नया खतरा, रहें सावधान:डेंगू के नए स्ट्रेन डेन 2-3 सामने आए, दोगुने खतरनाक, अब तक 10 जानें ले चुके

जयपुर2 महीने पहलेलेखक: सुरेन्द्र स्वामी
  • कॉपी लिंक
कोरोना शान्त हुआ तो डेंगू घातक रूप ले रहा है। - Dainik Bhaskar
कोरोना शान्त हुआ तो डेंगू घातक रूप ले रहा है।
  • अगस्त तक 1000 केस, सितंबर के 28 दिन में ही 1800 मरीज मिले

कोरोना शान्त हुआ तो डेंगू घातक रूप ले रहा है। इसका नया स्ट्रेन ‘डेन-2’ खतरनाक साबित हो रहा है। जयपुर समेत प्रदेश में इस साल अब तक डेंगू के 2800 केस मिल चुके हैं। इनमें 1800 केस अकेले सितंबर के हैं और 10 मरीजों की यह जान ले चुका है। जबकि पिछले साल 720 डेंगू पॉजिटिव मिले थे। विशेषज्ञों ने बचाव का तरीका यही बताया है कि साफ-सफाई रखें, मच्छरों से बचें, उन्हें पनपने न दें।

एक्सपर्ट; प्लेटलेट्स घटना, बीपी बढ़ना, ब्लीडिंग घातक
सीरोटाइप-2 व 3 दोनों एक जगह मिलें तो दोगुने घातक होते हैं। इंडियन काउंसिल ऑफ मेडिकल रिसर्च के अनुसार राजस्थान, बिहार, हरियाणा, यूपी, एमपी में डेन-2 या सीरोटाइप-2 मिल रहा है। इसमें प्लेटलेट्स घटता, बीपी बढ़ता, ब्लीडिंग होती है। वायरल के 4 सीरोटाइप में डी-1, 2, 3, 4 हैं। डी-2 में तेज बुखार संग इंटर्नल ब्लीडिंग से चखत्ते पड़ सकते हैं। डी-3 में किडनी पर भी असर होता है।

हेरिटेज निगम: 8 टीमें बनाई, आज से रोजाना 6 वार्डों में फोगिंग

हेरिटेज नगर निगम क्षेत्र में डेंगू, वायरल बुखार के सर्वाधिक मरीज जलमहल, दिल्ली राेड, ईदगाह, ब्रह्मपुरी, जवाहर नगर कच्ची बस्ती में पाए गए हैं। वरिष्ठ स्वास्थ्य अधिकारी डाॅ. सोनिया अग्रवाल ने बताया कि 29 सितंबर से 18 अक्टूबर तक सभी 100 वार्डों में फोगिंग का प्लान है। इसके लिए 20 कार्मिकों की 8 टीमें बनाई हैं। ये प्रतिदिन 6 वार्डों में सुबह 7 से 8.30 बजे तक फोगिंग करेंगी।

खबरें और भी हैं...