पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें
  • Hindi News
  • Local
  • Rajasthan
  • Jaipur
  • Dotasara Said On The Question Of Dhariwal Not Obeying The Order Of The State President Senior People In Congress Follow Protocol More, This Was Followed In The Cabinet Meeting

राजस्थान कांग्रेस का अनोखा प्रोटोकॉल:धारीवाल के प्रदेशाध्यक्ष का आदेश नहीं मानने के सवाल पर बोले डोटासरा- कांग्रेस में सीनियर लोग प्रोटोकॉल का ज्यादा ही पालन करते हैं, कैबिनेट बैठक में यही फॉलो हुआ

जयपुर2 महीने पहले
  • कॉपी लिंक

सरकार के हैवीवेट मंत्री शांति धारीवाल का कांग्रेस प्रदेशाध्यक्ष के आदेशों को मानने से साफ इनकार करना सियासी हलकों में चर्चा का विषय बन गया है। इस मुद्दे पर कांग्रेस प्रदेशाध्यक्ष गोविंद सिंह डोटासरा के बयान की भी उतनी ही चर्चा है। पीसीसाी में प्रेस कॉन्फ्रेंस के दौरान डोटासरा से जब पूछा गया कि प्रदेशाध्यक्ष के आदेशों के बावजूद जयपुर के प्रभारी मंत्री धारीवाल ने जयपुर में फ्री वैक्सीनेशन पर प्रेस कॉन्फेंस नहीं की, इस पर डोटासरा ने कहा- जयपुर में मैं हूं ना। आप समझ गए कि प्रोटोकॉल का पालन हमारे सीनियर लोग ज्यादा करते हैं। उन्हें लगा कि जब प्रदेशाध्यक्ष और मुख्यमंत्री गर्वनर को ज्ञापन देंगे तो वह प्रेस कॉन्फ्रेंस भी करेंगे। इसलिए आज प्रेस कॉन्फ्रेंस एक ही हो सकती थी, दो नहीं हो सकती थी। ऐसे में उन्होंने प्रोटोकॉल का पालन करते हुए यह स्पेस दिया है कि प्रदेशाध्यक्ष अपनी बात रखें, कल-परसों वह सबके सामने आ जाएंगे।

कैबिनेट की बैठक में हुए झगड़े पर जब यह पूछा गया कि क्या उस बैठक में भी प्रोटोकॉल का पालन हुआ था, इस पर डोटासरा ने कहा- कैबिनेट बैठक में भी प्रोटोकॉल का पालन हुआ था। कांग्रेस में सब एक-दूसरे का सम्मान करते हैं। राजस्थान एक ऐसा उदाहरण है, जब सत्ता और संगठन मिलकर भाजपा और केंद्र सरकार को बेनकाब कर रहे हैं। कोरोना में लोगों की सेवा कर रहे हैं।
कैबिनेट की बैठक में किसी ने किसी की अथॉरिटी को चैलेंज नहीं किया
डोटासरा ने कहा- कैबिनेट बैठक में किसी ने किसी की अथॉरिटी को चैलेंज नहीं किया। अथॉरिटी में चैलेंज करने के उदाहरण देखने हैं तो भाजपा में देखें। एक बार के एमएलए को मुख्यमंत्री, दो बार के मुख्यमंत्री को कोने में बैठा दिया गया है।

राजस्थान में सत्ता और संगठन फेविकोल का जोड़ है
डोटासरा ने कहा- कांग्रेस में हम सब एक हैं। सत्ता और संगठन मिलकर राजस्थान के लोगों की सेवा कर रहे हैं। कोरोना से लोगों की जान बचा रहे हैं। हमारे यहां पारदर्शिता है। हमारे पास छुपाने को कुछ नहीं है। राजस्थान में सत्ता और संगठन फेविकोल का जोड़ है। सत्ता और संगठन का इतना समन्वय है, जिससे लोगों को लाभ मिल रहा है। यह भाजपा को नहीं पच रहा।
कैबिनेट की बैठक में भिड़े गहलोत के मंत्री:कांग्रेस प्रदेशाध्यक्ष गोविंद सिंह डोटासरा और मंत्री शांति धारीवाल ने एक दूसरे को खूब खरी-खोटी सुनाई, देख लेने तक की धमकी दी

खबरें और भी हैं...