• Hindi News
  • Local
  • Rajasthan
  • Jaipur
  • Dispute Between Neighbors Over Firecrackers, Police Caught Both Sides, Ate Poison In The Police Station For Fear Of Arrest

FACEBOOK लाइव कर थाने के बाहर खाया जहर:आतिशबाजी को लेकर 2 पक्षों में विवाद, पुलिस ने चेताया तो थाने में करने लगा हंगामा

जयपुरएक महीने पहले
अस्पताल में भर्ती सुमित।

जयपुर में एक युवक ने फेसबुक लाइव कर पुलिस थाने के बाहर जहर खा लिया। तबीयत बिगड़ने पर पुलिस थाने में हडकंप मच गया। युवक को तुरंत कोटपूतली के बीडीएम अस्पताल ले गए। वहां से गंभीर हालत में जयपुर एसएमएस अस्पताल में रेफर कर दिया। फिलहाल युवक का इलाज चल रहा है।

कोटपूतली थानाधिकारी दिलीप सिंह ने बताया कि पटाखे चलाने को लेकर बालाजी कॉलोनी में पड़ोसियों के बीच शुक्रवार को गोवर्धन पूजा के दौरान कहासुनी हो गई। झगड़े की सूचना पर पुलिस मौके पर पहुंची और दोनों पक्षों को कोटपूतली थाने ले आई। पुलिस ने झगड़ा करने पर दोनों पक्षों को गिरफ्तार करने की बात कही। पिता को गिरफ्तार होने की बात सुनकर सुमित चौधरी (23) निवासी बालाजी कालोनी, गौशाला रोड थाने में हंगामा करने लगा। उसने फेसबुक पर लाइव शुरू कर दिया। वह जेब में रखकर जहर की डिब्बी लाया था।

युवक के हाथ में जहर की डिब्बी।
युवक के हाथ में जहर की डिब्बी।

पिता की गिरफ्तारी के डर से उसने पहले फेसबुक लाइव किया। इसके बाद सल्फास की गोलियां खा लीं। सल्फास की गोली खाते देखकर पुलिस थाने में हडकंप मच गया। गोली उसके गले में ही अटक गई। थाने में सल्फास खाने पर पुलिसकर्मी घबरा गए। उसे पुलिसकमियों ने पकड़ लिया और डिब्बी छीन ली। इसके बाद उसे उल्टियां होने लग गईं। युवक को तुरंत उसे बीडीके अस्पताल में पुलिसकर्मी लेकर पहुंचे। वहां पर उपचार शुरू किया गया। पेट से अवशेष पदार्थ निकाला गया। तत्पश्चात उसे तुरंत जयपुर रेफर कर दिया गया। उसकी हालत स्थिर बताई जा रही है। पुलिस थाने में सुसाइड के प्रयास को लेकर मामले की जांच कर आगे की कार्रवाई करेगी।

दाे साल से बेरोजगार

युवक प्राइवेट स्कूल में टीचर था। कोरोना के बाद से वह बेरोजगार चल रहा है। गोवर्धन पूजा के दिन दोनों पक्षों में विवाद के बाद सुमित भी थाने पहुंचा। यहां उसने फेसबुक लाइव कर दिया। इस दौरान पीछे एक लड़की की आवाज आ रही है और युवक उससे पूछ रहा है कि क्या हुआ। इस पर जवाब मिलता है कि गिरफ्तार कर रहे हैं। सुमित कहता है कि मैं बताता हूं कैसे गिरफ्तार करते हैं? इसके बाद वह सल्फास खा लेता है।

अक्सर होता है झगड़ा
थानाधिकारी दिलीप सिंह का कहना है कि दोनों पक्षों के बीच में अक्सर झगड़ा होता है। दोनों के मकान एक ही दीवार से सटे हुए हैं। दो साल पहले भी विवाद हुआ था। पुलिस ने मामले में एफआर लगा दी थी। इसके बाद भी छोटी-छोटी बातों में झगड़ा होता रहता है। गोवर्धन पूजा के दिन भी आतिशबाजी को लेकर दोनों पक्षों में विवाद हुआ था।

खबरें और भी हैं...