• Hindi News
  • Local
  • Rajasthan
  • Jaipur
  • Dotasara Said It Is A Crime To Ask Questions To The Prime Minister Of The Country, Raghuvir Meena Said, Modi's Vaccine Diplomacy Has Become A Disaster For The Country.

वैक्सीन पोस्टर वॉर में कूदे राजस्थान के कांग्रेस नेता:डोटासरा बोले- देश के प्रधानमंत्री से सवाल पूछना ही गुनाह हो गया क्या, रघुवीर मीणा ने कहा- मोदी की वैक्सीन डिप्लोमेसी देश के लिए डिजास्टर बन गई

जयपुर8 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
रघुवीर मीणा, गोविंद सिंह डोटासरा, प्रतापसिंह खाचरियावास और गणेश घोघरा। - Dainik Bhaskar
रघुवीर मीणा, गोविंद सिंह डोटासरा, प्रतापसिंह खाचरियावास और गणेश घोघरा।
  • कांग्रेस प्रदेशाध्यक्ष सहित कई नेताओं ने दिल्ली का पोस्टर शेयर कर खुद को गिरफ्तार करने की चुनौती दी, सोशल मीडिया पर चलाया अभियान

कोरोना की दूसरी लहर आने से पहले देश से बाहर भेजी गई वैक्सीन पर दिल्ली के बाद अब राजस्थान में भी सियासत तेज हो गई है। वैक्सीन पोस्टर वॉर में राजस्थान कांग्रेस के नेता भी कूद पड़े हैं। दिल्ली में वैक्सीन बाहर भेजने पर पीएम मोदी से सवाल पूछने वाले पोस्टर लगाने वालों को गिरफ्तार करने के बाद ​राहुल गांधी ने इसका विरोध किया। इसके बाद राजस्थान कांग्रेस के नेता भी सक्रिय हो गए। कांग्रेस नेताओं ने अपने सोशल मीडिया अकाउंट की डीपी पर भी दिल्ली वाला पोस्टर लगा रखा है। कांग्रेस नेताओं ने केंद्र सरकार और पीएम मोदी पर जमकर हमला बोला है।

कांग्रेस नेताओं ने सोशल मीडिया पर पोस्टर वॉर पर अभियान चला रखा है। कांग्रेस प्रदेशाध्यक्ष गोविंद सिंह डोटासरा, परिवहन मंत्री प्रतापसिंह खाचिरयावस, कांग्रेस कार्य समिति सदस्य रघुवीर मीणा, एआईसीसी सचिव धीरज गुर्जर, यूथ कांग्रेस प्रदेशाध्यक्ष गणेश घोघरा, पूर्व नेता प्रतिपक्ष रामेश्वर डूडी सहित कई कांग्रेस नेताओं ने दिल्ली वाले पोस्टर को अपनी डीपी बनाया है और मोदी पर सवाल उठाते हुए गिरफ्तार करने की चुनौती दी है।

PM पर निशाना
कांग्रेस प्रदेशाध्यक्ष गोविंद सिंह डोटासरा ने केंद्र और PM पर निशाना साधते हुए कहा- हम शुरू से ही कहते आए हैं कि केंद्र में बैठे लोगों, भाजपा के नेताओं का लोकतांत्रिक मूल्यों परंपराओं में कतई विश्वास नहीं है। प्रधानमंत्री से सवाल पूछना ही गुनाह हो गया क्या? प्रधानमंत्री से इतना सा ही तो पूछा है कि हमारे बच्चों की वैक्सीन बाहर क्यों भेज दी? इतनी सी बात पर दिल्ली में ताबड़तोड़ गिरफ्तारियां शुरू हो गईं। इतना अहंकार ठीक नहीं है। मोदीजी और भाजपा याद रखे, जिस जनता ने आपको सर्वोच्च पद पर बैठाया है और अब यही जनता आपको जमीन दिखाएगी। इसके लक्षण दिखने शुरू हो गए हैं। जो सरकार सवालों से ही डर जाए समझ लो उसकी उलटी गिनती शुरू हो चुकी है। वैक्सीन के मामले में केंद्र सरकार से चूक हुई है। उसे मान लेना चाहिए। दुनिया के देश दूसरी लहर से निपटने की तैयारी कर रहे थे और हम उस वक्त भविष्य की परवाह किए बिना करोड़ों डोज विदेश भेज रहे थे। इस चूक पर माफी मांगने के बजाय सवाल पूछने वालों को ही गिरफ्तार करना शुरू कर दिया। हिम्मत है तो हमें भी गिरफ्तार करके दिखाएं।

गलती नहीं मान रहे
कांग्रेस कार्य समिति (CWC) सदस्य रघुवीर मीणा ने कहा- देश के प्रधानमंत्री 100 साल आगे की सोचते रहे हैं, लेकिन मोदीजी 100 दिन आगे की भी नहीं सोच पाए। वैक्सीन डिप्लोमसी के नाम पर कोरोना की दूसरी लहर से ठीक पहले करोड़ों डोज वैक्सीन विदेश भेजते रहे, जबकि एक्सपर्ट लगातार चेता रहे थे कि दूसरी वेव आएगी और वह घातक होगी। वैक्सीन डिप्लोमेसी देश के लिए डिजास्टर साबित हो गई लेकिन मोदीजी यह मानने को तैयार नहीं हैं।

कुर्सी ले भी सकता है

परिवहन मंत्री प्रतापसिंह खाचरियावास ने कहा- मोदीजी अगर वैक्सीन के 6 करोड़ 91 लाख डोज विदेश नहीं भेजते तो आज देश की बड़ी नौजवान आबादी सुरक्षित हो जाती। केंद्र सरकार की गलत नीतियों और झूठ-फरेब की राजनीति के कारण देश में लाशों के ढेर लगे हैं। पहले वैक्सीन के पैसे मांग लिए। अब राज्य सरकारें पैसा देने को तैयार है तो वैक्सीन नहीं है। केंद्र ने देश के साथ धोखा किया। अब तो लोकतंत्र की हत्या हो रही है। सवाल करने वालों को जेल भेजा जा रहा है। इन हरकतों से देश डरेगा नहीं। देश का नौजवान लड़ेगा। इस लड़ाई में सरकार की हार तय है। जो नौजवान कुर्सी दे सकता है, वह कुर्सी ले भी सकता है।

मोदीजी, किस-किस को गिरफ्तार करवाओगे
यूथ कांग्रेस प्रदेशाध्यक्ष गणेश घोघरा ने कहा- आज देश के हर नागरिक के मन में यही सवाल है कि हमारे बच्चों की वैक्सीन बाहर क्यों भेज दी? मोदीजी किस किसको गिरफ्तार करेंगे। सबके मन में यही सवाल है। पूरे देश के नागरिकों को गिरफ्तार करेंगे क्या? कोरोना से पीड़ित लोगों को राहत देने की बजाय पीएम मोदी से सवाल पूछने वालों को गिरफ्तार करके केंद्र सरकार अपना लोकतंत्र विरोधी फासीवादी चरित्र दिखा रही है। देश की जनता सब देख रही है।

खबरें और भी हैं...