पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

शिक्षा विभाग:आरटीई भुगतान के लिए निजी स्कूलों से शिक्षा विभाग ने मांगी ऑनलाइन पढ़ाई की डिटेल

जयपुर5 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
शिक्षा विभाग ने निजी स्कूलों से मांगी ऑनलाइन पढ़ाई की डिटेल। - Dainik Bhaskar
शिक्षा विभाग ने निजी स्कूलों से मांगी ऑनलाइन पढ़ाई की डिटेल।
  • स्कूल संचालक बोले- 15 मई तक जन अनुशासन पखवाड़े में स्कूल बंद तो कैसे भरें डिटेल, तारीख बढ़े

शिक्षा विभाग ने सत्र 2020-21 में आरटीई के तहत निजी स्कूलों में पढ़ने वाले विद्यार्थियों की पुनर्भरण राशि के भुगतान की तैयारी की है। भुगतान से पहले निजी स्कूलों से इस सत्र में पढ़ाई की डिटेल मांगी गई है कि उन्होंने ऑनलाइन पढ़ाई किस तरह से कराई। आरटीई पोर्टल पर यह डिटेल भरने के लिए 15 मई तक का समय दिया गया है। डिटेल आने के बाद शिक्षा विभाग भौतिक सत्यापन कराएगा।

आदेश में स्पष्ट कहा गया है कि इस तिथि तक डिटेल नहीं भरने के कारण पुनर्भरण राशि से वंचित रहने की स्थिति में इसकी जिम्मेदारी निजी स्कूल की होगी। निजी स्कूलों को पुनर्भरण राशि के भुगतान की तैयारी शुरू करने से राहत मिली है। लेकिन इस आदेश में उन्होंने संशोधन की मांग उठाई है।

स्कूल शिक्षा परिवार के अध्यक्ष अनिल शर्मा का कहना है कि प्रदेश में चल रहे जन अनुशासन पखवाड़े के कारण निजी स्कूल बंद है और वे 15 मई तक यह डिटेल ऑनलाइन नहीं भर सकते। शिक्षा विभाग या तो सरकार से स्कूल खोलने की अनुमति दिलाए या फिर इस तारीख को आगे बढ़ाया जाए।

ऑनलाइन के साथ वर्कबुक से पढ़ाई का बिंदु भी जोड़ा जाए

स्कूल शिक्षा परिवार ने शिक्षा मंत्री और शिक्षा निदेशक को पत्र लिखकर कहा है कि लघु और मध्यम श्रेणी के कई स्कूल ऐसे हैं जिनके अभिभावकों के पास मोबाइल ही नहीं है। इस कारण वे ऑनलाइन शिक्षा नहीं दे पाए। उन्होंने अन्य माध्यमों से पढ़ाई कराई।

इस कारण इसमें ऑनलाइन के साथ साथ ऑफलाइन और वर्कबुक से पढ़ाई कराने का बिंदू भी जोड़ा जाए। क्योंकि जिन अभिभावकों के पास मोबाइल नहीं था। उनके लिए स्कूलों ने शिक्षा विभाग के आओ घर से सीखे अभियान के तहत भी पढ़ाई कराई। साथ ही उन्होंने अपने स्तर पर भी शिक्षा आपके द्वार अभियान चलाया।

  • सत्र 2020-21 की आरटीई पुनर्भरण राशि के लिए स्कूलों से डिटेल मांग गई है। उनसे पूछा गया है कि उन्होंने ऑनलाइन पढ़ाई किस तरीके से कराई। इसके बाद विद्यार्थियों से भी इसको क्रास चैक किया जाएगा। पूरी डिटेल आने के बाद आगे की प्रक्रिया शुरू की जाएगी। - सौरभ स्वामी, निदेशक, प्रारंभिक एवं माध्यमिक शिक्षा
खबरें और भी हैं...