• Hindi News
  • Local
  • Rajasthan
  • Jaipur
  • Due To A Big Political Upheaval In The Congress, The Hearts Of The Youth Garden garden, Because 50 Percent Of The Tickets Are Given To Those Below 50 Years Of Age.

भास्कर एनालिसिस:कांग्रेस में एक बड़े सियासी उलटफेर से युवाओं के दिल बाग-बाग, क्योंकि 50 फीसदी टिकट 50 से कम उम्र वालों को

जयपुर3 महीने पहलेलेखक: मनोज शर्मा
  • कॉपी लिंक
हमारे यहां असर, पिछले लोकसभा चुनाव में उतरे 25 प्रत्याशियों में 50 पार 16, अगले चुनाव तक 3 और हो जाएंगे...सिर्फ 6 ही 50 से कम उम्र वाले - Dainik Bhaskar
हमारे यहां असर, पिछले लोकसभा चुनाव में उतरे 25 प्रत्याशियों में 50 पार 16, अगले चुनाव तक 3 और हो जाएंगे...सिर्फ 6 ही 50 से कम उम्र वाले

कांग्रेस चिंतन शिविर ने सबसे बड़ी उम्मीद युवाओं में जताई है। वजह, शिविर में लिया गया सबसे बड़ा नव संकल्प। सत्ता एवं संगठन में 50 फीसदी की भागीदारी 50 साल से कम उम्र वालों को मिलेगी। सियासी तौर पर कांग्रेस का बड़ा दांव। खासकर उन हालात में जबकि, युवा पार्टी से छिटक रहा है। पुराने युवा नेता पार्टी छोड़ रहे हैं। ऐसे में युवाओं को पार्टी का यह एक बड़ा संदेश भी है।

पार्टी का यह नवसंकल्प कब से अमल में आता है, लेकिन राजस्थान के परिदृश्य में देखे तो यह बड़ा सियासी उलटफेर होगा। क्योंकि, लोकसभा चुनाव में लागू होता है तो 50 प्रतिशत के हिसाब से कम से कम 12 टिकट युवाओं को मिलेंगे। पिछले लोकसभा चुनाव के प्रत्याशियों का एनालिसिस करेंगे तो भी पाएंगे कि 25 में से 16 प्रत्याशी 50 की उम्र पार कर चुके थे।

आगामी लोकसभा चुनाव तक यानी पांच साल बाद 3 और 50 साल से ज्यादा हो जाएंगे। यानी इन 19 प्रत्याशियों को टिकट पर उम्र का असर तय है। लेकिन, किसे मिलेगा या किसका कटेगा यह तय करना आलाकमान का काम है। हां, 6 प्रत्याशी ऐसे हैं जिनकी टिकट पर संकट कम से कम उम्र की वजह से नहीं आएगा। यह 6 प्रत्याशी 50 से कम उम्र के हैं और अगले पांच साल में भी इसके दायरे में रहेंगे।

लोकसभा चुनाव-2019 में सिर्फ 6 प्रत्याशी ऐसे जो 2024 में भी 50 साल के नीचे रहेंगे
लोकसभा चुनाव-2019 में दिए गए शपथ पत्र के अनुसार गंगानगर से भरतराम मेघवाल (63), बीकानेर से मदन मोहन मेघवाल (55), चूरू से रफीक मंडेलिया (58), झुंझुनूं से श्रवण कुमार (64),सीकर से सुभाष महरिया (61), भरतपुर से अभिजीत कुमार (59), टोंक सवाई माधोपुर से नमोनारायण मीणा (75), पाली से बद्रीराम जाखड़ (69), बाड़मेर से मानवेंद्र सिंह (55), उदयपुर से रघुवीर मीणा (59), बांसवाड़ा से ताराचंद भगोरा (65), चित्तौड़गढ़ से गोपाल सिंह शेखावत (68), राजसमंद से देवकी नंदन काका (76), भीलवाड़ा ने रामपाल शर्मा (52), कोटा से रामनारायण मीणा (75) एवं दौसा से सविता मीणा (54) साल की हैं।

लोकसभा चुनाव-2024 में 3 हो जाएंगे 50 पार, संकट का दायरा
अलवर से भंवर जितेंद्र सिंह (47), नागौर से डा. ज्योति मिर्धा (47) एवं झालावाड़ से प्रमोद शर्मा (48) में 5 साल और जोड़ दिए जाए तो 2024 के चुनाव में यह 50 पार होंगे।

6 प्रत्याशी 50 से नीचे, यानी उम्र संकट नहीं
अगले लोकसभा चुनाव में भी इनकी उम्र 50 से कम ही रहेगी। जयपुर ग्रामीण से कृष्णा पूनियां (41), जयपुर से ज्योति खंडेलवाल (44), अजमेर से रिजू झुंनझुंनवाला (40), जोधपुर से वैभव गहलोत (38), जालोर-सिरोही से रतन देवासी (44) एवं करौली-धौलपुर से संजय कुमार (31) ।

खबरें और भी हैं...