयोग कर छात्रों को खदेड़ा।

अखिल भारतीय विद्यार्थी परिषद के राष्ट्रीय मंत्री होशियार मीणा ने कहा कि राजस्थान विश्वविद्यालय की हालत बद से बदतर हो गई है। यूनिवर्सिटी में छात्राओं से छेड़छाड़ की जाती है। क्लास वक्त पर नहीं लग रही है। विभाग बंद हो रहे हैं। इमारतें जर्जर हो गई है। जिनमें पढ़ने में भी डर लगता है। लेकिन कुलपति राजीव जैन सिर्फ कांग्रेस को खुश करने में लगे हुए हैं। ऐसे में जब तक कुलपति को नहीं हटाया जाएगा, ABVP का विरोध जारी रहेगा।

कुलपति के खिलाफ यूनिवर्सिटी में विरोध रैली निकालते छात्र।
कुलपति के खिलाफ यूनिवर्सिटी में विरोध रैली निकालते छात्र।

इन 11 समस्याओं से परेशां होकर ABVP ने किया प्रदर्शन

  1. महाराजा कॉलेज की जमीन छात्रों से छीनी जा रही है।
  2. अयोग्य, दुराचारी व्यक्ति को भौतिक विज्ञान विभाग का विभागाध्यक्ष नियुक्त कर दिया गया है।
  3. पिछले कुछ सालों में गत कई विभाग बंद कर दिये गए।
  4. हर साल अनियमित रूप से फीस वृद्धि की जा रही है।
  5. छात्रावासों की जर्जर अवस्था से आम विद्यार्थी पेरशान है।
  6. छात्रों के लिए बना नवनिर्मित पुस्तकालय भवन, विभागों और छात्रावासों के पुस्तकालय लंबे समय से बंद है।
  7. परीक्षा परिणामों में आए दिन गड़बड़ियां देखने को मिल रही है। छात्रों की बिना कॉपी जांच किये उन्हें जीरो नंबर जाता है। इसके बाद पुनःमूल्यांकन के नाम पर करोड़ों की वसूली की जा रही है।
  8. विश्वविद्यालय के महिला छात्रावासों के कैमरे बंद है। इसके साथ ही छात्रावास की छत और दीवारें गिर रही है।
  9. केन्द्रीय पुस्तकालय के पास स्थित कैंटीन लम्बे समय से बंद है।
  10. विश्वविद्यालय परिसर में ना पीने योग्य पानी है और हर स्थान दुर्गंध युक्त हो गया है।
  11. विश्वविद्यालय में अनेकों घोटाले समय-समय पर देखने को मिले हैं।