पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें
  • Hindi News
  • Local
  • Rajasthan
  • Jaipur
  • Doctor Sudeep And Doctor Seema Gupta Murder Case In Bharatpur Rajasthan At 28 May Deepa Gurjar's Brother Anuj Revange Of His Sister Death Two Year Ago In Villa

बदले की आग का नतीजा है डॉक्टर दंपती हत्याकांड:लपटों में घिरी बहन और भांजे को बचाने में झुलसा था हत्यारोपी, जिंदगी नहीं बचा सका तो 2 साल बाद रची डॉक्टर दंपती के खात्मे की साजिश

भरतपुर/जयपुर4 महीने पहलेलेखक: विष्णु शर्मा
  • कॉपी लिंक
2 साल पहले इसी आग में दीपा और शौर्य की जलकर मौत हो गई थी। - Dainik Bhaskar
2 साल पहले इसी आग में दीपा और शौर्य की जलकर मौत हो गई थी।

भरतपुर शहर में नीम दा गेट के पास शुक्रवार शाम 5 बजे दो युवकों ने सरेराह नामी डॉक्टर सुदीप गुप्ता और उनकी पत्नी डॉक्टर सीमा गुप्ता की ताबड़तोड़ गोलियां बरसाकर हत्या कर दी। वारदात के बाद बेखौफ बदमाश ने हवा में पिस्तौल लहराई। हवाई फायरिंग भी की और बाइक को धक्का मारकर स्टार्ट करने के बाद अपने साथी के साथ आसानी से भाग निकला। CCTV फुटेज में एक युवक की पहचान अनुज गुर्जर और दूसरे की पहचान उसके रिश्तेदार महेश के रूप में हुई है।

नीमदा इलाके में 28 मई की शाम को डॉक्टर दंपती की हत्या करते हुए बाइक सवार बदमाश
नीमदा इलाके में 28 मई की शाम को डॉक्टर दंपती की हत्या करते हुए बाइक सवार बदमाश

बदले की कहानी

बदले की आग ऐसी भड़की कि सरेआम 2 लाशें बिछा दी गईं। दो साल पहले लाखों रुपए कीमत के एक विला (मकान) में जिंदा जलाकर मार दी गई दीपा गुर्जर (25) और उसके 10 साल के बेटे शौर्य की मौत के तार इस दोहरे हत्याकांड से जुड़े हैं। भरतपुर पुलिस के मुताबिक, हत्या में शामिल अनुज गुर्जर (23) आग में जिंदा जलकर मरी दीपा गुर्जर उर्फ रिया गुर्जर का भाई है। वह अभी फरार है।

इस विला में आग लगने से हुई थी दीपा गुर्जर और उसके बेटे की मौत।
इस विला में आग लगने से हुई थी दीपा गुर्जर और उसके बेटे की मौत।

लपटों से घिरी दीपा ने भाई अनुज को फोन कर बुलाया था
7 नवंबर 2019 को आलीशान विला में आग की लपटों के बीच घिरी दीपा गुर्जर ने अपने छोटे भाई अनुज को मदद के लिए फोन किया था। भरतपुर शहर में नीमदा गेट इलाके से अपनी बाइक तेजी से दौड़ाते हुए अनुज सूर्या सिटी स्थित डॉक्टर सुदीप गुप्ता के विला पर पहुंचा। वहां सैंकड़ों की भीड़ में दोनों डॉक्टर दंपती भी मौजूद थे। इस बीच अनुज ने आग की लपटों से घिरी बहन दीपा और भांजे शौर्य को बचाने के लिए कंबल ओढ़कर घर में घुसने का प्रयास किया। लेकिन वह नाकाम रहा। बहन और भांजे की जिंदगी बचाने की कोशिश में अनुज खुद भी झुलस गया। तब उसे जयपुर के सवाई मानसिंह अस्पताल में उपचार के लिए रेफर किया गया। यहां कुछ दिनों बाद रिकवर होने पर वह घर लौट गया।

2 साल पहले जिंदा जलाकर मारे गए दीपा गुर्जर और उसका बेटा शौर्य। (फाइल फोटो)
2 साल पहले जिंदा जलाकर मारे गए दीपा गुर्जर और उसका बेटा शौर्य। (फाइल फोटो)

अनुज ने बदले की आग में डॉक्टर सुदीप और उनकी पत्नी डॉक्टर सीमा को मौत देने की ठान ली। जेल से जमानत पर बाहर आने पर वह डॉक्टर दंपती की रेकी करने लगा। आखिरकार उसने 28 मई की शाम 5 बजे अपने साथी महेश के साथ बाइक लेकर डॉक्टर सुदीप गुप्ता की कार का पीछा किया। तब डॉक्टर दंपती कार से श्री राधा चौराहे की तरफ जा रहे थे। तभी नीमदा गेट इलाके में ही अनुज ने बाइक आगे लगाकर कार को रुकवाया और डॉक्टर पति पत्नी की गोलियों से भून डाला।

डॉक्टर सुदीप और उनकी पत्नी की सरेआम हत्या के बाद बेखौफ बदमाश हवाई फायरिंग कर बाइक से भाग निकले।
डॉक्टर सुदीप और उनकी पत्नी की सरेआम हत्या के बाद बेखौफ बदमाश हवाई फायरिंग कर बाइक से भाग निकले।

आपसी तकरार के बाद डॉ. सीमा ने लगा दी थी विला में आग
आपको बता दें कि डॉ. सुदीप और उनके अस्पताल में रिसेप्शनिस्ट रही दीपा गुर्जर के बीच अवैध संबंधों का पता चलने पर 7 नवंबर 2019 को डॉक्टर सुदीप की पत्नी डॉक्टर सीमा अपनी सास को लेकर सूर्या सिटी स्थित अपने विला पर पहुंची थी। इसी विला में डॉक्टर सुदीप ने दीपा गुर्जर को रखा हुआ था। वहां दीपा और सीमा के बीच आपसी तकरार के बाद हाथापाई हुई।

7 नवंबर 2019 को विला में आग लगने से हुई मां बेटे की मौत के बाद पुलिस घटनास्थल से ही डॉक्टर सीमा और उनके पति को पूछताछ के लिए ले गई थी
7 नवंबर 2019 को विला में आग लगने से हुई मां बेटे की मौत के बाद पुलिस घटनास्थल से ही डॉक्टर सीमा और उनके पति को पूछताछ के लिए ले गई थी

बताया जा रहा है कि तब डॉक्टर सीमा अपने साथ स्प्रिट की बोतल लेकर गई थी। आपसी झगड़े में तैश में आकर डॉक्टर सीमा ने वहां फर्नीचर पर स्प्रिट छिड़क दिया। इसके बाद दीपा और उसके बेटे शौर्य को कमरे में बंद कर आग लगा दी। इससे दोनों की जिंदा जलकर मौत हो गई। मां व बेटे के शव घर में बनी रसोई में मिले थे।

भरतपुर में डॉक्टर दंपती की हत्या की अनकही कहानी:बहन और भांजे को जिंदा जलाने के आरोप में जेल से जमानत पर छूटे थे डॉक्टर दंपती, प्रेमिका का भाई जब भी इन्हें देखता खून खौल उठता, इसलिए दोनों को मार डाला

खबरें और भी हैं...